Wednesday, September 28, 2022
Homeदेश-समाजVVIP हेलीकॉप्टर केस: गौतम खेतान को झटका, हाई कोर्ट के फैसले पर SC ने...

VVIP हेलीकॉप्टर केस: गौतम खेतान को झटका, हाई कोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

हाईकोर्ट ने खेतान के खिलाफ काला धन मामले में कार्रवाई पर रोक लगा दी थी। हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए केंद्र सरकार ने दलील दी थी कि इस फैसले से हर मामले पर बुरा असर पड़ेगा।

3600 करोड़ रुपए के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाला के आरोपी गौतम खेतान को बड़ा झटका लगा है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार की याचिका पर सुनवाई करते हुए आज (अक्टूबर 15, 2019) इस मामले में दिल्ली हाईकोर्ट के स्थगनादेश को निरस्त कर दिया। हाईकोर्ट ने खेतान के खिलाफ काला धन मामले में कार्रवाई पर रोक लगा दी थी। शीर्ष अदालत ने HC से दोबारा गौतम खेतान की याचिका पर सुनवाई करने के लिए कहा है।

न्यायमूर्ति अरूण मिश्रा की अध्यक्षता वाली 3 सदस्यीय पीठ ने केंद्र सरकार की याचिका पर उच्च न्यायालय के फैसले को निरस्त करके पूरे मामले में नए सिरे से सुनवाई करने को कहा।

उल्लेखनीय है कि शीर्ष अदालत ने उच्च न्यायालय के 16 मई के आदेश के ख़िलाफ़ केंद्र की अपील पर यह फैसला दिया। उच्च न्यायालय ने कहा था कि काला धन और कर अधिरोपण कानून अप्रैल 2016 से पहले लागू नहीं होगा। इस आधार पर आयकर विभाग को खेतान के खिलाफ कार्रवाई करने से रोक दिया था। उनके खिलाफ काला धन रखने का मामला दर्ज किया गया था।

दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए केंद्र सरकार ने दलील दी थी कि इस फैसले से हर मामले पर बुरा असर पड़ेगा। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, शीर्ष अदालत में सुनवाई के दौरान केन्द्र ने काला धन संबंधी कानून 2015 के प्रावधानों का उल्लेख किया था और कहा था कि खेतान के खिलाफ कथित अपराध ‘सतत् अपराध’ है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ब्रह्मांड के केंद्र’ में भारत माता की समृद्धि के लिए RSS प्रमुख मोहन भागवत ने की प्रार्थना, मेघालय के इसी जगह पर है ‘स्वर्णिम...

सेंग खासी एक सामाजिक-सांस्कृतिक और धार्मिक संगठन है जिसका गठन 23 नवंबर, 1899 को 16 युवकों ने खासी संस्कृति व परंपरा के संरक्षण हेतु किया था।

अब पलटा लेस्टर हिंसा के लिए हिन्दुओं को जिम्मेदार ठहराने वाला BBC, फिर भी जारी रखी मुस्लिम भीड़ को बचाने की कोशिश: नहीं ला...

बीबीसी ने अपनी पिछली रिपोर्टों के लिए कोई माफी नहीं माँगी है, जिसमें उसने हिंदुओं पर झूठा आरोप लगाया था कि हिंसा के लिए वे जिम्मेदार हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,688FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe