Sunday, June 26, 2022
Homeदेश-समाज'पावर में आए तो मस्जिद फिर से बनेगा' कहने वाला सरफराज कह रहा 'भाई...

‘पावर में आए तो मस्जिद फिर से बनेगा’ कहने वाला सरफराज कह रहा ‘भाई मुझे माफ कर दो’, लोगों ने पूछा- अब क्या हो गया?

अपने ख़िलाफ़ होती शिकायत की गंभीरता को समझते हुए सरफराज फौरन अपने ट्वीट के लिए माफी माँगने लगा। सरफराज ने इस ट्वीट के नीचे लिखा, "भाई मैं दिल से माफी माँगता हूँ, प्लीज ट्वीट को डिलीट कर दो। अपना छोटा भाई समझ कर मेरी गलती को इग्नोर कर दो। मैं अब से कोई भी पोस्ट ऐसे नहीं करूँगा। जय हिंद जय भारत।"

अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन से पहले ट्विटर पर कई लोगों की असली मंशा साफ नजर आने लगी है। ऐसे में एक यूजर सरफराज ने भी अपनी कट्टरता दिखाते हुए राम मंदिर भूमि पूजन से पहले विवादित ट्वीट किया। इस ट्वीट में उसने राम मंदिर की जगह दोबारा से मस्जिद बनाने की बात कही और जैसे ही अन्य यूजरों ने इसका स्क्रीनशॉट लेकर रिपोर्ट करनी शुरू की। ये माफी माँगने पर आ गया।

इस ट्वीट में सरफराज ने लिखा, “ये मस्जिद हमारा था और हमारा रहेगा। आज वो पावर में हैं तो मंदिर बना लिया। हम पावर में होंगे तो फिर से मस्जिद होगा। क्योंकि इतिहास रिपीट होता है।”

हालाँकि, सरफराज नाम के इस ट्विटर यूजर के ज्यादा फॉलोवर नहीं है और न ही वो ट्विटर पर ज्यादा सक्रिय लगता है। लेकिन सरफराज का ये ट्वीट चूँकि, पीएम मोदी और ओवैसी के किसी ट्वीट पर रिप्लाई में आया। तो अन्य यूजरों ने इस पर ध्यान दिया और इसके ख़िलाफ़ शिकायत करनी शुरू की।

नाइट वॉरियर्स नाम के यूजर ने इसकी शिकायत यूपी पुलिस और सीएम योगी आदित्यनाथ को टैग करके की और उसपर साम्प्रदायिक हिंसा भड़काने का आरोप लगाया।

अपने ख़िलाफ़ होती शिकायत की गंभीरता को समझते हुए सरफराज फौरन अपने ट्वीट के लिए माफी माँगने लगा। सरफराज ने इस ट्वीट के नीचे लिखा, “भाई मैं दिल से माफी माँगता हूँ, प्लीज ट्वीट को डिलीट कर दो। अपना छोटा भाई समझ कर मेरी गलती को इग्नोर कर दो। मैं अब से कोई भी पोस्ट ऐसे नहीं करूँगा। जय हिंद जय भारत।”

इसके अलावा सरफराज ने अपने अकाउंट से भी माफी माँगी और डीपी पर अपनी फोटो हटाकर तिरंगा लगा लिया। सरफराज ने लिखा,”सभी जनता से माफी माँगता हूँ। मैंने जो पोस्ट किया, उसके लिए मुझे माफ कर दो और ट्वीट को प्लीज डिलीट कर दें। मैंने डिलीट कर दिया है। आप भी कर दें। मुझे नहीं पता था कि ये इतना भद्दा और खराब मैंने लिख दिया।”

इन माफी वाले ट्वीट्स को देखकर भी यूजर्स का गुस्सा उस पर शांत नहीं हुआ। लोगों ने कहा, “तुम जैसे लोगों को ऐसी सीख देनी जरूरी है। ताकि दोबारा कोई ऐसे प्रयास न करें। तुम जैसे लोग देश के लिए खतरा हो। साम्प्रदायिक हिंसा फैलाने के लिए सख्त से सख्त एक्शन लिया जाना चाहिए।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

’47 साल पहले हुआ था लोकतंत्र को कुचलने का प्रयास’: जर्मनी में PM मोदी ने याद दिलाया आपातकाल, कहा – ये इतिहास पर काला...

"आज भारत हर महीनें औसतन 500 से अधिक आधुनिक रेलवे कोच बना रहा है। आज भारत हर महीने औसतन 18 लाख घरों को पाइप वॉटर सप्लाई से जोड़ रहा है।"

‘गुवाहाटी से आएँगी 40 लाशें, पोस्टमॉर्टम के लिए भेजेंगे’: संजय राउत ने कामाख्या मंदिर और छठ पूजा को भी नहीं छोड़ा, कहा – मोदी-शाह...

संजय राउत ने कहा "हम शिवसेना हैं, हमारा डर ऐसा है कि हमें देख कर मोदी-शाह भी रास्ता बदल लेते हैं।" कामाख्या मंदिर और छठ पर्व का भी अपमान।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,523FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe