Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजपुलवामा हमले के बाद जम्मू-कश्मीर में लगा कर्फ़्यू, सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने की अपील

पुलवामा हमले के बाद जम्मू-कश्मीर में लगा कर्फ़्यू, सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने की अपील

हिंसक झड़पों को देखते हुए जम्मू-कश्मीर पुलिस सचेत हो गई थी, यही कारण है कि इलाक़े में कोई बड़ी झड़प नहीं हुई। पाकिस्तान के ख़िलाफ़ बजरंग दल, शिवसेना और डोगरा फ्रंट के कार्यकर्ताओं ने आतंकवादी विरोधी नारे लगाए साथ ही कैंडल मार्च भी निकाला।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आत्मघाती आतंकी हमले के बाद से लोग भारी प्रदर्शन कर रहे हैं। लोगों में बढ़ते रोष को देखते हुए प्रशासन द्वारा शहर में कर्फ़्यू लगा दिया गया है। जवानों की शहादत पर लोगों ने जम्मू शहर में जौहरी चौक, पुरानी मुंडी, रेहरी, शक्तिनगर, पक्का डंगा, जानीपुर, गाँधीनगर और बख्शीनगर समेत कई जगहों पर बड़े पैमाने पर पाकिस्तान के विरोध में नारे लगाते हुए प्रदर्शन किया।

यही नहीं गुर्जर नगर इलाक़े में हिंसक झड़पें होनी की भी ख़बर सामने आई हैं। बताया जा रहा है कि यहाँ पथराव के कारण माहौल तनावपूर्ण रहा और पथराव में कुछ गाड़ियाँ क्षतिग्रस्त भी हुई हैं।

पुलिस की सख़्ती से हालात क़ाबू में रहे

हिंसक झड़पों को देखते हुए जम्मू-कश्मीर पुलिस चौकन्नी हो गई थी, यही कारण है कि इलाक़े में कोई बड़ी झड़प नहीं हुई। पाकिस्तान के ख़िलाफ़ बजरंग दल, शिवसेना और डोगरा फ्रंट के कार्यकर्ताओं ने आतंकवादी विरोधी नारे लगाए साथ ही कैंडल मार्च भी निकाला। पाकिस्तान के ख़िलाफ़ नारेबाज़ी करते हुए लोग सड़कों पर निकल आए और पाकिस्तानी झंडे को जलाकर अपना ग़ुस्सा भी ज़ाहिर किया।

बताया जा रहा है कि हिंसक झड़प और प्रदर्शन के दौरान डीआईजी विवेक गुप्ता सहित लगभग 40 लोग घायल हुए हैं। बता दें कि जम्मू चैंबर ऑफ़ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (जेसीसीआई) ने बृहस्पतिवार को आतंकवादी हमले का विरोध करते हुए जम्मू में बंद का आह्वान किया था।

शांति-व्यवस्था बनाए रखने की अपील

जम्मू के डेप्यूटी कमिश्नर रमेश कुमार ने कहा, “हमने एहतियात के तौर पर जम्मू शहर में कर्फ़्यू लगा दिया है।” साथ ही उन्होंने शांति-व्यवस्था बनाए रखने के लिए शहर में लोगों से अपील भी की है।

बता दें कि, जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ क़ाफ़िले पर कल (14 फ़रवरी 2019) को हुए आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 42 जवान शहीद और दर्जनों जवान गंभीार रूप से घायल हुए थे। जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने सीआरपीएफ के क़ाफ़िले में एक बस में विस्फ़ोटक लदी एसयूवी घुसा दी थी, जिसके बाद यह हादसा हुआ था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

कर्नाटक में बढ़ाए गए पेट्रोल-डीजल के दाम: लोकसभा चुनाव खत्म होते ही कॉन्ग्रेस ने शुरू की ‘वसूली’, जनता पर टैक्स का भार बढ़ा कर...

अभी तक बेंगलुरु में पेट्रोल 99.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 85.93 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, लेकिन नए आदेश के बाद बढ़ी हुई कीमतें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -