Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाजउन्नाव मर्डर केस: तीसरी लड़की को अस्पताल में आया होश, बताई वारदात से पहले...

उन्नाव मर्डर केस: तीसरी लड़की को अस्पताल में आया होश, बताई वारदात से पहले की हकीकत

“लड़की ने अपने बयान में कहा कि विनय और उसका दोस्त घटना के दिन खेत में आए थे। उस समय, वह और दो अन्य लड़कियाँ पशुओं के लिए चारा इकट्ठा कर रही थीं। वहाँ विनय ने उन्हें कुछ नाश्ता देने की कोशिश की, जिसे लड़कियों ने मना कर दिया, लेकिन बाद में उसने उन्हें पानी पिलाया।”

उन्नाव के असोहा थाना क्षेत्र के बबुरहा गाँव में 17 फरवरी को 2 किशोरियों के शव और 1 लड़की के बेहोशी हालात में मिलने से सनसनी फैल गई थी। अब खबर है कि उस तीसरी लड़की को होश आ गया है। उसने एग्जीक्यूटिव मजिस्ट्रेट के सामने बयान भी दिया है। लड़की ने बताया है कि आखिर कैसे उन लड़कियों को पानी के बहाने जहर पिलाया गया।

एसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया, “लड़की ने अपने बयान में कहा कि विनय और उसका दोस्त घटना के दिन खेत में आए थे। उस समय, वह और दो अन्य लड़कियाँ पशुओं के लिए चारा इकट्ठा कर रही थीं। वहाँ विनय ने उन्हें कुछ नाश्ता देने की कोशिश की, जिसे लड़कियों ने मना कर दिया, लेकिन बाद में उसने उन्हें पानी पिलाया।” लड़की के अनुसार, आरोपित ने उनका यौन उत्पीड़न नहीं किया था।

बता दें कि इस केस में छानबीन के दौरान पुलिस ने पाया कि विनय ने लड़कियों को कीटनाशक पिलाकर बेहोश किया और बाद में वहाँ से चला गया। बेहोशी की हालत में लड़कियों के साथ किसी तरह के सेक्सुअल असॉल्ट की बात सामने नहीं आई है। एसपी ने मामले में कहा कि तीसरी लड़की के बयान को दर्ज कर लिया गया है। अब इसी के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि इससे पहले पूछताछ के दौरान आरोपित विनय ने पुलिस को बताया था कि वह तीनों में से एक लड़की से एकतरफा प्यार करता था। लड़की के इंकार करने पर उसने पानी की बोतल में कीटनाशक मिलाकर उसे पिलाया। लेकिन वह पानी अन्य दोनों लड़कियों ने भी पी लिया। जिससे उनकी मौत हो गई। तीनों लड़कियाँ दोनों आरोपित लड़कों को जानती थीं। आरोपितों ने उन्हें गेहूँ में रखने वाली कीटनाशक पिलाई थी। 

इस पूरे मामले में नमकीन के एक पैकेट ने केस की गुत्थी को सुलझाया था। घटनास्थल पर मिला चिप्स का पैकेट सूँघने के बाद खोजी कुत्ता बार बार एक दुकान की ओर जा रहा था। जब पुलिस उस दुकान पर जाँच के लिए गई तो एक नया एंगल सामने आया। दुकानदार ने बताया कि घटना से पहले लड़कियाँ उसकी दुकान से नमकीन खरीदने आईं थी। 

इसी बिंदु पर आगे जाँच करते हुए विनय के बारे में भी पता चला। पूछताछ में उसने बताया कि वह प्यार करता था उससे बात करने के लिए फोन नंबर माँग रहा था। लड़की के कई बार मना करने पर यह बात उसे बर्दाशत नहीं हुई और उसने गुस्से में ये कदम उठाया। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेगासस: ‘खोजी’ पत्रकारिता का भ्रमजाल, जबरन बयानबाजी और ‘टाइमिंग’- देश के खिलाफ हर मसाले का प्रयोग

दुनिया भर में कुल जमा 23 स्मार्टफोन में 'संभावित निगरानी' को लेकर ऐसा बड़ा हल्ला मचा दिया गया है, मानो 50 देशों की सरकारें पेगासस के ज़रिए बड़े पैमाने पर अपने नागरिकों की साइबर जासूसी में लगी हों।

पिता ने उधार लेकर करवाई हॉकी की ट्रेनिंग, निधन के बाद अंतिम दर्शन भी छोड़ा: अब ओलंपिक में इतिहास रच दी श्रद्धांजलि

वंदना कटारिया के पिता का सपना था कि भारतीय महिला हॉकी टीम ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीते। बचपन में पिता ने उधार लेकर उन्हें हॉकी की ट्रेनिंग दिलवाई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,211FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe