Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजहेलीकॉप्टर के पंखे से लग कर अधिकारी की मौत: केदारनाथ यात्रा से पहले निरीक्षण...

हेलीकॉप्टर के पंखे से लग कर अधिकारी की मौत: केदारनाथ यात्रा से पहले निरीक्षण करने गए थे, सेल्फी के चक्कर में कट गई गर्दन

अमित सैनी केदारनाथ यात्रा से पहले हेलीपैड का निरीक्षण करने गए थे। हेलीपैड पर हेलीकॉप्टर की लैंडिंग के समय अमित सैनी सेल्फी लेने की कोशिश कर रहे थे।

केदारनाथ यात्रा शुरू होने से पहले ही उत्तराखंड में एक बड़ा हादसा हो गया। दरअसल, हेलीकॉप्टर के पंखे की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। मृतक की पहचान अमित सैनी के रूप में हुई। वह उत्तराखंड नागरिक उड्डयन विकास प्राधिकरण में फाइनेंशियल कंट्रोलर थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अमित सैनी केदारनाथ यात्रा से पहले हेलीपैड का निरीक्षण करने गए थे। हेलीपैड पर हेलीकॉप्टर की लैंडिंग के समय अमित सैनी सेल्फी लेने की कोशिश कर रहे थे। इसी दौरान वह हेलीकॉप्टर न टेल रोटर ब्लेड, यानी कि पिछले पंखे की चपेट में आ गए। इससे उनकी गर्दन कट गई और मौके पर ही मौत हो गई। दुर्घटना क्रिस्टल एविएशन कंपनी के हेलीकॉप्टर से हुई।

रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि हेलीकॉप्टर की लैंडिंग के समय हेलीपेड पर उत्तराखंड नागरिक उड्डयन विकास प्राधिकरण के सीईओ भी मौजूद थे।

25 अप्रैल को खुलेंगे बाबा केदारनाथ के कपाट

बता दें कि इस साल केदारनाथ यात्रा मंगलवार (25 अप्रैल, 2023) से शुरू हो रही है। इस यात्रा को लेकर उत्तराखंड सरकार व स्थानीय प्रशासन हर संभव तैयारियों में जुटा हुआ है। मंदिर प्रबंधन भी अपने स्तर पर काम कर रहा है। तीर्थयात्रियों को अधिक समस्या न हो इसके लिए हवाई सेवाएँ भी शुरू की जा रहीं हैं। हेलीपैड पर जमी बर्फ को भी हटाया जा चुका है। केदारनाथ धाम की यात्रा के लिए इस साल 16 लाख से अधिक यात्रियों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। आने वाले दिनों में यह संख्या और भी अधिक होने की संभावना जताई जा रही है।

केदारनाथ यात्रा को लेकर उत्तराखंड सरकार ने रविवार (23 अप्रैल 2023) को एक अलर्ट जारी किया है। इस अलर्ट में कहा गया है कि केदारनाथ धाम में लगातार बारिश और बर्फबारी हो रही है। इसको देखते हुए श्रद्धालुओं को सावधान रहने और मौसम विभाग द्वारा जारी सूचनाओं के आधार पर ही यात्रा करने की सलाह दी गई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केंद्र सरकार की नौकरी के मजे? अब 15 मिनट से ज्यादा की देरी पर आधे दिन की छुट्टी: ऑफिस टाइमिंग को लेकर कड़ा फैसला

भारत सरकार के कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग (DoPT) ने आदेश जारी किया है कि जिन दफ्तरों के खुलने का समय 9 बजे है, वहाँ अधिकतम 15 मिनट का ही ग्रेस पीरियड मिलेगा।

ईदगाह का गेट निकाले जाने उग्र हुई भीड़ ने जला डाला दुकान और ट्रैक्टर, पुलिस पर भी पत्थरबाजी: जोधपुर में धारा-144 लागू, 40 आरोपित...

ईदगाह के पीछे की दीवार से 2 दरवाजों को निकाले जाने का काम शुरू किया गया था। पुलिस ने बताया कि बस्ती में रहने वाले कुछ लोगों ने इसका विरोध किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -