Wednesday, August 4, 2021
Homeदेश-समाजपीएम केयर्स फंड से कोरोना टीकाकरण के पहले फेज के खर्च का 80% भुगतान:...

पीएम केयर्स फंड से कोरोना टीकाकरण के पहले फेज के खर्च का 80% भुगतान: दिए गए ₹2,200 करोड़

‘‘हमने टीकाकरण की आकस्मिक लागतों के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय को अतिरिक्त धनराशि प्रदान की थी। हमने टीकाकरण के तीन करोड़ बैच के लिए 480 करोड़ रुपए का अतिरिक्त आवंटन किया। बाकी करीब 2,220 करोड़ रुपए पीएम-केयर्स फंड से आएँगे।’’

पीएम-केयर्स फंड ने कोरोना वैक्सीन अभियान के पहले चरण में 2200 करोड़ रुपए का योगदान दिया है। यह टीकाकरण के पहले चरण की लागत का 80 फीसदी से अधिक है। व्यय सचिव ने मंगलवार (फरवरी 02, 2021) को यह जानकारी दी। 

इमरजेंसी परिस्थितियों में नागरिकों की सहायता और राहत के लिए प्रधानमंत्री कोष (पीएम-केयर्स) फंड कोरोना वायरस महामारी के दौरान मार्च 2020 में स्थापित किया गया था। इसमें लोगों और कंपनियों ने स्वेच्छा से योगदान किया है। 

हालाँकि, इस कोष में कितना संग्रह हुआ है, यह जानकारी साझा नहीं की गई है, लेकिन प्रधानमंत्री कार्यालय में इस कोष का प्रबंधन कर रहे लोगों का कहना है कि कोष से महामारी से प्रभावित क्षेत्रों की मदद की जा रही है।

चालू वित्त वर्ष का बजट महामारी की शुरुआत से पहले पेश किया गया था और उसमें टीकाकरण के लिए कोई अलग आवंटन नहीं है। ऐसे में जनवरी से मार्च के दौरान टीकाकरण की 82 प्रतिशत से अधिक लागत पीएम केयर्स कोष के द्वारा वहन की जा रही है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अगले वित्त वर्ष के बजट में कोविड टीकाकरण के लिए 35 हजार करोड़ रुपए निर्धारित किए हैं।

व्यय सचिव टी वी सोमनाथन ने कहा कि चालू वित्त वर्ष में अग्रिम मोर्चे तथा स्वास्थ्य सेवाओं के कर्मियों के टीकाकरण की लागत पूरी तरह से केंद्र सरकार द्वारा वहन की जा रही है। यह पैसा पीएम केयर्स कोष और स्वास्थ्य मंत्रालय से आ रहा है।

सोमनाथन ने कहा, ‘‘जनवरी-मार्च के लिए टीकाकरण की लागत लगभग 2,700 करोड़ रुपए रहने की उम्मीद है। इसका एक हिस्सा स्वास्थ्य मंत्रालय से आ रहा है और इसका कुछ हिस्सा पीएम केयर्स फंड से वित्त पोषित है। यह तीन करोड़ लोगों के टीकाकरण के पहले के चरण के लिए है।’’

सचिव ने कहा कि इस दौर की पूरी लागत केंद्र सरकार द्वारा वहन की जाएगी। उन्होंने कहा, ‘‘हमने टीकाकरण की आकस्मिक लागतों के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय को अतिरिक्त धनराशि प्रदान की थी। हमने टीकाकरण के तीन करोड़ बैच के लिए 480 करोड़ रुपए का अतिरिक्त आवंटन किया। बाकी करीब 2,220 करोड़ रुपए पीएम-केयर्स फंड से आएँगे।’’

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,995FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe