Wednesday, September 29, 2021
Homeदेश-समाजदेश लौटीं मीराबाई चानू, भारत माता की जय-वन्दे मातरम् से गूँजा एयरपोर्ट: क्या पीछे-पीछे...

देश लौटीं मीराबाई चानू, भारत माता की जय-वन्दे मातरम् से गूँजा एयरपोर्ट: क्या पीछे-पीछे आएगा गोल्ड?

टोक्यो से खबरें सामने आ रही हैं कि ओलंपिक में वेटलिफ्टिंग में भारत को सिल्वर मेडल दिलाने वाली मीराबाई चानू को गोल्ड मेडल मिल सकता है।

जापान की राजधानी टोक्यो में चल रहे ओलंपिक 2021 में देश के लिए सिल्वर मेडल जीतने के बाद वेटलिफ्टर मीराबाई चानू स्वदेश वापस आ गई हैं। वह दिल्ली एयर पोर्ट पर लैंड हुईं, जहाँ एयरपोर्ट स्टाफ समेत लोगों ने तालियों से उनका स्वागत किया गया। इस दौरान दिल्ली एयरपोर्ट पर उनके स्वागत में ‘भारत माता की जय’ औऱ ‘वंदे मातरम’ के नारे लगाए गए। इसके अलावा ‘फूट रही चिंगारी है य़ह भारत की नारी है’ जैसे नारे भी लगाए गए।

मीराबाई चानू ने 24 जुलाई 2021 को महिला वेटलिफ्टिंग इवेंट के 49 किलोग्राम वर्ग में शानदार प्रदर्शन करते हुए भारत को सिल्वर मेडल दिलाया था। पहले उन्होंने क्लीन एंड जर्क में 115 किलोग्राम का भार सफलतापूर्वक उठाया। इसके बाद स्नैच में 87 किग्रा भार उठाकर उन्होंने भारत के लिए सिल्वर मेडल जीता था। इस दौरान चानू ने कुल 202 किलो का वजन उठाया था। उनकी इस सफलता पर खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी सराहना करते हुए उन्हें बधाई दी थी।

इस बीच मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, टोक्यो से खबरें सामने आ रही हैं कि ओलंपिक में वेटलिफ्टिंग में भारत को सिल्वर मेडल दिलाने वाली मीराबाई चानू को गोल्ड मेडल मिल सकता है। दरअसल, वेटलिफ्टिंग में गोल्ड मेडल हासिल करने वाली चीनी खिलाड़ी जजिहू हो (Zhihui Hou) को टोक्यो में डोप टेस्ट के लिए रुकने के लिए कहा गया है। यदि वह इस डोप टेस्ट में फेल हो जाती हैं तो उनसे गोल्ड मेडल छीन लिया जाएगा। इसके बाद दूसरे स्थान पर रहीं चानू को ये दिया जा सकता है।

हालाँकि सिल्वर मेडल मिलने के बाद ही इसको लेकर वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने कहा था कि उन्हें केवल इस बात का गर्व है कि उन्होंने अपने देश के लिए मेडल जीता है। इसके लिए उन्होंने भारतीय खेल प्राधिकरण और केंद्र सरकार की टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम का धन्यवाद दिया था। मीराबाई चानू, कर्णम मल्लेश्वरी के बाद भारत की ओर से ओलंपिक में वेटलिफ्टिंग इवेंट में मेडल जीतने वाली दूसरी महिला हैं। गौरतलब है कि टोक्यो ओलंपिक 2021 में देश के लिए मेडल जीतने वाली मीराबाई चानू पहली महिला वेटलिफ्टर हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘उमर खालिद को मिली मुस्लिम होने की सजा’: कन्हैया के कॉन्ग्रेस ज्वाइन करने पर छलका जेल में बंद ‘दंगाई’ के लिए कट्टरपंथियों का दर्द

उमर खालिद को पिछले साल 14 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था, वो भी उत्तर पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा के मामले में। उसपे ट्रंप दौरे के दौरान साजिश रचने का आरोप है

कॉन्ग्रेस आलाकमान ने नहीं स्वीकारा सिद्धू का इस्तीफा- सुल्ताना, परगट और ढींगरा के मंत्री पदों से दिए इस्तीफे से बैकफुट पर पार्टी: रिपोर्ट्स

सुल्ताना ने कहा, ''सिद्धू साहब सिद्धांतों के आदमी हैं। वह पंजाब और पंजाबियत के लिए लड़ रहे हैं। नवजोत सिंह सिद्धू के साथ एकजुटता दिखाते हुए’ इस्तीफा दे रही हूँ।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
125,039FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe