Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाजशब्बीर बरखा को भेजता है अश्लील फोटो, आरफ़ा को 'होली बिस्मिल्ला' पर अशरफ़ी कहता...

शब्बीर बरखा को भेजता है अश्लील फोटो, आरफ़ा को ‘होली बिस्मिल्ला’ पर अशरफ़ी कहता है ‘डर्टी लेडी’

ज्ञान देने वालों के कुछ ट्वीट पढ़िए और सोचिए कि क्या ये वाक़ई में मज़हब के रखवाले हैं या फिर थोक के भाव से अपनी नफ़रत और मूर्खता बाँटते हुए अपनी असहिष्णुता का प्रदर्शन कर रहे हैं कि नाम 'मजहब विशेष' वाला है, तो हमारे हिसाब से ही चलो।

ट्विटर पर इस्लाम के रखवालों का विरोधाभास लगभग दैनिक स्तर पर दिखता रहता है। एक तरफ बरखा दत्त को अश्लील तस्वीर भेजने वाला शब्बीर है, वहीं दूसरी ओर ‘द वायर’ की पत्रकार आरफ़ा खानम हैं जिन्होंने होली मुबारक कहते हुए ‘बिस्मिल्ला’ शब्द लिखा तो ‘सच्चे’ मजहबी भड़क उठे। वायर की पत्रकार आरफ़ा ख़ानम शेरवानी ने होली के अवसर पर कहा, “होली खेलूँगी कहके बिस्मिल्ला। होली मुबारक दोस्तों। जमकर रंग बरसे।”

आरफ़ा को तमाम तरह की हिदायतें दी गईं, जहाँ उसे ‘शराब भी पी ले’ से लेकर ‘यही लोग इस्लाम को बदनाम करते हैं’ तक कहते हुए उसके मरने की दुआएँ माँग ली गईं कि इसी हालत में आरफ़ा को अल्लाह उठा ले। एक ने यहाँ तक लिखा कि ‘जय श्री राम’ बोलकर फ़्लैट का दरवाजा भी खोल देना। किसी ने यह कहा कि बिस्मिल्ला कहके ‘मुजरा’ शुरु कर दे, ‘धंधा भी शुरु कर दे’।

ज्ञान देने वालों के कुछ ट्वीट पढ़िए और सोचिए कि क्या ये वाक़ई में मज़हब के रखवाले हैं या फिर थोक के भाव से अपनी नफ़रत और मूर्खता बाँटते हुए अपनी असहिष्णुता का प्रदर्शन कर रहे हैं कि नाम ‘मजहब’ वाला है, तो हमारे हिसाब से ही चलो।

https://platform.twitter.com/widgets.js

‘जिना’ का अर्थ है: व्यभिचार, परायी स्त्री या पराये पुरुष के पास जाना

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 फसलों पर MSP की बढ़ोतरी, पवन ऊर्जा परियोजना, वाराणसी एयरपोर्ट का विस्तार, पालघर का पोर्ट होगा दुनिया के टॉप 10 में: मोदी कैबिनेट...

पालघर के वधावन पोर्ट की क्षमता अब 298 मिलियन टन यूनिट की जाएगी। इससे भारत-मिडिल ईस्ट कॉरिडोर भी मजबूत होगा। 9 कंटेनर टर्मिनल होंगे।

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -