Sunday, September 19, 2021
Homeदेश-समाजValentine’s Day: हैदराबाद में बजरंग दल के सदस्यों ने प्रेमी जोड़े की कराई शादी

Valentine’s Day: हैदराबाद में बजरंग दल के सदस्यों ने प्रेमी जोड़े की कराई शादी

एक हफ्ते पहले, बजरंग दल ने चेतावनी जारी की थी कि तेलंगाना में कहीं भी अगर कोई जोड़ा वेलेंटाइन डे पर पाया जाता है, तो उनके माता-पिता को बुलाया जाएगा और उसके बाद अभिवावक के सामने इन प्रेमी जोड़े की काउंसिलिंग की जाएगी।

हैदराबाद के मेडचल में एक कंडलाकोया पार्क है। मीडिया से आ रही ख़बरों के मुताबिक इस पार्क में वेलेंटाइन डे के मौके पर बजरंग दल के सदस्यों द्वारा एक प्रेमी जोड़े की शादी कराई गई है। हालाँकि, इस मामले में शादी के बाद से भगवा-पहने बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ प्रेमी जोड़े द्वारा कोई शिकायत या एफआईआर दर्ज़ नहीं की गई है। ऐसे में यह माना जा रहा है कि दल की मौजूदगी में यह शादी युगल की सहमति से किया गया।

वेलेंटाइन के मौके पर प्रेमी जोड़े को शादी कराने के बाद बजरंग दल के सदस्यों ने कहा कि हमलोग वेलेंटाइन डे जश्न के ख़िलाफ़ हैं। वेलेंटाइन डे हिंदू परंपराओं के ख़िलाफ़ है। यह दिन हमारे देश की संस्कृति का प्रतीक नहीं है।

फरवरी के पहले ही सप्ताह से बजरंग दल ने शहर में वेलेंटाइन डे जश्न के ख़िलाफ़ बाइक रैलियों के जरिए विरोध प्रदर्शन किया था। इस रैली के माध्यम से बजरंग दल के लोगों ने वेलेंटाइन डे मनाने के ख़िलाफ़ प्रेमी जोड़े को सतर्क किया था। यही नहीं बजरंग दल के सदस्यों ने प्रेमी जोड़े को किसी पार्क या पब में जाकर वेलेंटाइन डे को सेलीब्रेट करने का भी विरोध किया था।

बता दें कि एक हफ्ते पहले, बजरंग दल ने चेतावनी जारी की थी कि तेलंगाना में कहीं भी अगर कोई जोड़ा वेलेंटाइन डे पर पाया जाता है, तो उनके माता-पिता को बुलाया जाएगा और उसके बाद अभिवावक के सामने इन प्रेमी जोड़े की काउंसिलिंग की जाएगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिब्बल की राह पर थरूर, कॉन्ग्रेसी आलाकमान पर साधा निशाना, कहा – ‘पार्टी को तुरंत नए नेतृत्व की जरूरत’

"सोनिया गाँधी के खिलाफ किसी ने एक शब्द नहीं कहा, लेकिन वह खुद से ही पद छोड़ना चाहती हैं। नए नेतृत्व को जल्द से जल्द पद सँभाल लेना चाहिए।"

पंजाब के बाद राजस्थान में फँसी कॉन्ग्रेस: सचिन पायलट दिल्ली में, CM अशोक गहलोत के OSD का इस्तीफा

इस्तीफे की वजह लोकेश शर्मा द्वारा किया गया एक ट्वीट बताया जा रहा है जिसके बाद कयासों का नया दौर शुरू हो गया था और उनके ट्वीट को पंजाब के घटनाक्रम के साथ भी जोड़कर देखा जाने लगा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,150FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe