Thursday, September 23, 2021
Homeराजनीतिपूर्व IAS शशिकांत सेंथिल होंगे कॉन्ग्रेस में शामिल: जम्मू-कश्मीर से 370 हटने पर दिया...

पूर्व IAS शशिकांत सेंथिल होंगे कॉन्ग्रेस में शामिल: जम्मू-कश्मीर से 370 हटने पर दिया था इस्तीफा

“सेंथिल समुदायों के बीच संघर्ष, धार्मिक मुद्दों पर हिंसा और भाजपा की नीतियों के कारण परेशान हैं। वह देश को एकजुट करने के प्रयासों में शामिल होना चाहते हैं। वह राहुल गाँधी के साथ अपने विचारों पर चर्चा कर चुके हैं। पार्टी राष्ट्रीय स्तर पर उनका लाभ लेगी।”

कर्नाटक-कैडर के पूर्व आईएएस अधिकारी एस शशिकांत सेंथिल सोमवार (नवंबर 9, 2020) को चेन्नई में कॉन्ग्रेस में शामिल होंगे। बता दें कि दक्षिण कन्नड़ ज़िले में उपायुक्त (डिप्टी कमिश्नर) का पद संभाल रहे सेंथिल ने पिछले साल जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद सितंबर में अपना इस्तीफा सौंपते हुए कहा था, ”मेरे लिए ऐसे समय पर प्रशासनिक अधिकारी के तौर पर काम करते रहना अनैतिक होगा जब हमारे समृद्ध लोकतंत्र के मौलिक आधारभूत स्तंभों से समझौता किया जा रहा है।”

तमिलनाडु मामलों के प्रभारी AICC दिनेश गुंडू राव ने ET को बताया, “सेंथिल समुदायों के बीच संघर्ष, धार्मिक मुद्दों पर हिंसा और भाजपा की नीतियों के कारण परेशान हैं। वह देश को एकजुट करने के प्रयासों में शामिल होना चाहते हैं। वह राहुल गाँधी के साथ अपने विचारों पर चर्चा कर चुके हैं। पार्टी राष्ट्रीय स्तर पर उनका लाभ लेगी।”

शशिकांत सेंथिल गुंडू राव और राज्य कॉन्ग्रेस अध्यक्ष केएस अलागिरी की उपस्थिति में पार्टी में शामिल होंगे। 41 वर्षीय पूर्व नौकरशाह ने ट्वीट किया, “मैं सभी को सूचित करना चाहूँगा कि मैंने लड़ाई जारी रखने के अपने प्रयास में कॉन्ग्रेस पार्टी में शामिल होने का फैसला किया है। मैं एक ऐसा कार्यकर्ता रहा हूँ जो अपने पूरे जीवन में कम से कम विशेषाधिकार प्राप्त लोगों के लिए एक आवाज बनने की कोशिश कर रहा है, जहाँ भी मैं था और अपनी अंतिम साँस तक ऐसा ही करता रहूँगा।”

शशिकांत का कहना है कि कॉन्ग्रेस के नेता उन्हें पार्टी में पाकर खुश हैं और वह इसके संगठनात्मक ढाँचे का हिस्सा होंगे। उन्होंने कहा, “मैं एक विशिष्ट विधायक या सांसद नहीं रहूँगा। मैं चुनाव की दिशा में काम करूँगा और कॉन्ग्रेस के मूल्यों का प्रसार करूँगा। मेरा महत्वपूर्ण कर्तव्य राजनीतिक समाधान की ओर, समाज या व्यक्तियों के रूप में सभी को एक साथ लाना है। मुझे विश्वास है कि 2024 में हम निश्चित रूप से सेंध लगाएँगे।”

सेंथिल ने जम्मू-कश्मीर से अनुछेद 370 हटाने और विशेष दर्जे को समाप्त करने के विरोध में आईएएस से इस्तीफा दे दिया था। वह तब दक्षिण कन्नड़ के डिप्टी कमिश्नर थे। उस समय, शशिकांत ने कहा था कि उनके राजनीति में शामिल होने का कोई संकेत नहीं है क्योंकि वह अकादमिक ग्रुप से संबंधित हैं। उन्होंने कहा था, “मेरे लिए पैटर्न बहुत स्पष्ट है और मैं नौकरशाही के बाहर काम करूँगा ताकि स्पष्टता के साथ इस बारे में आम जनता को सूचित किया जा सके। लेकिन, राजनीति में शामिल होने का कोई सवाल ही नहीं है क्योंकि मैं अकादमिक क्षेत्र में हूँ।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नंगी तस्वीरें माँगता, ओरल सेक्स के लिए जबरदस्ती’: हिंदूफोबिक कॉमेडियन संजय राजौरा की करतूत महिला ने दुनिया को बताई

पीड़िता ने बताया कि वो इन सब चीजों को नजरअंदाज कर रही थी क्योंकि वह कॉमेडियन को उसके काम के लिए सराहती थी।

गुजरात में ‘लैंड जिहाद’ ऐसे: हिंदू को पाटर्नर बनाओ, अशांत क्षेत्र में डील करो, फिर पाटर्नर को बाहर करो

गुजरात में अशांत क्षेत्र अधिनियम के दायरे में आने वाले इलाकों में संपत्ति की खरीद और निर्माण की अनुमति लेने के लिए कई मामलों में गड़बड़ी सामने आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,920FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe