Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजआंध्र प्रदेश : जगन मोहन रेड्डी की जीत पर लगाया ₹30 करोड़ का दाँव,...

आंध्र प्रदेश : जगन मोहन रेड्डी की जीत पर लगाया ₹30 करोड़ का दाँव, बुरी हार के बाद YSRCP के नेता ने जहर खाकर दे दी जान

आंध्र प्रदेश में जगन मोहन रेड्डी की पार्टी YSRCP को बुरी तरह हार मिली थी, जिसके बाद उनकी पार्टी पर 30 करोड़ की शर्त लगाने वाले एक नेता ने आत्महत्या कर ली, क्योंकि वो कर्ज में डूब गया था।

आंध्र प्रदेश में जगन मोहन रेड्डी की पार्टी YSRCP के नेता ने आत्महत्या कर ली। YSRCP के नेता जग्गावरपु वेणुगोपालारेड्डी ने जगन मोहन रेड्डी की पार्टी की जीत पर 30 करोड़ रुपए का दाँव लगाया था, लेकिन पार्टी की बुरी तरह से हार की वजह से सारे पैसे चले गए, जिसके बाद जग्गावरपु ने आत्महत्या कर ली। YSRCP नेता जग्गावरपु वेणुगोपालारेड्डी जो पैसे हार गए, उसके लिए उनके घर पर लोगों ने पथराव भी किया था, जिसके बाद उन्होंने ये कदम उठा लिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये मामला आंध्र प्रदेश एलुरु जिले के तुरपुदीगावल्ली गाँव की है। जहाँ 52 साल के जग्गावरपु वेणुगोपालारेड्डी ने नुजिवेदु मंडल निर्वाचन क्षेत्र में वाईएसआरसीपी की जीत पर पैसे लगाए थे। उन्होंने कई गाँवों में शर्त लगाई थी, लेकिन जगन मोहन रेड्डी की पार्टी हार गई, जिसकी वजह से उन पर काफी देनदारी बढ़ गई थी।

बताया जा रहा है कि जब 4 जून 2024 को वोटों की गिनती चल रही थी, और YSRCP की हार होने लगी, तो वेणुगोपालारेड्डी अपने गाँव से फरार हो गए थे। इसके बाद 7 जून को वेणुगोपालारेड्डी के घर पर कर्ज देने वालों ने हमला कर दिया और एयर कंडीशनर के साथ ही सोफा और बेड समेत उनकी संपत्तियों को लूट लिया गया। दूसरे दिन जब वो घर लौटा, तो पता चला कि उसके घर पर लोगों ने तोड़फोड़ की है। वो लोग पैसों की माँग कर रहे थे, जिसके बाद उसने कीटनाशक पी लिया। इस मामले में पुलिस के एसआई प्रसाद रेड्डी ने कहा कि पुलिस अभी मामले की जाँच कर रही है।

बता दें कि 4 जून 2024 को आए लोकसभा चुनाव के नतीजों में वाईएसआरसीपी नुजिवीडू मंडल निर्वाचन क्षेत्र की सीट तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) से हार गई। ऐसा कहा जाता है कि वेणुगोपालारेड्डी को 30 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ, कुछ मीडिया रिपोर्टों ने यह राशि 10 करोड़ रुपये बताई।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -