Friday, August 12, 2022
Homeदेश-समाजकिसानों की सब्जियों को गाड़ी से रौंदने वाला दरोगा सस्पेंड: CM योगी ने आरोपित...

किसानों की सब्जियों को गाड़ी से रौंदने वाला दरोगा सस्पेंड: CM योगी ने आरोपित के वेतन से दिलवाया पीड़ितों को मुआवजा

इस कार्रवाई को भविष्य के लिए सीख बताया जा रहा है और साथ ही ये सन्देश भी दे दिया गया है कि योगी सरकार किसानों को लेकर ख़ासी संवेदनशील है। निर्णय लिया गया है कि आरोपित दरोगा के वेतन से ही नुकसान की भरपाई की जाएगी। अब तक 11 किसानों को मुआवजा दिया भी जा चुका है जबकि अन्य के बारे में सूचना इकट्ठी की जा रही है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन किसानों को न्याय दिलाया है, जिनकी सब्जियों के ऊपर से पुलिस की गाड़ी गुजरी थी। न सिर्फ़ ग़रीब किसानों के नुक़सान की भरपाई की गई बल्कि आरोपित सब इंस्पेक्टर को भी सस्पेंड कर दिया गया। ये घटना एक वीडियो के वायरल होने के बाद से चर्चा में आई, जिसका मुख्यमंत्री ने तुरंत संज्ञान लिया। ये घटना प्रयागराज की है। वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि पुलिस की गाड़ी ने किसानों की सब्जियों को रौंद डाला।

सीएम योगी के सख्त होने के बाद घूरपुर के एसआई सुमित आनंद को एसएसपी ने त्वरित रूप से लाइन हाजिर किया। उन्हें सस्पेंड किए जाने के बाद उनके ख़िलाफ़ जाँच बैठा दी गई है। घूरपुर में बुधवार (जून 3, 2020) को साप्ताहिक मंडी लगी थी। ये वीडियो उसी दिन का है। प्रयागराज पुलिस ने भी ट्विटर पर इसे दरोगा का कृत्य करार दिया और साथ ही निलंबन की सूचना दी। लोगों ने इसके लिए योगी सरकार को धन्यवाद दिया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिया कि वो घटनास्थल पर जाएँ और एक-एक पीड़ितों से मिल कर कुल नुकसान का हिसाब लगाएँ। साथ ही नुकसान के भरपाई का भी आदेश दिया गया। इसके बाद वरिष्ठ अधिकारियों ने ग़रीब पीड़ितों से मिल कर उन्हें हुए नुकसान पर खेद प्रकट किया। पुलिस ने वहाँ पहुँच कर पीड़ितों से मुलाक़ात की और मुख्यमंत्री कार्यालय से आए आदेश का पालन किया गया।

‘दैनिक जागरण’ की ख़बर के अनुसार, सूबे के इतिहास में यह संभवतः पहली बार हुआ है जब किसी दरोगा के कृत्य पर ख़ुद मुख्यमंत्री ने इस तरह से संज्ञान लिया हो। इस कार्रवाई को भविष्य के लिए सीख बताया जा रहा है और साथ ही ये सन्देश भी दे दिया गया है कि योगी सरकार किसानों को लेकर ख़ासी संवेदनशील है। निर्णय लिया गया है कि आरोपित दरोगा के वेतन से ही नुकसान की भरपाई की जाएगी। अब तक 11 किसानों को मुआवजा दिया भी जा चुका है जबकि अन्य के बारे में सूचना इकट्ठी की जा रही है।

यमुनापार के एसपी चक्रेश मिश्रा ने ख़ुद घटनास्थल पर पहुँच कर किसानों व सब्जी विक्रेताओं से माफ़ी माँगी। कहा जा रहा है कि लॉकडाउन के कारण सिर्फ बुधवार और शुक्रवार को बाजार लगाने की अनुमति दी गई थी लेकिन कुछ किसानों ने गुरुवार को भी मंडी लगा दी। सरकारी वाहन से पहुँचे दरोगा ने उन सब्जियों को रौंद डाला और साथ ही अभद्र टिप्पणी भी की। कुछ लोगों ने इस घटना का वीडियो बना लिया, जो वायरल हो गया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘द सैटेनिक वर्सेज’ के लेखक सलमान रुश्दी पर जुमे के दिन चाकू से हमला, न्यूयॉर्क में हुई वारदात

'द सैटेनिक वर्सेज' के लेखक उपन्यासकार सलमान रुश्दी को न्यूयॉर्क में भाषण देने से पहले पर चाकू से हमला किया गया है।

‘मानसखण्ड मंदिर माला मिशन’ के जरिए प्राचीन मंदिरों को आपस में जोड़ेंगे CM धामी, माँ वाराही देवी मंदिर में पूजा-अर्चना कर बगवाल में हुए...

सीएम धामी ने कुमाऊँ के प्राचीन मंदिरों को भव्य बनाने और उन्हें आपस में जोड़ने के लिये मानसखण्ड मंदिर माला मिशन की शुरुआत की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,239FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe