Thursday, April 25, 2024
Homeदेश-समाजKK के सिर और चेहरे पर मिले चोट के निशान, 'अप्राकृतिक मौत' का केस...

KK के सिर और चेहरे पर मिले चोट के निशान, ‘अप्राकृतिक मौत’ का केस दर्ज: होटल से अस्पताल के बीच क्या हुआ, जानिए हर डिटेल

लाइव परफॉर्मेंस के बाद होटल पहुँचे केके की तबीयत अचानक बिगड़ गई। उन्हें CMRI अस्पताल ले जाया गया, जहाँ डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

31 मई 2022 की रात गायक कृष्णकुमार कुन्नथ उर्फ केके (singer KK) की मौत की खबर आई। इसकी वजह हार्ट अटैक (Singer KK Heart Attack) बताई गई। लेकिन अब जो मीडिया रिपोर्टें सामने आ रही हैं, उसमें बताया गया है कि गायक (Singer Krishna Kumar Kunnath) के सिर और चेहरे पर चोट के निशान मिले हैं। कोलकाता पुलिस ने इस मामले में ‘अप्राकृतिक मौत’ (KK Unnatural Death) का केस दर्ज किया है। कोलकाता के SSKM हॉस्पिटल में ही उनका पोस्टमॉर्टम होना है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उनके निधन पर दुख जताया है। पीएम ने ट्वीट कर कहा है, “केके के निधन से दुखी हूँ, उनके गानों से हर उम्र के लोग जुड़े हुए हैं। वो अपने गानों के जरिए हमारे दिल में हमेशा जिंदा रहेंगे। ईश्वर उनके परिवार को शक्ति दे।”

सिर और चेहरे पर चोट के निशान मिलने के बाद कोलकाता पुलिस ने न्यू मॉर्केट थाने में अप्राकृतिक मौत का केस दर्ज किया है। पुलिस होटल के स्टाफ से पूछताछ करने में जुट गई है। बताया जा रहा है कि केके 2 दिन से कोलकाता में थे, इससे पहले वह पुणे में परफॉर्म कर रहे थे। केके ने कोलकाता में दो कॉलेज फेस्ट में परफॉर्म किया था। एक स्टूडेंट ने बताया कि केके शो-स्टॉपर थे। शुरुआती जानकारी में केके की मौत की वजह कार्डियक अरेस्ट बताई जा रही है। हालाँकि डॉक्टर्स अभी कुछ भी कहने से बच रहे हैं। सिंगर केके एकदम फिट और फाइन थे और वह स्मोकिंग और ड्रिकिंग से भी दूर रहते थे। मीडिया में उनके अचानक निधन को लेकर कई सवाल उठाए जा रहे हैं।

खबरों के मुताबिक, गायक केके के परिजन कोलकाता पहुँच चुके हैं। अब से थोड़ी ही देर में एसएसकेएम अस्पताल में केके का पोस्टमार्टम होगा। इसके बाद ही उनकी मौत की वजह को लेकर स्थिति साफ होगी। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मंगलवार (31 मई 2022) को कोलकाता में एक लाइव कॉन्सर्ट के बाद सिंगर का निधन हो गया। एक कॉलेज की तरफ से नजरुल मंच में एक समारोह का आयोजन किया गया था, वहाँ परफॉर्मेंस देने के बाद जब वह होटल पहुँचे तो अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई, जिसके बाद उन्हें CMRI (कोलकाता मेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट) अस्पताल ले जाया गया। यहाँ डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। 53 वर्षीय सिंगर के निधन की खबर मिलते ही उनके फैंस में शोक की लहर दौड़ गई।

सोशल मीडिया पर सिंगर केके के अंतिम परफॉर्मेंस की कई झलकियाँ शेयर की जा रही हैं। कॉन्सर्ट के दौरान केके ने, “हम रहे या ना रहें कल, कल याद आएँगे ये पल, आशाएँ खिले दिल की, उम्मीदें हँसे दिल की, तू जो मिला तो हो गया सब हासिल… जैसे गाने गाए थे।”

केके ने बॉलीवुड फिल्म ‘काइट्स’ में जिंदगी दो पल की, ‘ओम शांति ओम’ फिल्म में आँखों में तेरी, फिल्म ‘बचना ऐ हसीनों’ में खुदा जाने, फिल्म ‘हम दिल दे चुके सनम’ में तड़प तड़प और ‘तू ही मेरी शब है’ जैसे तमाम गाने गाए थे। इसके अलावा उन्होंने हिंदी समेत तमिल, तेलुगु, कन्नड़ और बंगाली भाषाओं में कई गाने भी रिकॉर्ड किए थे।

मालूम हो कि 23 अगस्त 1968 को दिल्ली में जन्मे मशहूर प्लेबैक सिंगर कृष्णकुमार कुन्नथ को ने फिल्मों में ब्रेक मिलने से पहले करीब 3500 जींगल्स गाए थे। केके ने फिल्म ‘माचिस’ के गाने ‘छोड़ आए हम वो दुनिया’ गाने से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। फिल्म ‘हम दिल दे चुके सनम’ के गाने ‘तड़प तड़प’ से उन्हें इंडस्ट्री में बड़ा ब्रेक मिला था। साल 2000 में केके को ‘तड़प-तड़प’ गाने के लिए बेस्ट प्लेबैक सिंगर के लिए गिल्ड फिल्म अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था। वर्ष 2008 में भी ‘ओम शांति ओम’ फिल्म के गाने ‘आँखों में तेरी’ और 2009 में ‘बचना ए हसीनो’ फिल्म के गाने ‘खुदा जाने’ के लिए उन्हें बेस्ट प्लेबैक सिंगर का अवॉर्ड मिला था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मार्क्सवादी सोच पर नहीं करेंगे काम: संपत्ति के बँटवारे पर बोला सुप्रीम कोर्ट, कहा- निजी प्रॉपर्टी नहीं ले सकते

संपत्ति के बँटवारे केस सुनवाई करते हुए सीजेआई ने कहा है कि वो मार्क्सवादी विचार का पालन नहीं करेंगे, जो कहता है कि सब संपत्ति राज्य की है।

मोहम्मद जुबैर को ‘जेहादी’ कहने वाले व्यक्ति को दिल्ली पुलिस ने दी क्लीनचिट, कोर्ट को बताया- पूछताछ में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं मिला

मोहम्मद जुबैर को 'जेहादी' कहने वाले जगदीश कुमार को दिल्ली पुलिस ने क्लीनचिट देते हुए कोर्ट को बताया कि उनके खिलाफ कुछ भी आपत्तिजनक नहीं मिला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe