शब्बीर बरखा को भेजता है अश्लील फोटो, आरफ़ा को ‘होली बिस्मिल्ला’ पर अशरफ़ी कहता है ‘डर्टी लेडी’

ज्ञान देने वालों के कुछ ट्वीट पढ़िए और सोचिए कि क्या ये वाक़ई में मज़हब के रखवाले हैं या फिर थोक के भाव से अपनी नफ़रत और मूर्खता बाँटते हुए अपनी असहिष्णुता का प्रदर्शन कर रहे हैं कि नाम मुसलमानों वाला है, तो हमारे हिसाब से ही चलो।

ट्विटर पर इस्लाम के रखवालों का विरोधाभास लगभग दैनिक स्तर पर दिखता रहता है। एक तरफ बरखा दत्त को अश्लील तस्वीर भेजने वाला शब्बीर है, वहीं दूसरी ओर ‘द वायर’ की पत्रकार आरफ़ा खानम हैं जिन्होंने होली मुबारक कहते हुए ‘बिस्मिल्ला’ शब्द लिखा तो ‘सच्चे’ मुसलमान भड़क उठे। वायर की पत्रकार आरफ़ा ख़ानम शेरवानी ने होली के अवसर पर कहा, “होली खेलूँगी कहके बिस्मिल्ला। होली मुबारक दोस्तों। जमकर रंग बरसे।”

आरफ़ा को तमाम तरह की हिदायतें दी गईं, जहाँ उसे ‘शराब भी पी ले’ से लेकर ‘यही लोग इस्लाम को बदनाम करते हैं’ तक कहते हुए उसके मरने की दुआएँ माँग ली गईं कि इसी हालत में आरफ़ा को अल्लाह उठा ले। एक ने यहाँ तक लिखा कि ‘जय श्री राम’ बोलकर फ़्लैट का दरवाजा भी खोल देना। किसी ने यह कहा कि बिस्मिल्ला कहके ‘मुजरा’ शुरु कर दे, ‘धंधा भी शुरु कर दे’।

ज्ञान देने वालों के कुछ ट्वीट पढ़िए और सोचिए कि क्या ये वाक़ई में मज़हब के रखवाले हैं या फिर थोक के भाव से अपनी नफ़रत और मूर्खता बाँटते हुए अपनी असहिष्णुता का प्रदर्शन कर रहे हैं कि नाम मुसलमानों वाला है, तो हमारे हिसाब से ही चलो।

https://platform.twitter.com/widgets.js
- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

‘जिना’ का अर्थ है: व्यभिचार, परायी स्त्री या पराये पुरुष के पास जाना

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

सुब्रमण्यम स्वामी
सुब्रमण्यम स्वामी ने ईसाइयत, इस्लाम और हिन्दू धर्म के बीच का फर्क बताते हुए कहा, "हिन्दू धर्म जहाँ प्रत्येक मार्ग से ईश्वर की प्राप्ति सम्भव बताता है, वहीं ईसाइयत और इस्लाम दूसरे धर्मों को कमतर और शैतान का रास्ता करार देते हैं।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

154,435फैंसलाइक करें
42,730फॉलोवर्सफॉलो करें
179,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: