Thursday, June 30, 2022
Homeराजनीति...इरानियों, अफ्रीकियों के आने से बना भारत: ओवैसी ने बताया- 'भारत मेरा नहीं है,...

…इरानियों, अफ्रीकियों के आने से बना भारत: ओवैसी ने बताया- ‘भारत मेरा नहीं है, ये धरती मेरे बाप की है’

ओवैसी को वीडियो में कहते सुना जा सकता है, "भारत न तो मेरा है, न ठाकरे का, न ही मोदी-शाह का। अगर भारत किसी का है, तो वह द्रविड़ और आदिवासियों का है, लेकिन भाजपा-आरएसएस मुगलों के बाद ही आए हैं। भारत का गठन अफ्रीका, ईरान, मध्य एशिया, पूर्वी एशिया से लोगों के पलायन के बाद हुआ था।"

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहालदुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने महाराष्ट्र के भिवंडी में आरएसएस-भाजपा के लिए जहर उगलने के दौरान बताया कि ये भारत उनका नहीं है। अगर ये किसी का है तो ड्रविडों और आदिवासियों का है। ओवैसी ने अपनी बात के साथ ये भी कहा कि मुगलों के साथ भारत में अन्य लोग भी पलायन करके आए थे लेकिन आरएसएस कहता रहता है कि सिर्फ यहाँ मुगल आए।

समाचार एजेंसी एएनआई द्वारा साझा की गई कार्यक्रम की वीडियो में सुन सकते हैं, “भारत न तो मेरा है, न ठाकरे का, न ही मोदी-शाह का। अगर भारत किसी का है, तो वह द्रविड़ और आदिवासियों का है, लेकिन भाजपा-आरएसएस मुगलों के बाद ही आए हैं। भारत का गठन अफ्रीका, ईरान, मध्य एशिया, पूर्वी एशिया से लोगों के पलायन के बाद हुआ था।”

ओवैसी ने कहा, “चार जगहों से लोग आए थे, तब से माइग्रेशन हो रहा है। लेकिन बीजेपी-आरएसएस वाले कहते हैं कि मुगल आए, मुगल आए। अफ्रीका से भी आए थे, ईरान से भी आए थे, सेंट्रल और ईस्ट एशिया से भी आए थे… ये सब मिले तो भारत बना। मगर आदिवासी यहाँ का है, द्रविड़ यहाँ के हैं। ये आर्यन आए थे 4000 साल पहले। हैरत की बात है जब मैंने कहा कि बाबरी की तरह ज्ञानवापी मस्जिद को भी छीनने की कोशिश की जा रही है। तो सोशल मीडिया पर संघ परिवार के लोगों ने कह दिया कि ओवैसी के पूर्वज तो ब्राह्मण थे। मेरा ताल्लुक बाबा आदम से है। हमारे अब्बा कौन हैं… बाबा आदम।” ओवैसी ने कहा, “ऊपर वाले ने आदम को अम्मी के साथ भेजा तो बारत में भेजा। इस हिसाब से ये धरती मेरे भाप की है…।”

जम्मू-कश्मीर में इस्लामी आतंकवादियों द्वारा लोगों को निशाना बनाने पर ओवैसी ने इसका जिम्मेदार मोदी सरकार को दर्शाया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार अनुच्छेद 370 हटाने की बात करती है लेकिन कश्मीर में हिंदू मारे जा रहे हैं। फिल्मी एक्टर को गोली मार दी गई इसका जिम्मेदार कौन है। क्या ये सब मुगल बादशाह अकबर, शाहजहाँ और औरंगजेब ने किया है। ओवैसी ने बढ़ती महंगाई का उदाहरण देकर पीलू खान की मौत का जिम्मेदार, खरगोन में चले बुलडोजर का जिम्मेदार मोदी सरकार को दिखाया और साथ में सवाल भी किया कि मुसलमानों की मौत का जिम्मेदार कौन है?

महाराष्ट्र में अपनी मुस्लिम राजनीति करने के दौरान ओवैसी ने एनसीपी के शरद पवार के ऊपर निशाना साधते हुए पूछा कि आखिर शरद पवार ने संजय राउत को तो जेल जाने से बचा लिया। मगर, नवाब मलिक को क्यों नहीं बचाया। क्या संजय रात, नवाब मलिक से ज्यादा जरूरी हो गए। ओवैसी ने भाजपा, एनसीपी, कॉन्ग्रेस, सपा सबको घेरा और पूछा य़े धर्मनिरपेक्ष दल हैं। लेकिन अगर को मुस्लिम पार्टी का सदस्य जेल जाए तो ठीक है। इस कार्यक्रम में ओवैसी ने खालिद गुड्डू की रिहाई की माँग भी की जिसे 2020 में कई अपराध के मामले में गिरफ्तार किया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बनेंगे, नहीं थी किसी को कल्पना’: राजनीति के धुरंधर एनसीपी चीफ शरद पवार भी खा गए गच्चा, कहा- उम्मीद थी वो...

शरद पवार ने कहा कि किसी को भी इस बात की कल्पना नहीं थी कि एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र का सीएम बना दिया जाएगा।

आँखों के सामने बच्चों को खोने के बाद राजनीति से मोहभंग, RSS से लगाव: ऑटो चलाने से महाराष्ट्र के CM बनने तक शिंदे का...

साल में 2000 में दो बच्चों की मौत के बाद एकनाथ शिंदे का राजनीति से मोहभंग हुआ। बाद में आनंद दिघे उन्हें वापस राजनीति में लाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,188FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe