Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाजइरफान, सदान और शहबाज ने हिंदू माँ-बेटी को घर में घुस उतारा मौत के...

इरफान, सदान और शहबाज ने हिंदू माँ-बेटी को घर में घुस उतारा मौत के घाट: पकड़े जाने पर पुलिस पर चलाई गोली, तीनों गिरफ्तार

पुलिस की पड़ताल में सामने आया है कि रामसुख की पत्नी के इरफान से कथिततौर पर संबंध थे। इसी का विरोध रामसुख और उनकी बेटी करते थे। जब इरफान को इसका पता चला तो इरफान ने बेटी को मारने के लिए प्लॉन बनाया और अपने साथियों के साथ इस घटना को अंजाम दिया।

उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले में 28 जून 2022 को रामसुख नाम के व्यक्ति की 21 साल की बेटी और 45 साल की पत्नी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी। हत्या के लिए लोहे की रॉड का भी प्रयोग किया गया था। अब पुलिस ने इस घटना का खुलासा करते हुए 2 जुलाई 2022 (शनिवार) को इरफान, सदान और शहबाज नाम के आरोपितों को गिफ्तार किया है। आरोपित इरफान ने गिरफ्तारी के दौरान पुलिस पर भी गोली चलाई जिसकी जवाबी कार्रवाई में इरफान के पैर पर भी गोली लगी और वो घायल हो गया।

सुल्तानपुर पुलिस के मुताबिक मामला जिले के लम्भुआ स्टेशन रोड का है। घटना के बाद धारा 302, 120 बी के तहत केस दर्ज किया गया था। जाँच के दौरान पुलिस ने पाया कि रामसुख की 45 वर्षीया मृतका पत्नी से आरोपित इरफान के निजी संबंध थे। इसका रामसुख और मृतका की बेटी विरोध किया करते थे। इसी विरोध के कारण इरफान ने 2 सप्ताह पहले ही अपने साथियों के साथ मृतका की बेटी की हत्या का प्लान बना चुका था। इसके लिए उसने लोहे की रॉड और चापड़ (धारदार हथियार) पहले ही खरीद लिया था।

पुलिस प्रेसनोट में आगे कहा गया कि 28 जून 2022 को तीनों आरोपित रामसुख के घर में विरोध करने वालों की हत्या करने की नियति से घुसे। उस समय उन्हें रामसुख की 21 वर्षीया बेटी घर में अकेली दिखी। तीनों ने मिल कर उसे मार डाला। इस दौरान रामसुख की पत्नी भी वहाँ आ गई। आरोपितों ने उन्हें भी मार डाला। इसके बाद तीनों फरार हो गए। पुलिस मामले की पड़ताल करते हुए आरोपितों तक पहुँच गई और तीनों को गिरफ्तार कर लिया।

इरफान ने पुलिस पर भी किया हमला

पुलिस के मुताबिक 2 जुलाई को जब तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया तब इरफान से घटना में प्रयोग किए गए हथियार को बरामद और आरोपितों द्वारा पहने गए कपड़े बरामद करवाने के लिए कहा गया। इस पर इरफान पुलिस को अपने घर ले गया। इस दौरान उसने एक जगह पर छिपाए गए 315 बोर के तमंचे से पुलिस पर ही फायर कर दिया। गोली लगने से एक हेड कांस्टेबल शैलेन्द्र सिंह घायल हो गए। मौका देख कर इरफान भागने लगा। पुलिस ने आत्मरक्षा में फायरिंग की जो इरफान के पैर में लगी।

पुलिस ने अपने घायल हेड कांस्टेबल और आरोपित इरफान को अस्पताल पहुँचाया। दोनों की हालत फ़िलहाल स्थिर है। इरफान से माँ-बेटी की हत्या में प्रयोग हुई लोहे की रॉड, धारदार हथियार चापड़, खून से सने कपड़े और पुलिस पर हमले में प्रयोग हुआ 315 बोर तमंचा 1 जिन्दा और 3 खाली खोखे के साथ बरामद हुआ। IG रेंज अयोध्या ने यह बहादुरी भरा कार्य करने वाली पुलिस टीम को इनाम भी दिया है। इसी के साथ पुलिस के सीनियर अधिकारियों ने मृतक के परिजनों से मिल कर उन्हें सांत्वना भी दी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लालू यादव ने हाथ जोड़ अनिल अंबानी को किया प्रणाम, प्रियंका चतुर्वेदी ने एन्जॉय किया ‘यादगार क्षण’: अनंत अंबानी की शादी में I.N.D.I. नेताओं...

अखिलेश यादव अपनी बेटी और पत्नी डिंपल के साथ समारोह में मौजूद रहे। यहाँ तक कि कॉन्ग्रेस नेता सलमान ख़ुर्शीद भी अपने परिवार के साथ भोज खाने के लिए पहुँचे।

‘अमेरिका की उप-राष्ट्रपति ने राहुल गाँधी से फोन पर की बात, दुनिया मानती है अगला PM’: कॉन्ग्रेस इकोसिस्टम के साथ-साथ मीडिया ने चलाई खबर,...

खुद को लेखक बताने वाले हर्ष तिवारी ने दावा किया कि लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद राहुल गाँधी का कद काफी बढ़ गया है, दुनिया उन्हें अगले प्रधानमंत्री के रूप में देख रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -