Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाजUPPSC पेपर लीक: पहले सॉल्वड पेपर दिए गए, फिर वापस लेकर जला दिए गए,...

UPPSC पेपर लीक: पहले सॉल्वड पेपर दिए गए, फिर वापस लेकर जला दिए गए, ऐसे रची गई थी साज़िश

एसटीएफ वाराणसी यूनिट के प्रभारी विनोद कुमार सिंह के मुताबिक, जाँच में सामने आया कि 5 परीक्षार्थियों को परीक्षा से एक दिन पहले वाराणसी के यूपी कॉलेज बुलाया गया और वहाँ से दस किलोमीटर दूर कौशल विकास मिशन केंद्र ले जाया गया था।

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) की एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा के पेपर लीक मामले में यूपी स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। एसटीएफ ने पेपर लीक करने वाले गैंग के सरगना कौशिक कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी के बाद आरोपी से पूछताछ की गई, जिससे टीम को कई अहम जानकारियाँ मिलीं। दरअसल, कोलकाता में पेपर छापने वाली प्रिटिंग प्रेस का मालिक कौशिक कुमार ही पेपर लीक करने वाले गैंग का सरगना निकला जिसे, एसटीएफ ने वाराणसी के चोलापुर इलाके से मंगलवार (मई 28, 2019) को गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तारी के बाद कौशिक कुमार से पूछताछ की गई और उसके बयान, मोबाइल डिटेल और व्हाट्सएप मैसेजे से मिले सबूतों के आधार पर क्राइम ब्रांच टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए परीक्षा नियंत्रक अंजू लता कटियार को गुरुवार (मई 30, 2019) को प्रयागराज से गिरफ्तार कर लिया। अंजू लता से क्राइम ब्रांच ने गोपनीय स्‍थान पर गहन पूछताछ की। उनके मोबाइल और लैपटॉप को सील कर दिया गया। इसके साथ ही अंजू लता को विशेष न्यायाधीश के समक्ष पेश करने के बाद 14 दिनों की रिमांड पर जेल भेज दिया गया।

गौरतलब है कि, 29 जुलाई 2018 को आयोजित यूपीपीएससी की एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा के हिंदी और सामाजिक विज्ञान विषय का पेपर एग्जाम से एक दिन पहले आउट हुआ था। कोलकाता निवासी अशोक देव ने इसकी शिकायत पश्चिम बंगाल की सीआईडी से की थी।

एसटीएफ वाराणसी यूनिट के प्रभारी विनोद कुमार सिंह के मुताबिक, जाँच में सामने आया कि 5 परीक्षार्थियों को परीक्षा से एक दिन पहले वाराणसी के यूपी कॉलेज बुलाया गया और वहाँ से दस किलोमीटर दूर कौशल विकास मिशन केंद्र ले जाया गया था जहाँ पर सभी को प्रश्‍न पत्रों के उत्तर की प्रतियाँ दी गईं और फिर कुछ देर बाद वापस लेकर जला दी गईं। शिकायत करने वाले आशोक देव ने इसका वीडियो बनाने के साथ फोटो भी लिए थे। पेपर लीक करवाने के लिए कौशिक ने अंजू लता को ₹10 लाख दिए थे, जबकि उसने अभ्‍यर्थियों से 20-20 लाख रुपए लिए थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मंदिर से माथे पर तिलक लगाकर स्कूल जाता था छात्र, टीचर निशात बेगम ने बाहरी लड़कों से पिटवाया: वीडियो में बच्चे ने बताई पूरी...

टीचर निशात बेगम का कहना है कि ये सब छात्रों के आपसी झगड़े में हुआ। पीड़ित छात्र को बाहरी लड़कों ने पीटा है। अब उसके परिजन कार्रवाई की माँग कर रहे हैं।

सोहा ने कब्र पर किया अब्बू को याद: भड़के कट्टरपंथियों ने इस्लाम से किया बाहर, कहा- ‘शादियाँ हिंदुओं से, बुतों की पूजा, फिर कैसे...

कुणाल खेमू से शादी करने वाली सोहा अली खान हाल में अपने अब्बू की कब्र पर अपनी माँ शर्मिला टैगोर और बेटी इनाया के साथ पहुँचीं। लेकिन कट्टरपंथी यह देख भड़क गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,766FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe