Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाज'अल्लाह से मिलूँगी': आयशा ने हँसते हुए की आत्महत्या, वीडियो में कहा- 'प्यार करती...

‘अल्लाह से मिलूँगी’: आयशा ने हँसते हुए की आत्महत्या, वीडियो में कहा- ‘प्यार करती हूँ आरिफ से, परेशान थोड़े न करूँगी’

"प्यार करते हैं आरिफ से। उसे परेशान थोड़े न करेंगे। उसे आज़ादी चाहिए, आज़ाद रहे वो। चलो, अपनी ज़िंदगी तो यहीं तक है। मैं खुश हूँ कि मैं अल्लाह से मिलूँगी। मैं उनसे पूछूँगी कि मुझसे क्या गलती हुई। अच्छे माँ-बाप मिले, दोस्त भी बहुत अच्छे मिले- फिर भी कमी कहाँ रह गई? और अल्लाह से मैं ये भी कहूँगी कि मुझे दोबारा इंसानों की शक्ल न दिखाए।"

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक महिला हँसते-हँसते नदी में कूद जाती है। हिजाब पहनी इस महिला के आत्महत्या के वीडियो को देख कर लोग दंग हैं कि कोई ऐसा क्यों करेगा? उक्त वीडियो गुजरात के अहमदाबाद का है और जिस नदी में महिला ने कूद कर आत्महत्या की, वो साबरमती नदी है। आयशा नाम की इस महिला ने अपनी आत्महत्या का वीडियो सोशल मीडिया पर खुद लाइव किया था।

उक्त घटना रिवरफ्रंट पुलिस थाना क्षेत्र की है, जहाँ के पुलिस अधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुँच कर मामले की जाँच शुरू कर दी है। महिला ने शेयर की गई वीडियो में कहा, “मुझे ज़िंदगी मिली। सुकून है। अब खुदा से मिलना चाहती हूँ।” महिला का पूरा नाम आयशा आरिफ खान है। उसने वीडियो में लोगों को ‘हैलो’ कह कर ग्रीट करते हुए दावा किया कि वो जो भी करने जा रही है, वो अपनी मर्जी से करने जा रही है।

महिला ने कहा, “मैं किसी के दबाव में आकर ऐसा नहीं कर रही हूँ। बस इतना समझ लीजिए कि खुदा ने मुझे इतनी ही ज़िंदगी दी थी और ये ज़िंदगी बहुत ही सुकून वाली मिली। और डैड, आप कब तक अपनों से लड़ोगे? अब केस वापस ले लीजिए। एक चीज जरूर सीख रही हूँ कि मोहब्बत करनी है तो दो तरफा करो, क्योंकि एकतरफा में कुछ हासिल नहीं है। वरना मोहब्बत तो निकाह के बाद भी अधूरी रहती है।

महिला ने उक्त वीडियो में आगे कहा, “ऐ प्यारी सी नदी, दुआ करते हैं कि मुझे अपने में समा ले और मेरे पीठ पीछे जो भी हो, प्लीज ज्यादा बखेड़ा मत करना। मैं हवाओं की तरह हूँ। बस बहते रहना चाहती हूँ। किसी के लिए नहीं रुकना। मैं खुश हूँ कि आज के दिन जिन सवालों के जवाब चाहिए थे, वे मिल गए और मुझे जिसको जो बताना था, बता चुकी हूँ। थैंक्यू, मुझे दुआओं में याद रखना। पता नहीं, जन्नत मिले न मिले। चलो अलविदा।”

महिला ने ये भी कहा, “प्यार करते हैं आरिफ से। उसे परेशान थोड़े न करेंगे। उसे आज़ादी चाहिए, आज़ाद रहे वो। चलो, अपनी ज़िंदगी तो यहीं तक है। मैं खुश हूँ कि मैं अल्लाह से मिलूँगी। मैं उनसे पूछूँगी कि मुझसे क्या गलती हुई। अच्छे माँ-बाप मिले, दोस्त भी बहुत अच्छे मिले- फिर भी कमी कहाँ रह गई? सुकून के साथ जाना चाहती हूँ। और अल्लाह से मैं ये भी कहूँगी कि मुझे दोबारा इंसानों की शक्ल न दिखाए।”

‘आज तक’ की खबर के अनुसार, आयशा के पिता लियाकत अली दर्जी हैं और उन्होंने बताया कि उनकी बेटी का निकाह राजस्थान के जालौर निवासी आरिफ खान के साथ 2018 में हुआ था। पिता ने आरोप लगाया कि निकाह के बाद उसके ससुराल वाले दहेज़ के लिए उसे प्रताड़ित कर रहे थे। उनका आरोप है कि पैसे देने के बावजूद लालची आरिफ बीवी को मायके छोड़ गया था। उन्होंने बताया कि आयशा ने ख़ुदकुशी की धमकी दी तो आरिफ ने ‘मरना है तो जाकर मर जा’ भी कहा था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,226FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe