Monday, July 26, 2021
Homeराजनीतिड्रग्स स्कैंडल में कॉन्ग्रेस का पूर्व कॉरपोरेटर पूछताछ के लिए तलब, ABCD का एक्टर...

ड्रग्स स्कैंडल में कॉन्ग्रेस का पूर्व कॉरपोरेटर पूछताछ के लिए तलब, ABCD का एक्टर किशोर शेट्टी गिरफ्तार

आरवी युवराज पूर्व कॉन्ग्रेस विधायक आरवी देवराज के बेटे हैं। पुलिस का इस मामले में साफ़ कहना है कि वह ड्रग्स नेटवर्क के हर पहलू की तलाश करेंगे। CCB अधिकारियों ने व्हाट्सएप के ज़रिए आरवी युवराज को नोटिस भेजा और जाँच में सहयोग करने के लिए कहा है।

कर्नाटक में ड्रग्स मामले ने राजनीतिक मोड़ ले लिया है। बेंगलुरु की सेंट्रल क्राइम ब्रांच (CCB) ने कॉन्ग्रेस के पूर्व पार्षद आरवी युवराज को पूछताछ के लिए बुलाया है। ख़बरों के मुताबिक़ बेंगलुरु पुलिस की सेंट्रल क्राइम ब्रांच जो इस मामले की जाँच कर रही है उसने युवा कॉन्ग्रेस नेता को शनिवार (19 सितंबर 2020) पेश होने के लिए समन भेजा है।

आरवी युवराज पूर्व कॉन्ग्रेस विधायक आरवी देवराज के बेटे हैं। पुलिस का इस मामले में साफ़ कहना है कि वह ड्रग्स नेटवर्क के हर पहलू की तलाश करेंगे। CCB अधिकारियों ने व्हाट्सएप के ज़रिए आरवी युवराज को नोटिस भेजा और जाँच में सहयोग करने के लिए कहा है।

आरवी युवराज सुधामनगर से ब्रुहट बेंगलुरु महानगर पालिक (BBMP) के पार्षद रहे हैं। वह अक्सर अभिनेत्री संजना गलरानी द्वारा संचालित एक योगा इंस्टीट्यूट में जाते थे। इसके अलावा दोनों कई इवेंट्स में भी साथ ही नज़र आए थे।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जॉंच शुरू होने के बाद से ही फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग्स की पैठ चर्चा में है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो भी इसकी जॉंच कर रही है। फिल्म ABCD में काम कर चुके एक्टर किशोर शेट्टी को भी ड्रग्स रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

मंगलुरु के पुलिस कमिश्नर विकास कुमार ने बताया, “हम ड्रग्स नेटवर्क के हर पहलू की पड़ताल करेंगे। हमने फ़िलहाल किशोर शेट्टी को गिरफ्तार किया है। उस पर NDPS एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। यह सारी ड्रग्स मुंबई से आती थी उसके बाद यहाँ लोगों में बाँटी जाती थी। हम इस मामले में जाँच कर रहे हैं जल्द कई अहम बातें सामने आएँगी। ”

समन भेजे जाने की जानकारी मिलते ही आरवी युवराज के पिता पूर्व कॉन्ग्रेस विधायक ने भी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, “मेरा बेटा न तो शराब का सेवन करता है और न ही सिगरेट फूँकता है तो फिर वह ड्रग्स कैसे ले सकता है? वह पेरिस और लंदन इसलिए जाता है क्योंकि वह एक अच्छा टेनिस खिलाड़ी है। CCB ने नोटिस जारी किया है, मुझे इस बारे में जानकारी नहीं है कि उन्होंने किस आधार पर ऐसा किया है।”   

आरवी युवराज के अलावा CCB ने कन्नड़ टीवी एंकर अकुल बालाजी और अभिनेता आर्यन संतोष को भी समन भेजा है। अकुल बालाजी मशहूर समाचार प्रस्तोता हैं और आर्यन संतोष कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री के अभिनेता हैं। आरवी युवराज को CCB द्वारा समन भेजे जाने के ठीक एक हफ्ते पहले NCB ने ड्रग्स मामले में कॉन्ग्रेस पार्षद के बेटे को नोटिस भेजा था। यह नोटिस महालक्ष्मीपुरम से कॉन्ग्रेस पार्षद एस केशवमूर्ति के बेटे यशस के को भेजा गया था।  

बेंगलुरु अपराध शाखा कर्नाटक के पूर्व मंत्री स्व जीवाराज अल्वा के बेटे आदित्य अल्वा पर भी निगरानी रख रही है। आदित्य अल्वा पर भी ड्रग्स मामले में शामिल होने का आरोप है। बेंगलुरु अपराध शाखा के अधिकारियों ने आदित्य अल्वा के हेब्बल झील स्थित फ़ार्महाउस पर भी छापा मारा था। आदित्य अल्वा कर्नाटक सरकार के पूर्व मंत्री जीवाराज अल्वा के बेटे और अभिनेता विवेक ओबेरॉय के साले हैं। अल्वा पर आरोप था कि उसके द्वारा आयोजित पार्टी में ड्रग्स की सप्लाई होती थी, यह जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने अल्वा के फ़ार्म हाउस पर छापा मारा था। 

आदित्य अल्वा ड्रग्स मामले में मुख्य आरोपित है और जब से CCB ने बेंगलुरु में छापेमारी का अभियान शुरू किया है तभी से फरार चल रहा है। इस मामले के एक और आरोपित ने पुलिस को जानकारी दी थी कि ज़्यादातर ड्रग्स पार्टी आदित्य अल्वा के फ़ार्म हाउस पर आयोजित की जाती थीं। यह फ़ार्म हाउस बेंगलुरु में ही स्थित है। उसने यह भी बताया कि पार्टी में ड्रग्स का सेवन भी किया जाता था। उसके मुताबिक़ इसी फ़ार्म हाउस में लोग नशे की गोलियाँ भी लेते थे।    

फ़िलहाल पूरे देश में ड्रग्स को लेकर बड़े पैमाने पर बहस छिड़ी हुई है इसी कड़ी में बेंगलुरु पुलिस ने भी हाल ही में एक बड़े ड्रग्स नेटवर्क का खुलासा किया। बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए बेंगलुरु पुलिस ने ड्रग्स मामले में कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री की कई अभिनेत्रियों को गिरफ्तार किया है। अपराध शाखा के अधिकारी इस मामले में कन्नड़ अभिनेत्री रागिनी द्विवेदी और संजना गलरानी को गिरफ्तार कर चुके हैं। फिलहाल कई अभिनेता, अभिनेत्रियाँ, गायक और संगीतकार इस मामले में पुलिस की निगरानी में हैं। अभी तक पुलिस ड्रग्स के मामले में 15 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,341FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe