आतंकी मसूद अजहर के नाम से यूपी के वीर सावरकर स्कूल को उड़ाने की धमकी

भारत ने हाल ही में यूएपीए कानून के तहत जैश सरगना को आतंकी घोषित किया गया है। पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हमले के बाद मसूद अजहर को यूएन ने भी ग्लोबल आतंकी घोषित किया था ।

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी के सतरिख थाना इलाके में एक निजी स्कूल को बम से उड़ाने की धमकी के बाद हड़कंप मच गया। स्कूल के मैनेजर के अनुसार, स्कूल की दीवार पर एक पत्र चिपका मिला, जिसमें लिखा था, “मैं मसूद अजहर (जैश-ए-मोहम्मद का सरगना) यह सूचित कर रहा हूँ कि स्कूल में बम लगाया गया है और उसका रिमोट मेरे हाथ में है। 16 सितंबर को 15 लाख रुपए लेकर लखनऊ के पास इंदिरा नहर से 100 मीटर की दूरी पर पहुँच जाना। वहाँ मेरा आदमी खड़ा मिलेगा। अगर कोई होशियारी की तो ध्यान रखना बम का रिमोट मेरे हाथ में है।”

मामला सतरिख थाना क्षेत्र के वीर सावरकर स्कूल का है। पत्र मिलते ही स्कूल के मैनेजर ने इसकी सूचना पुलिस को दी। जानकारी मिलते ही कई थानों की पुलिस और अधिकारी मौके पर पहुँचे। डॉग स्क्वॉड दस्ता भी मौके पर पहुँचा। जिसके बाद मामले की जाँच शुरू हुई। स्कूल में काफी देर तक जाँच-पड़ताल की गई, लेकिन मौके पर कुछ भी संदिग्ध सामान नहीं मिला। पुलिस का कहना है कि यह काम किसी शरारती तत्व का लगता है, लेकिन पत्र के आधार पर केस दर्ज कर पूरे मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी

गौरतलब है कि, कुछ महीने पहले ही आतंकी मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र ने ग्लोबल आतंकी घोषित किया है। इसके साथ ही भारत सरकार ने भी पिछले दिनों यूएपीए कानून के तहत जैश सरगना को आतंकी घोषित किया गया है। पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हमले के बाद भारत लगातार मसूद अजहर पर दबाव बना रहा था जिसके बाद जैश सरगना को यूएन ने ग्लोबल आतंकी घोषित किया। मसूद के संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा में आतंकी हमले की जिम्मेदारी ली थी।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

नितिन गडकरी
गडकरी का यह बयान शिवसेना विधायक दल में बगावत की खबरों के बीच आया है। हालॉंकि शिवसेना का कहना है कि एनसीपी और कॉन्ग्रेस के साथ मिलकर सरकार चलाने के लिए उसने कॉमन मिनिमम प्रोग्राम का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

113,017फैंसलाइक करें
22,546फॉलोवर्सफॉलो करें
118,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: