Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाज4 महीने तक नाबालिग का बलात्कार करने वाला इरफान हुआ गिरफ्तार: लड़की के गर्भवती...

4 महीने तक नाबालिग का बलात्कार करने वाला इरफान हुआ गिरफ्तार: लड़की के गर्भवती होने के बाद दर्ज हुआ था मामला

कसबा थानाध्यक्ष पंकज आनंद ने बताया कि थाना क्षेत्र के धनखनियाँ गाँव में नाबालिग महादलित लड़की के दुष्कर्म व यौन शोषण केस में नामजद आरोपित मोहम्मद इरफान को गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके बाद उसे मंडल कारागार पूर्णिया भेज दिया गया।

बिहार के पूर्णिया जिला के कसबा में एक महादलित लड़की के साथ कई महीनों तक दुष्कर्म करने और उसे जान से मारने की धमकी देने के आरोप में मोहम्मद इरफान को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया है। यह जानकारी कसबा थानाध्यक्ष ने ही मीडिया को दी है।

भास्कर की खबर के अनुसार, कसबा थानाध्यक्ष पंकज आनंद ने बताया कि थाना क्षेत्र के धनखनियाँ गाँव में नाबालिग महादलित लड़की के दुष्कर्म व यौन शोषण केस में नामजद आरोपित मोहम्मद इरफान को गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके बाद उसे मंडल कारागार पूर्णिया भेज दिया गया।

उल्लेखनीय है कि 13 वर्षीय नाबालिग के साथ दुष्कर्म का यह मामला कुछ दिनों पहले उजागर हुआ था। रिपोर्ट्स में बताया गया था कि मोहम्मद इरफान ने पीड़िता के साथ लगातार चार महीने तक दुष्कर्म किया। वह पीड़िता को धमकी भी दिया करता था कि अगर उसने इस घटना के बारे में किसी को बताया तो उसे जान से मार देगा।

इस दौरान पीड़िता गर्भवती भी हो गई। पीड़िता ने पूछताछ के दौरान एसडीपीओ आनंद पांडेय को बताया कि उसने गर्भवती होने की बात अपनी भाभी को बताई थी। जिसके बाद उन्होंने अपने पति यानी पीड़िता के भाई को इसके बारे में बताया। फिर भाई ने आरोपित इरफान के खिलाफ कसबा थाना में शिकायत दर्ज करवाई और पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल जाँच के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

पीड़िता के भाई के अनुसार उन्हें इस घटना की जानकारी मई में ही मिली थी। उस समय वह पंजाब में थे और लॉकडाउन की वजह से वापस नहीं आ पा रहे थे। उन्होंने बताया कि पीड़िता और उसकी भाभी मोहम्मद इरफान की वजह से कसबा थाना में जाकर रिपोर्ट दर्ज नहीं करवा रही थी।

कुछ समय पहले भी आया था महादलित लड़ती से दुष्कर्म का मामला

यहाँ बता दें कसबा थाना क्षेत्र में ही पिछले दिनों एक 15 वर्षीय महादलित युवती को अगवा कर गाँव के ही तीन युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। दुष्कर्म के बाद उसे बंधक बना लिया गया, जिसे पुलिस ने छुड़ाया।

हालाँकि, पुलिस ने गैंगरेप की बात से इनकार कर दिया था। मौके से सभी आरोपित भी फरार हो गए थे। मामले में मोहम्मद मुजफ्फर मुख्य आरोपित था। मोहम्मद मुजफ्फर अपने सहयोगियों नवाजिश और अबू बकर के साथ मिलकर पीड़िता का अपहरण कर लिया था।

पीड़िता की माँ ने दावा किया था कि अगवा करने से पहले उनकी बेटी को बेहोश किया गया था। आरोपितों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया। पीड़िता की माँ ने बताया कि सुबह उसे घर में न पाकर परिजन बेचैन हो गए और तलाश शुरू की। काफी खोजबीन के बाद पता चला कि पीड़िता को मोहम्मद मुजफ्फर ने बंधक बना कर रखा था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

तालिबान ने कंधारी कॉमेडियन की हत्या से पहले थप्पड़ मारने का वीडियो किया शेयर, जमीन पर कटा मिला था सिर

"वीडियो में आप देख सकते हैं कि कंधारी कॉमेडियन खाशा का पहले तालिबानी आतंकियों ने अपहरण किया। फिर इसके बाद आतंकियों ने उन्हें कार के अंदर कई बार थप्पड़ मारे और अंत में उनकी जान ले ली।"

समर्थन ले लो… सस्ता, टिकाऊ समर्थन: हर व्यक्ति, संस्था, आंदोलन और गुट के लिए है राहुल गाँधी के पास झऊआ भर समर्थन!

औसत नेता समर्थन लेकर प्रधानमंत्री बनता है, बड़ा नेता बिना समर्थन के बनता है पर राहुल गाँधी समर्थन देकर बनना चाहते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,488FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe