Tuesday, September 21, 2021
Homeदेश-समाजतालाब से निकाली गई हिंदू नाबालिग लड़की की लाश: शाकिब, सलामुद्दीन, इक़बाल पर रेप,...

तालाब से निकाली गई हिंदू नाबालिग लड़की की लाश: शाकिब, सलामुद्दीन, इक़बाल पर रेप, अपहरण और हत्या का आरोप

इस मामले को लेकर विश्व हिन्दू परिषद् (VHP) और बजरंग दल के अलावा फूल माली समाज भी आक्रोशित है। यशवंत सिंह माली के नेतृत्व में देश के राष्ट्रपति एवं प्रदेश के राज्यपाल के नाम का ज्ञापन सौंपा गया।

मध्य प्रदेश में एक लड़की के अपहरण, बलात्कार व हत्या का मामला सामने आया है। परिवार का कहना है कि पीड़िता नाबालिग थी। वो पिछले सप्ताह ही अचानक से गायब हो गई थी। पिता गजराज सिंह ने इस मामले में गाँव के ही शाकिब, सलामुद्दीन और इक़बाल का नाम आरोपितों के रूप में FIR में दर्ज कराया था। 3 दिन पहले इस मामले की FIR दर्ज की गई थी। मामला दर्ज होने के बाद पीड़िता की लाश एक तालाब से बरामद हुई।

हिन्दू संगठनों ने इस मामले में न्याय के लिए विरोध प्रदर्शन भी किया है। उनका कहना है कि इस क्षेत्र में इस तरह के कई मामले सामने आ चुके हैं। पीड़ित परिवार माली समुदाय से आता है। ये घटना शुजालपुर के नरोला हीरापुर गाँव की है। पीड़ित पिता ने बताया कि 22 अगस्त, 2021 को वो गाँव के ही मंदिर में भजन-कीर्तन कर जब रात 12 बजे घर लौटे तो उन्होंने पाया कि उनकी बेटी व बेटे, दोनों कमरे में सो रहे थे।

इसके बाद पिता भी उसी कमरे में सो गए। FIR के अनुसार, तड़के 3 बजे जब उनकी नींद खुली तो उन्होंने पाया कि उनकी बेटी कमरे से गायब है। इसके बाद आस-पड़ोस से लेकर रिश्तेदारों तक में खोज करवाई गई, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। उन्होंने बताया कि रात 12 बजे जब वो घर लौटे थे तो उन्होंने पाया था कि शाकिब खान, सलामुद्दीन और इक़बाल बेग उनके घर के पास स्थित नीम के पेड़ के नीचे बैठे हुए थे।

FIR में पीड़ित पिता ने लिखा है, “ये तीनों आरोपित मुझे देख कर कुछ बातें कर रहे थे। मुझे आशंका है कि ये तीनों मेरी नाबालिग बेटी को बहला-फुसला कर भगा के ले गए। अभी तक इसका कोई पता नहीं चलने पर मैं थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने आया हूँ। कक्षा 12वीं तक पढ़ी मेरी बेटी मानसिक रूप से स्वस्थ है।” इस अपहरण के रिपोर्ट के दर्ज कराए जाने के बाद पीड़िता की लाश मिली व बलात्कार के आरोप लगे।

इस मामले को लेकर विश्व हिन्दू परिषद् (VHP) और बजरंग दल के अलावा फूल माली समाज भी आक्रोशित है। माली मोहल्ला स्थित श्रीराम मंदिर से एक रैली भी निकाली गई और लोगों ने पड़ाना चौकी पहुँच कर ज्ञापन दिया। इस घटना को लेकर विधायक प्रतिनिधि एवं ग्राम प्रधान प्रतिनिधि यशवंत सिंह माली के नेतृत्व में देश के राष्ट्रपति एवं प्रदेश के राज्यपाल के नाम का ज्ञापन सारंगपुर थाना प्रभारी वीरेंद्र धाकड़ को सौंपा गया।

यशवंतसिंह माली ने कहा “शुजालपुर तहसील के नारोला गाँव में समाज की नाबालिग बेटी के साथ समुदाय विशेष के लोगों ने ‘लव जिहाद’ के माध्यम से सामूहिक दुष्कर्म किया। फिर हत्या करके शव को तालाब में फेंक दिया। इससे माली समाज समाज में आक्रोश व्याप्त है। घटना को अंजाम देने वाले सभी आरोपितों को तुरंत गिरफ्तार किया जाए। उन्हें फाँसी की सज़ा होनी चाहिए। यदि उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया तो उग्र आंदोलन समाज के साथ-साथ सभी हिंदू समाज द्वारा पूरे प्रदेश भर में किया जाएगा। इसका जिम्मेदार प्रशासन होगा।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज योगेश है, कल हरीश था: अलवर में 2 साल पहले भी हुई थी दलित की मॉब लिंचिंग, अंधे पिता ने कर ली थी...

आज जब राजस्थान के अलवर में योगेश जाटव नाम के दलित युवक की मॉब लिंचिंग की खबर सुर्ख़ियों में है, मुस्लिम भीड़ द्वारा 2 साल पहले हरीश जाटव की हत्या को भी याद कीजिए।

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालत में मौत: पंखे से लटकता मिला शव, बरामद हुआ सुसाइड नोट

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालात में मौत हो गई है। महंत का शव बाघमबरी मठ में सोमवार को फाँसी के फंदे से लटकता मिला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,474FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe