Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजभाग रहे थे फहीम, सलीम, यूसुफ और इस्लाम, UP पुलिस ने गोली मारकर पकड़ा:...

भाग रहे थे फहीम, सलीम, यूसुफ और इस्लाम, UP पुलिस ने गोली मारकर पकड़ा: रामपुर से पहले श्रावस्ती में भी धरे गए थे 6 गो तस्कर

पुलिस ने आरोपितों के पास से चार पशु, उसे काटने का सामान, पाँच तमंचा, तीन 12 बोर और तीन 315 बोर के हथियार बरामद किए हैं। इसके अलावा, पाँच चाकू, एक बोगदा, तराजू और बाट को भी पुलिस ने जब्त किया है। एसपी प्राची सिंह ने रात में घटना स्थल का जायजा खुद लिया।

उत्तर प्रदेश में गो-तस्करों के साथ पुलिस की मुठभेड़ हुई है। इनमें कई गो-तस्करों को गोली लगी है। दो अलग-अलग मामलों में यूपी पुलिस ने गो-तस्करों ने गिरफ्तार कर लिया है। मामला रामपुर और श्रावस्ती से जुड़ा हुआ है।

रामपुर जिले में स्वार और टांडा थाना की पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए चार गो तस्करों को घेर लिया। उन्होंने क्रूरतापूर्वक गोवंश को बाँध रखा था। पुलिस ने मुखबिरों के सूचना के आधार पर उन्हें जब रोकने की कोशिश की तो वे पुलिस पर फायरिंग करने लगे।

इसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की। इसमें फहीम पुत्र सफी अहमद, सलीम पुत्र महबूब शाह के पैर में गोली लगी। वहीं, दढ़ियाल के चौकी प्रभारी के बाएँ हाथ में गोली लगी। इससे वे भी घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।

हालाँकि, पुलिस की इस कार्रवाई के दौरान दो अन्य तस्कर भागने में कामयाब रहे। भागने वाले गो-तस्करों के नाम मनन पुत्र इस्लाम और फरमान पुत्र युसूफ है। इसी बीच स्वार थाना के प्रभारी कोमल सिंह को दो संदिग्ध दिखाई दिए।

स्वार थाना प्रभारी ने जब उन्हें रोकने की कोशिश की तो वे उन पर गोली चलाने लगे। कोमल सिंह ने भी फायरिंग की, जिसमें इन दोनों आरोपितों के पैरों में गोली जा लगी। इस तरह चारों पशु तस्करों को पैर में गोली लगने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस ने पशु तस्करों के पास से एक गोवंशीय पशु, एक कार, तीन तमंचे, सात कारतूत और चार खाली कारतूस बरामद किए हैं। बताया जा रहा है कि आरोपितों पर पहले ही कई मुदकमें दर्ज हैं। वहीं, आरोपितों ने एक सांड की हत्या की बात कबूल की है।

श्रावस्ती में एनकाउंटर के बाद 6 गिरफ्तार

वहीं, यूपी के श्रावस्ती में यूपी पुलिस ने मुठभेड़ के बाद 6 पशु तस्करों को गिरफ्तार किया है। इनमें पाँच तस्करों के पैरों में गोली लगी है। सूचना के आधार पर पुलिस ने जब घेराबंदी शुरू की तो उन्होंने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी।

इसके बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की, जिसमें 5 पशु तस्करों के पैरों में गोली लगी। कोतवाली भिनगा और थाना सिरसा की संयुक्त पुलिस टीम ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस ने आरोपितों के पास से चार पशु, उसे काटने का सामान, पाँच तमंचा, तीन 12 बोर और तीन 315 बोर के हथियार बरामद किए हैं। इसके अलावा, पाँच चाकू, एक बोगदा, तराजू और बाट को भी पुलिस ने जब्त किया है। एसपी प्राची सिंह ने रात में घटना स्थल का जायजा खुद लिया।

गिरफ्तार आरोपितों की पहचान सलीम पुत्र नुरुल सलाम, आँधी उर्फ नसीरुद्दीन पुत्र कादिर अली, सहीम पुत्र अब्दुल अमीन, छोटन उर्फ इकबाल पुत्र नन्हें खान, शहजाद उर्फ सैय्यद बग्गा पुत्र मोहर्रम अली और सूफियान पुत्र इस्लाम के रूप में हुई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -