Monday, June 24, 2024
Homeदेश-समाजशशि थरूर ने पाकिस्तानी पत्रकार को लिखा 'मेरी प्रियतम'...सुनंदा पुष्कर के शरीर पर चोट...

शशि थरूर ने पाकिस्तानी पत्रकार को लिखा ‘मेरी प्रियतम’…सुनंदा पुष्कर के शरीर पर चोट के 15 निशान

वकील ने दावा किया कि मानसिक परेशानियों और शारीरिक हिंसा के कारण सुनंदा पुष्कर आत्महत्या करने पर मजबूर हुईं। इसलिए आत्महत्या के लिए उकसाने और घरेलू हिंसा करने के आरोप में कॉन्ग्रेस नेता शशि थरूर के ख़िलाफ़ केस फाइल हो।

दिल्ली की रोज़ एवेन्यू अदालत में सुनंदा पुष्कर मामले की सुनवाई के दौरान शशि थरूर पर घरेलू हिंसा के आरोप लगाए गए। बताया गया कि मौत के समय सुनंदा के शरीर पर मारपीट के छोटे-बड़े मिलाकर 15 निशान थे, जो कम से कम 12 घंटा और अधिक से अधिक 4 दिन पुराने थे।

सुनवाई के दौरान सुनंदा केस की जाँच में जुटी दिल्ली पुलिस की ओर से वकील अतुल श्रीवास्तव ने पूरे मामले में सबूतों का हवाला दिया। उन्होंने सुनंदा पुष्कर के साथ घरेलू हिंसा पर सबका ध्यान खींचा। उन्होंने आशंका जताई कि हो सकता है वह समय-समय पर ऐसी हिंसा का शिकार होती रही हों।

वकील ने दावा किया कि मानसिक परेशानियों और शारीरिक हिंसा के कारण सुनंदा पुष्कर आत्महत्या करने पर मजबूर हुईं। इसलिए आत्महत्या के लिए उकसाने और घरेलू हिंसा करने के आरोप में कॉन्ग्रेस नेता शशि थरूर के ख़िलाफ़ केस फाइल हो।

कोर्ट में सुनंदा पुष्कर की मेडिकल रिपोर्ट का हवाला देते हुए थरूर पर आरोप लगे, कि सुनंदा की मौत से 4 दिन पहले दोनों पति-पत्नी में लड़ाई हुई थी, जिसके कारण पुष्कर ने सुसाइड की। अभियोजन पक्ष ने यह भी कहा कि सुनंदा के साथ थरूर के व्यवहार और संबंध दोनों ठीक नहीं थे। अदालत में थरूर और पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार के बीच के संबंधों का भी जिक्र हुआ।

बताया गया कि कॉन्ग्रेस नेता शशि थरूर और पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार के कथित तौर पर संबंध थे। दोनों एक-दूसरे को खत भेजते थे जिसमें प्यार भरी भाषा का इस्तेमाल होता था। अभियोजन पक्ष ने दावा किया कि शशि थरूर द्वारा तरार को लिखे पत्र में मेहर के नाम की जगह ‘मेरी प्रियतम’ कहकर संबोधित किया गया था। ये सब कुछ सुनंदा के लिए किसी प्रताड़ना से कम नहीं था।

इसके अलावा अभियोजन ने इस बात पर भी कोर्ट का ध्यान दिलवाया कि थरूर और सुनंदा दोनों की शादी को 3 साल 4 महीने हुए थे, दोनों की ये तीसरी शादी थी। ऐसे में पुष्कर की इस तरह असामान्य मौत संदिग्ध है।

उल्लेखनीय है कि 17 जनवरी 2014 को दिल्ली के होटल लीला में 51 वर्षीय सुनंदा पुष्कर मृत मिली थीं। उनकी मौत के बाद से पुलिस ने थरूर के खिलाफ़ आईपीसी की धारा 498-A और धारा -306 के तहत मामला दर्ज किया। फिलहाल वह जमानत पर हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तू क्यों नहीं करता पत्रकारिता?’: नाना पाटेकर ने की ऐसी खिंचाई कि आह-ओह करने लगे राजदीप सरदेसाई, अभिनेता ने पूछा – तुझे सिर्फ बुरा...

राजदीप सरदेसाई ने कहा कि 'The Lallantop' ने वाकई में पत्रकारिता के नियम को निभाया है, जिस पर नाना पाटेकर पूछ बैठे कि तू क्यों नहीं इसको फॉलो करता है?

13 लोग ऐसे भी जो घर में सोने आए, लेकिन फिर कभी जगे नहीं: तमिलनाडु में जहरीली शराब से अब तक 56 मौतें, चुप्पी...

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कॉन्ग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को तमिलनाडु में जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में एक पत्र लिखा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -