Saturday, October 1, 2022
Homeराजनीतिकन्हैया कुमार ये बि​​हारी हैं सब पबित्तर कर देंगे, मैदान से लेकर वामपं​थी प्रोपेगेंडा...

कन्हैया कुमार ये बि​​हारी हैं सब पबित्तर कर देंगे, मैदान से लेकर वामपं​थी प्रोपेगेंडा की दुकान तक

दरभंगा में जिस मंच से कन्हैया कुमार ने दिया भाषण, LNMU के छात्रों ने उस जगह को गंगाजल से किया ‘पबित्तर’, छात्रों द्वारा मंत्रोच्‍चारण भी किया गया, वंदे मातरम का नारा भी लगाया गया।

NRC, NPR और CAA के खिलाफ जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और CPI नेता कन्हैया कुमार इन दिनों जन-गण-मन यात्रा निकाल रहे है। इस यात्रा के तहत वो बिहार के कई जिलों में जाकर लोगों को संबोधित कर चुके हैं। उनकी सभाओं में लोगों की भारी भीड़ तो जुटती है, लेकिन कई जगह पर उनका विरोध भी किया गया है। सुपौल, मधेपुरा और कटिहार में उनके काफिले पर हमला किया गया था। अब दरंभगा में ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के छात्रों ने कन्हैया का अनोखे अंदाज में विरोध किया है।

बिहार के दरभंगा जिले के राज मैदान में 4 फरवरी 2020 को हुई CPI नेता कन्हैया कुमार की सभा के बाद शुक्रवार (फरवरी 7, 2020) को ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय (LNMU) के छात्र संघ के सदस्यों ने गंगाजल से धोकर सभा स्थल का शुद्धिकरण किया। अपनी जन-गण-मन यात्रा के माध्यम से कन्हैया पूरे प्रदेश के लोगों के बीच केंद्र सरकार के नीतियों के खिलाफ लोगों को भ्रमित कर रहे हैं।

इसी यात्रा के क्रम में कन्हैया कुमार 4 फरवरी को दरभंगा पहुँचे थे। यहाँ उन्होंने ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के राज मैदान में छात्रों को मंच से संबोधित किया था। इस कार्यक्रम के समाप्त होने के बाद LNMU के छात्र संघ के अध्यक्ष ने गंगा जल छिड़क कर शुद्ध किया। ABVP के सभी छात्र-छात्राओं ने पहले मंच पर झाड़ू लगाकर उसे साफ़ किया, फिर मंच को पानी से धोया। इसके बाद सिमरिया से मँगाए गए गंगा जल और फूल छिड़क कर मंच को शुद्ध किया। इस बीच छात्रों द्वारा मंत्रोच्‍चारण भी किया गया। बाद में सभी छात्रों ने कन्हैया के खिलाफ नारेबाजी की और वंदे मातरम का नारा भी लगाया।

दैनिक भास्कर के दरभंगा संस्करण में प्रकाशित खबर

इस बारे में बात करते हुए छात्र संघ के अध्यक्ष आलोक कुमार ने कन्हैया कुमार को देशद्रोही बताया और कहा कि कन्हैया कुमार पूरे देश में CAA व NRC के मुद्दे पर मासूम जनता को दिग्भ्रमित कर आपसी भाईचारे में दरार डालने का काम कर रहे हैं। छात्र संघ कन्हैया के मनसूबे को कभी कामयाब होने नहीं देगा।

वहीं छात्रसंघ कोषाध्यक्ष नीतीश कुमार सिंह ने कहा कि कन्हैया जेएनयू के बाद पूरे बिहार में भय का माहौल पैदा कर अपनी राजनीति को चमकाना चाहते हैं। महासचिव प्रीति कुमारी ने कहा कि बेगूसराय की जनता ने बता दिया है कि कन्हैया की क्या औकात है। लेकिन, फिर भी वह लगातार देश को तोड़ने की कोशिश कर रहा है। इससे पहले बेगूसराय में 30 जून को हुए कार्यक्रम के बाद ABVP कार्यकर्ताओं ने बीएसएस कॉलेजिएट स्कूल परिसर में बुद्धि-शुद्धि हवन किया था। साथ ही उन महापुरूषों की प्रतिमा को गंगाजल से शुद्ध किया था, जहाँ कन्हैया कुमार ने माल्यार्पण किया।

गौरतलब है कि बिहार में कन्हैया कुमार को लगातार विरोध का सामना करना पड़ रहा है। यात्रा के दौरान कटिहार में उनके काफिले के ऊपर जूते-चप्पल फेंके गए तो वहीं मधेरपुरा और सुपौल में भी उनके काफिले के ऊपर हमला किया गया। इससे पहले झंझारपुर में CPI नेता कन्‍हैया के काफिले को काला झंडा दिखाया गया था। वहीं अपने कार्यक्रम के लिए शिवहर से सीतामढ़ी जाते समय कुछ लोगों ने उनकी गाड़ी रोककर काले झंडे दिखाए और साथ ही कॉमरेड मुर्दाबाद के नारे लगाए थे।

कन्हैया कुमार पर फेंके गए जूते-चप्पल, 30 घंटे में तीसरी बार हमला: बिहार के लोगों को समझाने निकले हैं CAA और NRC

भूमिहार कन्हैया! मज़हब, जाति को धंधा बना कर दलाली करने वाले वामपंथी लम्पटों के सरगना हो तुम

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दीपावली पर PFI ने रची थी देश भर में बम ब्लास्ट की साजिश: आसपास के सामान से IED बनाने की दे रहा था ट्रेनिंग,...

PFI आसपास मौजूद सामान से IED बनाने की ट्रेनिंग दो रहा था। उसकी योजना दशहरा पर देश भर में बम विस्फोट और संघ नेताओं की हत्या करने की थी।

ताज महल या तेजो महालय? सुप्रीम कोर्ट में याचिका, कहा- शाहजहाँ ने निर्माण करवाया इसके प्रमाण नहीं, बने फैक्ट फाइंडिंग कमेटी

आगरा के ताज महल (Taj Mahal) का सच क्या है? इसका पता लगाने की अपील करते हुए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में याचिका दायर की गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
225,480FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe