NCP नेता धनंजय मुंडे ने बहन पंकजा पर की आपत्तिजनक टिप्पणी, मामला दर्ज

परली भाजपा अध्यक्ष जुगल किशोर लोहिया ने धनंजय के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने आरोप लगाया है कि धनंजय ने पंकजा के ख़िलाफ़ 17 अक्टूबर को केज तहसील के विडा गाँव में एक सार्वजनिक बैठक के दौरान अश्लील टिप्पणियॉं की।

भाजपा नेता और महाराष्ट्र की मंत्री पंकजा मुंडे के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर एनसीपी नेता धनंजय मुंडे के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पंकजा पूर्व केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुंडे की बेटी हैं। धनंजय उनके चचेरे भाई हैं।

आपत्तिजनक टिप्पणी वाला वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद बीड जिले के परली से ताल्लुक रखने वाले एक भाजपा नेता ने धनंजय के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। हालॉंकि धनंजय ने इससे इनकार किया है। उनका कहना है कि जो वीडियो वायरल हुआ है वह फर्जी है और उसके साथ छेड़छाड़ की गई है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि परली भाजपा अध्यक्ष जुगल किशोर लोहिया की शिक़ायत पर शनिवार देर रात धनंजय मुंडे के ख़िलाफ़ आईपीसी की धारा 500 (मानहानि), 509 (महिला की गरिमा को ठेस पहुँचाने के लिए शब्द, हावभाव का इस्तेमाल) और 294 (सार्वजनिक स्थल पर अश्लील कृत्य) के तहत मामला दर्ज किया गया। लोहिया ने आरोप लगाया कि धनंजय ने पंकजा के ख़िलाफ़ 17 अक्टूबर को केज तहसील के विडा गाँव में एक सार्वजनिक बैठक के दौरान अश्लील टिप्पणियॉं की।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

इस मामले में भाजपा ने निर्वाचन आयोग और महिला आयोग से भी शिक़ायत की है। वहीं, NCP नेता धनंजय मुंडे ने शनिवार देर रात फेसबुक पर एक बयान जारी किया जिसमें उन्होंने लिखा कि जो वीडियो वायरल हो रहा है, उससे छेड़छाड़ की गई है, वो फ़र्ज़ी है। उन्होंने कहा कि उनकी टिप्पणियों को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया है, इसलिए वीडियो की फॉरेंसिक जाँच होनी चाहिए।

पंकजा इस समय में महाराष्ट्र सरकार में ग्राम, महिला एवं बाल विकास मंत्री हैं और मराठवाड़ा की परली सीट से चुनाव लड़ रही हैं। 2009 में वो पहली बार विधायक चुनीं गईं और 2014 में उन्होंने दोबारा जीत हासिल की। उनका मुकाबला धनंजय मुंडे से ही है। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएँगे और नतीजे 24 अक्टूबर को आएँगे।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

सोनिया गाँधी
शिवसेना हिन्दुत्व के एजेंडे से पीछे हटने को तैयार है फिर भी सोनिया दुविधा में हैं। शिवसेना को समर्थन पर कॉन्ग्रेस के भीतर भी मतभेद है। ऐसे में एनसीपी सुप्रीमो के साथ उनकी आज की बैठक निर्णायक साबित हो सकती है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,489फैंसलाइक करें
23,092फॉलोवर्सफॉलो करें
121,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: