Tuesday, July 27, 2021
Homeराजनीतिसीएम योगी ने कैबिनेट मीटिंग में राम मंदिर को लेकर लिए कई निर्णय, जून-जुलाई...

सीएम योगी ने कैबिनेट मीटिंग में राम मंदिर को लेकर लिए कई निर्णय, जून-जुलाई के लिए किया मंत्रियों का टास्क तय

सीएम योगी ने मंत्रियों को जून-जुलाई के लिए टास्क दिया है। उन्होंने निर्देश दिया कि मंत्री अपने जिले के विकास कार्ययोजनाओं का निरीक्षण करें। मंत्री अपने प्रभार वाले जिले के हर ब्लॉक में जून-जुलाई के महीने में दौरा करें।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार (14 जून 2021) को कैबिनेट मीटिंग में अयोध्या राम मंदिर को लेकर कई निर्णय लिए। उन्होंने कैबिनेट मीटिंग में फैसला लिया कि संस्कृति विभाग की 9 एकड़ की जमीन परिवहन विभाग को दी जाएगी। इस जमीन पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बस स्टेशन बनाया जाएगा, जिसमें 400 करोड़ की लागत आएगी। इस प्रोजेक्ट के लिए पीपीपी मॉडल की संभावना तलाशी जाएगी।

इसके साथ ही सीएम योगी ने मंत्रियों को जून-जुलाई के लिए टास्क दिया है। उन्होंने निर्देश दिया कि मंत्री अपने जिले के विकास कार्ययोजनाओं का निरीक्षण करें। मंत्री अपने प्रभार वाले जिले के हर ब्लॉक में जून-जुलाई के महीने में दौरा करें। इस दौरान बैठक में सभी मंत्रियों की जिम्मेदारी तय की गई।

वहीं इसके साथ ही सीएम योगी कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए भी हर संभव प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने रेहड़ी, पटरी व्यवसायियों के लिए आज (14 जून 2021) से प्रारंभ हुए विशेष टीकाकरण के तहत संचालित टीकाकरण केंद्रों का निरीक्षण किया।

इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेशवासियों को कोरोना संक्रमण से बचाने टीका-कवर उपलब्ध कराने के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। फेरी लगाकर आजीविका कमाने वाले नागरिकों, ऑटो रिक्शा, टैंपो, ई-रिक्शा चालकों आदि के टीकाकरण के लिए आज से प्रदेशव्यापी अभियान प्रारंभ हुआ है। सीएम आदित्यनाथ ने कहा, “आप भी अविलंब लगवाएँ ‘टीका जीत का’।”

मुख्यमंत्री ने अपने अधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर लिखा, ”कोरोना की संभावित ‘थर्ड वेव’ के लिए प्रदेश सरकार पूर्ण प्रतिबद्धता के साथ तैयारी कर रही है।” उन्होंने कहा कि अभिभावक स्पेशल बूथ का निर्माण, हर जनपद में पीडियाट्रिक ICU का निर्माण और कल (15 जून) से बच्चों के लिए भी मेडिसिन किट हर जनपद में उपलब्ध कराने की का निर्णय भी उसी तैयारी का एक हिस्सा है।

उन्होंने आगे लिखा, ”कोरोना के विरुद्ध देश की लड़ाई को सबको मिलकर प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में आगे बढ़ाना चाहिए। कोविड वैक्सीन अवश्य लगवाएँ। कुछ लोगों ने भ्रम की स्थिति पैदा करने का प्रयास किया था, लेकिन आज हर व्यक्ति इस बात को स्वीकार कर रहा है कि वैक्सीन ही एक मात्र सुरक्षा कवच है।”

मालूम हो कि उन्होंने बैठक में 21 जून को योग दिवस पर विशेष कार्यक्रम को लेकर भी जानकारी दी। साथ ही कहा कि अयोध्या-सुल्तानपुर मार्ग के ट्रैफिक को लेकर भी विचार किया गया है। यह मार्ग नए एयरपोर्ट से जुड़ता है। इसलिए यहाँ 4 लेन का फ्लाईओवर बनाने का फैसला किया गया। इस प्रोजेक्ट में 20.17 करोड़ की लागत होगी। बता दें कि अगले साल उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में एक बार फिर यूपी में फतह करने के लिए भाजपा एक्शन मोड में नजर आ रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe