Thursday, June 20, 2024
Homeराजनीतिबिहार: सीट बँटवारे को लेकर राजग में बनी सहमति; आज हो सकती है घोषणा

बिहार: सीट बँटवारे को लेकर राजग में बनी सहमति; आज हो सकती है घोषणा

लोजपा ने 6 लोकसभा सीट और एक राज्यसभा सीट की मांग की थी, जिसे भारतीय जनता पार्टी ने मान लिया है और जनता दल यूनाइटेड ने भी इस फॉर्मूले पर मुहर लगा दी है।

ताजा ख़बरों के अनुसार बिहार में सीट बँटवारे को लेकर राजग में सहमति बन गई है। उधर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज दिल्ली पहुँच रहे हैं जहां वो भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान सहित राजग के अन्य नेताओं से बातचीत करेंगे और इसके बाद सीट शेयरिंग को लेकर आधिकारिक घोषणा कर दी जाएगी। सूत्रों के अनुसार लोजपा ने छः लोकसभा सीट और एक राज्यसभा सीट की मांग की थी जिसे भारतीय जनता पार्टी ने मान लिया है और जनता दल यूनाइटेड ने भी इस फोर्मुले पर मुहर लगा दी है। अभी लोजपा से एक भी राज्यसभा सांसद नहीं है। बता दें कि लोक जनशक्ति पार्टी संसदीय दल के अध्यक्ष चिराग पासवान काफी दिनों से अपने बयानों द्वारा भाजपा पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे थे।

कुछ दिनों पहले ही अपने ट्वीट्स के माध्यम से चिराग पासवान ने कहा था;

“टी॰डी॰पी॰ व रालोसपा के एन॰डी॰ए॰ गठबंधन से जाने के बाद एन॰डी॰ए॰ गठबंधन नाज़ुक मोड़ से गुज़र रहा है।ऐसे समय में भारतीय जनता पार्टी गठबंधन में फ़िलहाल बचे हुए साथीयों की चिंताओं को समय रहते सम्मान पूर्वक तरीक़े से दूर करें।”

चिराग पासवान फिलहाल जमुई से लोकसभा सांसद हैं। अभी कुछ दिनों पहले उन्होंने नोटबंदी पर भी सवाल खड़े कर के भाजपा पर दबाव बनाने की कोशिश की थी। कई लोगों का यह मानना था कि लोजपा राजग का साथ छोड़ कर महागठबंधन में शामिल हो सकती है लेकिन सीट शेयरिंग पर सहमति बनने के साथ ही इन कयासों पर विराम लग गया है। शुक्रवार को पासवान पिता-पुत्र ने भाजपा नेता अरुण जेटली से भी मुलाकात की थी जिसके बाद चिराग पासवान ने कहा था कि बात चल रही है और वह समय आने पर बोलेंगे।

ज्ञात हो कि बिहार में भाजपा के सहयोगी रहे उपेन्द्र कुशवाहा ने हाल ही में महागठबंधन का रुख कर लिया है। रालोस्पा अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से भी इस्तीफा दे दिया और भाजपा पर उनका अपमान करने का आरोप लगाया था। हालांकि इस से उपेन्द्र कुशवाहा की अपनी पार्टी के ही नेता ही उनसे नाराज हो गये और बागी तेवर अपना लिया। पार्टी के दो विधायक और एक विधान पार्षद ने रालोसपा सुप्रीमो के निर्णय का विरोध करते हुए एक प्रेस कांफ्रेंस कर राजग में बने रहने का ऐलान कर दिया।

2014 में हुए लोकसभा चुनावों में लोजपा ने 6 सीटों पर जीत हासिल की थी। राज्य की 40 लोकसभा सीटों में से भाजपा ने 22, रोलसपा ने 3, जदयू ने 2, राजद ने 4, कांग्रेस ने 2 और एनसीपी ने 1 सीट पर जीत हासिल की थी। उस समय जदयू ने भाजपा से अलग चुनाव लड़ा था। इस बार भाजपा-जदयू-लोजपा के साथ चुनाव लड़ने के कारण बिहार में कांटे की टक्कर देखने को मिल सकती है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

UGC-NET जून 2024 परीक्षा रद्द, 18 जून को 11.21 लाख छात्रों ने दी थी परीक्षा: साइबर क्राइम सेल से मिला सेंधमारी का इनपुट,...

परीक्षा प्रक्रिया की उच्चतम स्तर की पारदर्शिता और पवित्रता सुनिश्चित करने के लिए भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय ने निर्णय लिया है कि यूजीसी-नेट जून 2024 परीक्षा रद्द की जाए।

मंच से उड़ा रहे थे भगवान राम और माता सीता का मजाक, नीचे से बज रही थी सीटी: एक्शन में IIT बॉम्बे, छात्र पर...

भगवान का मजाक उड़ाने वाले छात्रों के खिलाफ 1.20 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया। वहीं कुछ छात्रों को हॉस्टल से निलंबित भी किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -