Sunday, July 21, 2024
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस नेता ने सिद्धारमैया को बताया 'राम', कहा- अयोध्या में 'भाजपा के राम' की...

कॉन्ग्रेस नेता ने सिद्धारमैया को बताया ‘राम’, कहा- अयोध्या में ‘भाजपा के राम’ की पूजा क्यों करें: उदित राज बोले- 500 साल बाद मनुवाद लौटा

कर्नाटक की पूर्ववर्ती कॉन्ग्रेस सरकार में मंत्री रह चुके आंजनेय ने कहा, "सिद्धारमैया स्वयं राम हैं। फिर (अयोध्या) मंदिर में जाकर उस राम की पूजा क्यों करें? वे बीजेपी के राम हैं। बीजेपी प्रचार के लिए ऐसा करती है। उन्हें ऐसा करने दीजिए।"

जब से रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा की तिथि निश्चित हुई है कॉन्ग्रेस और उसके सहयोगी दलों की राम मंदिर को लेकर घृणा बार-बार सामने आ रही है। इसी कड़ी में कर्नाटक के पूर्व मंत्री और कॉन्ग्रेस नेता एच आंजनेय ने मुख्यमंत्री सिद्धारमैया की तुलना भगवान राम से की है। वहीं कॉन्ग्रेस के एक अन्य नेता उदित राज ने राम मंदिर को मनुवाद की वापसी बताया है।

आंजनेय ने कहा, “सिद्धारमैया स्वयं राम हैं। फिर (अयोध्या) मंदिर में जाकर उस राम की पूजा क्यों करें? वे बीजेपी के राम हैं। बीजेपी प्रचार के लिए ऐसा करती है। उन्हें ऐसा करने दीजिए।” कर्नाटक के चित्रदुर्ग में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने यह बात कही। उनसे प्राण-प्रतिष्ठा समारोह में सिद्धारमैया को आमंत्रित नहीं करने को लेकर सवाल किया गया था।

इस दौरान कॉन्ग्रेस नेता आंजनेय ने खुद को हनुमान भी बता डाला। उन्होंने कहा, “मेरे राम मेरे ह्रदय में हैं। मेरा खुद का नाम आंजनेय है। आपको पता है उन्होंने क्या किया था?”

एच आंजनेय कर्नाटक की सिद्दारमैया की अगुवाई वाली पूर्ववर्ती कॉन्ग्रेस सरकार में 2015 से 2018 के बीच पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री थे। उनका भगवान राम को लेकर दिया गया यह बयान अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इससे पहले भी कर्नाटक के कॉन्ग्रेस नेता उल्टे-सीधे बयान देते आए हैं।

वहीं कॉन्ग्रेस नेता उदित राज ने भी राम मंदिर को लेकर विवादित बयान दिया है। उदित राज ने राम मंदिर में प्राण-प्रतिष्ठा को 500 वर्षों के बाद मनुवाद की वापसी बताया है।

इसको लेकर उन्होंने एक्स (पहले ट्विटर) पर ट्वीट किया है। उदित राज के इस बयान पर भाजपा नेता और विदेश राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी ने हनुमान चालीसा की पंक्तियों का पाठ करते हुए उन्हें जवाब दिया है।

जब से अयोध्या में राममंदिर को लेकर तैयारियाँ तेजी हुई हैं, तब से कई कॉन्ग्रेस नेता राम मंदिर को लेकर विवादित बयान दे चुके हैं। हाल ही में पार्टी सांसद शशि थरूर ने राम मंदिर में प्राण-प्रतिष्ठा को राजनीतिक कार्यक्रम बताया था। शिवसेना नेता संजय राउत भी प्रभु राम पर विवादित बयान दे चुके हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मध्य प्रदेश और बिहार में भी काँवर यात्रा मार्ग में ढाबों-ठेलों पर लिखा हो मालिक का नाम’: पड़ोसी राज्यों में CM योगी के फैसलों...

रमेश मेंदोला ने कहा कि नाम बताने में दुकानदारों को शर्म नहीं बल्कि गर्व होना चाहिए। हरिभूषण ठाकुर बचौल बोले - विवादों से छुटकारा मिलेगा।

‘लैंड जिहाद और लव जिहाद को बढ़ावा दे रही हेमंत सोरेन की सरकार’: झारखंड में गरजे अमित शाह, कहा – बिगड़ रहा जनसंख्या का...

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर 'भूमि जिहाद', 'लव जिहाद' को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए उन पर तीखा हमला किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -