Saturday, July 24, 2021
Homeराजनीतिभारत बंद: महाराष्ट्र और ओडिशा में रोकी गई रेल, दिल्ली-UP में पुलिस को सख्ती...

भारत बंद: महाराष्ट्र और ओडिशा में रोकी गई रेल, दिल्ली-UP में पुलिस को सख्ती से निपटने के आदेश

दिल्ली और यूपी पुलिस ने कहा है कि बंद के दौरान लोगों की आवाजाही रोकने व जबरन दुकानें बंद करवाने वालों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई होगी।

केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के ख़िलाफ़ प्रदर्शन करने वाले किसानों ने आज (दिसंबर 8, 2020) भारत बंद बुलाया है। ये बंद आज सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक रहेगा। इस बंद को कॉन्ग्रेस, आम आदमी पार्टी, सपा समेत कुल 18 विपक्षी दलों का समर्थन मिला है।

केंद्र सरकार ने इस भारत बंद के मद्देनजर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए तीन बिंदुओं पर दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इनमें सबसे पहले राज्य सरकारों को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था करने को कहा गया है। दूसरा, भारत बंद के दौरान कोरोना संबंधी दिशा-निर्देशों की अवहेलना करने के लिए मना किया गया है और तीसरा यह कि यदि कोई गड़बड़ी हो तो उससे सख्ती से निपटने की व्यवस्था करने को कहा गया है।

दिल्ली और यूपी पुलिस ने यह स्पष्ट कहा है कि भारत बंद के दौरान लोगों की आवाजाही रोकने व जबरन दुकानें बंद करवाने वालों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई होगी। अराजक तत्वों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा और ऐसी व्यवस्था तैयार होगी कि मारपीट न हो।

दिल्ली पुलिस ने सीमावर्ती इलाकों में पहले से तैनात सुरक्षाकर्मियों के अलावा 100 अतिरिक्त कंपनी पुलिस फोर्स के साथ 100 टीमें बनाई हैं। ये टीमें एसपी स्तर के अफसर के नेतृत्व में विभिन्न इलाकों में गश्त कर रही हैं।

इस भारत बंद में दिल्ली की बात करें तो सिंघु बॉर्डर, गाजीपुर, टिकरी, झरोदा, लामपुर, औचंदी, चिल्ला बॉर्डर और प्याऊ मनियारी, सफियाबाद से आने वाले रास्ते बंद होंगे। आवश्यकता पड़ने पर डीएनडी-कालिंदी कुंज का ट्रैफिक डायवर्ट किया जाएगा। वहीं एंबुलेंस और दमकल विभाग समेत इमरजेंसी सेवाओं में लगे वाहनों को आवाजाही की अनुमति होगी। शादी समारोह में शामिल होने पर भी रोक नहीं है। दवा की दुकानें खुली रहेंगी।

भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा, “हमारा प्रदर्शन बिलकुल शांतिपूर्ण है। अगर कोई हमारी वजह से बंद में दो-तीन घंटे फँस गया तो हम उन्हें पानी और फल देंगे। हमारा अलग हिसाब है।”

उल्लेखनीय है कि एक ओर जहाँ दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे किसानों का मकसद अपनी बात को केंद्र सरकार से मनवाना है, वहीं आंध्र प्रदेश और ओडिशा में लेफ्ट पार्टियों ने भारत बंद के नाम पर केंद्र सरकार के ख़िलाफ़ मोर्चा खोल दिया है। आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में आज लेफ्ट पार्टियाँ प्रोटेस्ट कर रही हैं और ओडिशा में भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन पर लेफ्ट पॉलिटिकल पार्टी ने ट्रेड यूनियन और किसान यूनियन के साथ ट्रेन रोक ली हैं।

महाराष्ट्र में भी स्वाभिमानी सत्कारी संगठन ने भारत बंद रेल रोको अभियान का फैसला किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमने मोदी को जिताया की रट लगाते हो, खुद 2 बार लड़े तो क्यों नहीं जीत गए?’ महिला पत्रकार ने उतार दी राकेश टिकैत...

'इंडिया 1 न्यूज़' की गरिमा सिंह ने राकेश टिकैत के इस बयान को लेकर भी सवाल पूछा जिसमें वो बार-बार कहते हैं कि इस सरकार को 'हमने जिताया'।

UP में सपा-AIMIM का मुस्लिम डिप्टी CM, मायावती का ब्राह्मण प्रेम और राहुल गाँधी को पसंद नहीं ‘अमेठी’ के आम: 2022 की तैयारी

राहुल गाँधी ने कहा कि उन्हें यूपी के आम का स्वाद पसंद नहीं। उन्होंने कहा कि उन्हें आंध्र प्रदेश के आम पसंद हैं। ओवैसी ने सपा को दिया गठबंधन का ऑफर।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,931FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe