Friday, July 30, 2021
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं ने ‘कॉन्ग्रेस के दलालों होश में आओ’ के नारे लगाए, पार्टी...

कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं ने ‘कॉन्ग्रेस के दलालों होश में आओ’ के नारे लगाए, पार्टी प्रभारी के सामने चली कुर्सियाँ

बैठक के शुरू होते ही वहाँ मौजूद कार्यकर्ताओं की आपस में कहा सुनी हो गई। देखते ही देखते मामला इतना बिगड़ गया कि भक्त चरण दास सबसे शांत होने की अपील करते लगे लेकिन अन्य सभी लोग आपसी बहस में उलझ गए।

बिहार की राजधानी पटना में कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प का मामला सामने आया है। एक बैठक के दौरान पार्टी के लोगों में आपस में ही कहासुनी हो गई। समाचार एजेंसी एएनआई ने पूरी घटना की वीडियो शेयर करते हुए लिखा, ”पटना में कॉन्ग्रेस इंचार्ज भक्त चरण दास की बैठक में तनातनी का माहौल हो गया।”

एजेंसी के अनुसार, ये आपसी झड़प विधानसभा चुनावों में पार्टी की हार और टिकट डिस्ट्रिब्यूशन को लेकर शुरू हुई। बाद में मामला हाथापाई तक पहुँच गया और बैठक में मौजूद लोग एक दूसरे से गाली गलौच करने लगे। मंच से सबको चुप कराने का भी प्रयास हुआ लेकिन बात और बिगड़ गई।

वीडियो में देख सकते हैं कि आपसी कहासुनी के बीच वहाँ मौजूद लोग धक्का-मुक्की करने लगते हैं। इस दौरान मंच की ओर कुर्सी भी फेंकी जाती है। नारेबाजी होती है। तभी एक व्यक्ति बीच में आकर कहता है, “कॉन्ग्रेस के दलालों होश में आ जाओ।”

बता दें कि पार्टी प्रभारी बनने के बाद भक्त चरण दास अपनी तीन दिवसीय बिहार यात्रा पर बिहार की राजधानी पटना में मौजूद हैं और पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ लगातार बैठक कर रहे हैं। इसी क्रम में मंगलवार को भी वह सदाकत आश्रम में किसान मोर्चा के साथ बैठक करने गए

बैठक के शुरू होते ही वहाँ मौजूद कार्यकर्ताओं की आपस में कहा सुनी हो गई। देखते ही देखते मामला इतना बिगड़ गया कि भक्त चरण दास सबसे शांत होने की अपील करते लगे लेकिन अन्य सभी लोग आपसी बहस में उलझ गए।

इससे पूर्व, कल भी एक बैठक के दौरान भक्त चरण दास के सामने पार्टी के कार्यकर्ताओं का गुस्सा फूट पड़ा था। सभी कार्यकर्ता कॉन्ग्रेस को मिली हार के कारण प्रदेश नेतृत्व से नाराज चल रहे थे। यही कारण था कि सोमवार मौका मिलते ही उन्होंने पार्टी के प्रदेश नेतृत्व को बदलने की माँग की।

वहीं, अपनी बैठक में कार्यकर्ताओं को हंगामा करता देख भक्त चरण दास ने पहले उन्हें शांत कराया और फिर उनकी समस्याओं को सुनते हुए हर मसले पर उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

Tokyo Olympics: 3 में से 2 राउंड जीतकर भी हार गईं मैरीकॉम, क्या उनके साथ हुई बेईमानी? भड़के फैंस

मैरीकॉम का कहना है कि उन्हें पता ही नहीं था कि वह हार गई हैं। मैच होने के दो घंटे बाद जब उन्होंने सोशल मीडिया देखा तो पता चला कि वह हार गईं।

मीडिया पर फूटा शिल्पा शेट्टी का गुस्सा, फेसबुक-गूगल समेत 29 पर मानहानि केस: शर्लिन चोपड़ा को अग्रिम जमानत नहीं, माँ ने भी की शिकायत

शिल्पा शेट्टी ने छवि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए 29 पत्रकारों और मीडिया संस्थानों के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में मानहानि का केस किया है। सुनवाई शुक्रवार को।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,941FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe