Sunday, July 3, 2022
Homeदेश-समाजउपद्रवियों के मोबाइल में कोचिंग सेंटरों के वीडियो, पटना DM ने दिए जाँच के...

उपद्रवियों के मोबाइल में कोचिंग सेंटरों के वीडियो, पटना DM ने दिए जाँच के आदेश: व्हाट्सएप्प कॉल से पुलिस को दिया जा रहा चकमा

दानापुर रेलवे स्टेशन में तोड़फोड़ और आगजनी के मामले में पुलिस ने 170 मामले दर्ज किए हैं और 46 उपद्रवियों को गिरफ्तार भी किया है।

भारत सरकार की अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) को लेकर बिहार (Bihar) में वबाल पर अब वहाँ के कोचिंग सेंटर सरकार के रडार पर आ गए हैं। पटना जिला प्रशासन को शक है कि हो सकता है अग्निपथ योजना के खिलाफ आग कोचिंग सेंटरों से ही भड़की हो। इसी को देखते हुए पटना के जिलाधिकारी डॉ चंद्रशेखकर ने इनकी भूमिका की जाँच का आदेश जारी किया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, डॉ चंद्रशेखर ने सख्त लहजे में चेतावनी दी है कि अगर कहीं भी कोचिंग चलाने वालों की भूमिका इस हिंसक आंदोलन में नजर आई तो कोचिंग संचालकों के खिलाफ कड़े से कड़ा एक्शन लिया जाएगा। वीडियो फुटेज के जरिए उपद्रवियों की तलाश की जा रही है।

क्यों रडार पर हैं बिहार के कोचिंग सेंटर

‘अग्निपथ’ योजना के विरोध में बिहार सुलग रहा है। दानापुर रेलवे स्टेशन में तोड़फोड़ और आगजनी के मामले में पुलिस ने 170 मामले दर्ज किए हैं और 46 उपद्रवियों को गिरफ्तार भी किया है। पटना के डीएम चंद्रशेखर के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए उपद्रवियों के मोबाइल की जाँच करने पर कुछ कोचिंग सेंटरों के वीडियो फुटेज और मैसेज मिले हैं। इसी कारण से अब इस हिंसा को लेकर कोचिंग सेंटरों पर शक गहरा गया है।

‘दैनिक भास्कर’ की रिपोर्ट के मुताबिक, इस बार युवाओं के विरोध का पैटर्न जरूर बदला है, लेकिन पटना के कोचिंग हब कहे जाने वाले मछुआ टोली, भखनी पहाड़ी समेत कई अन्य जगहों में जहाँ भी कोचिंग सेंटर हैं, वहीं से इसकी हिंसा की आग फैली है। हालाँकि, RRB NTPC के विरोध प्रदर्शनों से सबक लेकर इस बार विरोध के टेंड्र को बदलकर सतर्कता पर फोकस किया गया है। प्रदर्शनकारी सोशल मीडिया, मैसेज आदि से परहेज कर रहे हैं और वो अब व्हाट्सएप कॉल का सहारा ले रहे हैं। ताकि पुलिस को चकमा दे सकें।

गौरतलब है कि शनिवार (18 जून, 2022) को बिहार में बंद का आह्वान किया गया है। जबकि एक दिन पहले शुक्रवार को हुई हिंसा में रेलवे की 8 बोगियों, 27 रेलवे स्टेशनों और 14 ट्रेनों को आग के हवाले कर दिया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अयोध्या के हनुमान मंदिर में सो रहे युवक की गला रेतकर हत्या, रात भर खून से लथपथ पड़ा रहा शव: पुलिस जाँच में जुटी,...

अयोध्या के हनुमान मंदिर में युवक की हत्या किस वजह से हुई, इसका अभी पता नहीं चल पाया है। पुलिस लोगों से पूछताछ करके हत्या की गुत्थी सुलझाने में लगी है।

दोस्त सलमान, शाहवेज, अलीजान और इमरान ने यश रस्तोगी को मार डाला, शव टुकड़े-टुकड़े कर नाले में फेंक दिया: मेरठ पुलिस बोली – ब्लैकमेल...

यूपी के मेरठ में LLB छात्र यश रस्तोगी की गला दबा कर और चाकुओं से वार कर के हत्या कर दी गई। दोस्त सलमान, शाहवेज, अलीजान और इमरान गिरफ्तार।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,752FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe