Sunday, June 16, 2024
Homeराजनीति15000 स्कूलों पर फोकस, 100 नए सैनिक स्कूल, लेह में केंद्रीय विश्वविद्यालय: बजट 2021...

15000 स्कूलों पर फोकस, 100 नए सैनिक स्कूल, लेह में केंद्रीय विश्वविद्यालय: बजट 2021 में शिक्षा पर विशेष ध्यान

आदिवासी और जनजातीय क्षेत्रों में शिक्षा के लिए एकलव्य स्कूलों को 38 करोड़ रुपए मुहैया कराए गए हैं। युवाओं के प्रशिक्षण के लिए बजट बढ़ाने का प्रस्ताव, इससे युवाओं को रोजगार के ज्यादा मौके मिलेंगे।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार (फ़रवरी 1, 2021) को संसद में आम बजट पेश किया। उन्होंने नए केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख की राजधानी लेह में केंद्रीय विश्वविद्यालय की घोषणा की। शिक्षा क्षेत्र में 15,000 नए स्कूलों को और मजबूत किया जाएगा। साथ ही 100 नए सैनिक स्कूलों की भी स्थापना की जाएगी। आदिवासी क्षेत्रों में नए विद्यालय खुलेंगे। उच्च-शिक्षा के लिए एक संस्था का गठन होगा, जिसके लिए नए नियम बनेंगे।

बजट में नई शिक्षा नीति पर भी बात की गई और कहा गया कि इससे अब तक अच्छी प्रतिक्रिया मिली है। इस सम्बन्ध में विचार-विमर्श की एक बड़ी प्रक्रिया भी अपनाई गई है, जिस कारण इसे अच्छी प्रतिक्रिया मिली। जो 100 नए सैनिक स्कूल स्थापित किए जाने हैं, उसके लिए NGOs, राज्य सरकारों और प्राइवेट स्कूलों के साथ परस्पर सहयोग करते हुए संभव होगा। साथ ही ‘एजुकेशन फॉर ऑल’ की बात भी की गई।

आदिवासी और जनजातीय क्षेत्रों में शिक्षा के लिए एकलव्य स्कूलों को 38 करोड़ रुपए मुहैया कराए गए हैं। साथ ही युवाओं के प्रशिक्षण के लिए भी बजट बढ़ाने का भी प्रस्ताव किया गया। इससे युवाओं को रोजगार के ज्यादा मौके मिलेंगे। जिन नए 15,000 स्कूलों को और मजबूत व साधन संपन्न किया जाना है, उन्हें नई शिक्षा नीति के हिसाब से विकसित किया जाएगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

कर्नाटक में बढ़ाए गए पेट्रोल-डीजल के दाम: लोकसभा चुनाव खत्म होते ही कॉन्ग्रेस ने शुरू की ‘वसूली’, जनता पर टैक्स का भार बढ़ा कर...

अभी तक बेंगलुरु में पेट्रोल 99.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 85.93 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, लेकिन नए आदेश के बाद बढ़ी हुई कीमतें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -