Saturday, March 6, 2021

विषय

Radical Islam

इस्लाम में बाल शोषण: हिंदू-मुस्लिम पर उपन्यास लिख चुकीं महिला को ‘वेश्या’ की गाली, टूट पड़े कट्टरपंथी

ट्वीट पर कई लोग ऐसे दिखे, जिन्होंने उनका पूर्णत: समर्थन किया, मगर कुछ ने मामले की गंभीरता को नकारते हुए इसे इस्लाम पर हमला माना।

हिजाब पहनी लड़कियों को जेल, गुबंद वाली मस्जिद खत्म: उइगरों के बाद चीन ने कसा उत्सुल मुस्लिमों पर शिकंजा

उत्सुल मुस्लिमों पर नियंत्रण का कड़ा होना स्थानीय समुदायों के खिलाफ चीनी कम्युनिस्ट अभियान के असली चेहरे को प्रकट करता है।

BJP-RSS जैसे काम कर रहा है तू, हो जाएगा ‘सर तन से जुदा’ – कौसर हसन को PFI से मिली धमकी

सूफी इस्लामिक बोर्ड के राष्ट्रीय प्रवक्ता कौसर हसन मजीदी को कट्टरपंथी समूह पॉपुलर फ्रंट इंडिया (PFI) की ओर से धमकी भरा पत्र मिला है।

जेल में ही रहेगा मुनव्वर फारुखी, हाई कोर्ट से जमानत याचिका खारिज: कॉमेडी के नाम पर हिंदू देवी-देवताओं को देता था गाली

हिंदू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाला मुनव्वर फारुखी अभी कुछ और दिन जेल में रहेगा। हाईकोर्ट ने उसकी जमानत...

सजा कम कर रिहा कर दिया गया अबू बशीर, 200 लोगों को उड़ाने वाले बम धमाके का था मास्टरमाइंडः खुद को शिक्षक बताता है...

इंडोनेशिया ने आतंकी अबू बक्र बशीर को जेल से रिहा कर दिया। 2002 में बाली नाइट क्लब में हुए धमाके का वह मास्टरमाइंड था।

पाकिस्तानी बिल्डिंग में इस्लामी संगठन का हेडक्वार्टर, सीलिंग के दौरान जमात के अड़ंगा से चेन्नई में तनाव

यह इमारत संगठन के उपाध्यक्ष अब्दुल रहमान को लुंगी फर्म चलाने के लिए दी गई थी। लेकिन रहमान ने इसका इस्तेमाल इस्लामी हेडक्वार्टर चलाने के लिए किया।

केरल में आतंकी कैंप चलाने के लिए PFI ने जमा की थी मोटी रकम: ED का खुलासा- धार्मिक द्वेष बढ़ाना, देश की अखंडता को...

PFI के खिलाफ धन शोधन मामले की जाँच कर रहे ED ने आरोप लगाया कि केरल स्थित संगठन ने राज्य में आतंकी शिविर आयोजित करने के लिए मोटी रकम जमा कर ली थी।

सूअर का माँस खाने वाला, शराब पीने वाला ‘क़ायद ए आजम’, जो नमाज तक पढ़ना नहीं जानता था

जिन्ना शराब पीता था, सूअर का माँस खाता था, उर्दू नहीं बोलता था और नमाज तक पढ़ना नहीं जानता था। तमाम मजहबी विरोधाभासों के बावजूद उन्हें समुदाय विशेष ने प्रेम किया, यह चौंकाने वाली बात जरूर है।

सऊदी अरब: मक्का से लेकर अल-कासिम तक 100 मौलवी-इमाम बर्खास्त, आतंकी संगठन की निंदा करने को नहीं थे तैयार

सऊदी अरब की सरकार ने 100 इमामों और मौलवियों को बरख़ास्त कर दिया है। इन सभी ने मुस्लिम ब्रदरहुड की आलोचना से इनकार कर दिया था।

दलित और सिख उनके लिए हथियार भी, शिकार भी

जय भीम-जय मीम और मजहब के नाम पर दलितों का नरसंहार साथ-साथ चलता है। हर दौर में सिखों के साथ भी मजहब के नाम पर वैसी ही क्रूरता की गई है।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

292,301FansLike
81,954FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe