Thursday, January 27, 2022
Homeराजनीतिममता के बंगाल में हिंसा के ख़िलाफ़ BJP ने किया बंद का आह्वान, TMC...

ममता के बंगाल में हिंसा के ख़िलाफ़ BJP ने किया बंद का आह्वान, TMC कार्यकर्ताओं ने जमकर मचाया उत्पात

बंद दौरान वहाँ से टीएमसी कार्यकर्ताओं और भाजपा समर्थकों के बीच आपसी भिडंत की खबरे आई। जिसमें 25 भाजपा समर्थकों के घायल होने की सूचना है।

पश्चिम बंगाल में भाजपा सांसद अर्जुन सिंह पर हुए हमले के बाद पार्टी ने आज बैराकपुर में बंद बुलाया। उन्होने इस घटना के विरोध प्रदर्शन में सुबह 6 बजे से लेकर शाम 6 बजे तक 12 घंटों के बंद का आह्वान किया। इस दौरान वहाँ से टीएमसी कार्यकर्ताओं और भाजपा समर्थकों के बीच आपसी भिडंत की खबरे आई। जिसमें 25 भाजपा समर्थकों के घायल होने की सूचना है। इन घायलों को फिलहाल अस्पताल में भर्ती कराया गया है और इनका इलाज जारी है।

पुलिस ने इस बंद के दौरान अब तक उत्तर 24 परगना में 13 भाजपा कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि टीएमसी के उत्पात पर अभी पुलिस द्वारा लिए एक्शन की कोई खबर नहीं आई है। भाजपा ने पुलिस की इस तरह की कार्रवाई का कड़ा विरोध भी किया है।

गौरतलब है कि कल पश्चिम बंगाल के नॉर्थ 24 परगना में भाजपा सांसद की कार पर हुए हमले के बाद से इलाके में तनाव का माहौल है। इस हमले में सिंह के सिर पर गंभीर चोटें भी आई है, जिस कारण वह अस्पताल में भर्ती हैं। आज बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनकर ने खुद अपोलो अस्पताल में उनसे जाकर मुलाकात भी की।

इस घटना के बाद भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी ममता सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि उत्तर 24 परगना जिले में भाजपा कार्यालय पर कब्जा करने का प्रयास और भाजपा सांसद अर्जुन सिंह और विधायक पवन सिंह के साथ हुई हिंसा अत्यंत निंदनीय हैं। ऐसे अवैध तरीकों का सहारा लेकर, टीएमसी पश्चिम बंगाल में फिर से लोकतंत्र की हत्या कर रही हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘योगी जैसा मुख्यमंत्री मुलायम सिंह और अखिलेश भी नहीं रहे’: सपा के खिलाफ प्रचार पर बोलीं अपर्णा यादव- ‘पार्टी जो कहेगी करूँगी’

अपर्णा यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ करते हुए कहा कि उन्हें मेरा समाजसेवा का काम दिखा था, जबकि अखिलेश यह नहीं देख पाए।

धर्मांतरण के दबाव से मर गई लावण्या, अब पर्दा डाल रही मीडिया: न्यूज मिनट ने पूछा- केवल एक वीडियो में ही कन्वर्जन की बात...

लावण्या की आत्महत्या पर द न्यूज मिनट कहता है कि वॉर्डन ने अधिक काम दे दिया था, जिससे लावण्या पढ़ाई में पिछड़ गई थी और उसने ऐसा किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
153,876FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe