Tuesday, June 25, 2024
Homeराजनीति'मुझे गाली दो ठीक है, अगर PM मोदी को कुछ कहा तो छोड़ूँगा नहीं':...

‘मुझे गाली दो ठीक है, अगर PM मोदी को कुछ कहा तो छोड़ूँगा नहीं’: K अन्नामलाई ने बताया क्या है उनकी ‘लक्ष्मण रेखा’, याद दिलाए DMK मंत्रियों के भड़काऊ बयान

अन्नामलाई ने कहा कि उनकी वफादारी पार्टी के साथ है, खासकर पीएम मोदी के साथ। उन्होंने कहा कि अगर आप पीएम मोदी को गालियाँ पड़ती है तो वो चुप नहीं रहेंगे।

तमिलनाडु में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और दक्षिणी बेंगलुरु के पूर्व DCP के अन्नामलाई अपनी फायरब्रांड छवि के लिए जाने जाते हैं। पार्टी उनके नेतृत्व में तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव लड़ रही है। K अन्नामलाई खुद कोयम्बटूर से चुनाव लड़ेंगे। करूणानिधि परिवार के विरुद्ध लड़ाई पर उन्होंने कहा है कि खुद तमिलनाडु के कानून मंत्री S रघुपति कह चुके हैं कि जब 2024 में I.N.D.I. गठबंधन सत्ता में आएगा तब पहली गिरफ़्तारी अन्नामलई की होगी। उन्होंने बताया कि कैसे एक अन्य ‘मूर्ख’ मंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ही गिरफ्तार करने का ऐलान कर दिया।

अन्नामलाई ने ANI पर स्मिता प्रकाश के साथ पॉडकास्ट में कहा कि तमिलनाडु का एक अन्य मंत्री प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टुकड़ों में काट देने की बातें करता है। उन्होंने कहा कि क्या इसका सीधी भाषा में जवाब दिया जा सकता है? पूर्व IPS अधिकारी ने कहा कि पीएम मोदी के नाखून की गंदगी के बराबर भी वो मंत्री नहीं है, पीएम मोदी के साथ SPG की सुरक्षा है, उनकी सुरक्षा 4 लेयर की है। अन्नामलाई ने स्पष्ट कहा कि पीएम मोदी को अगर कोई छूता भी है तो उसे वो उसे नहीं छोड़ेंगे।

अन्नामलाई ने कहा कि उनकी वफादारी पार्टी के साथ है, खासकर पीएम मोदी के साथ। उन्होंने कहा कि अगर आप पीएम मोदी को गालियाँ पड़ती है तो वो चुप नहीं रहेंगे। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी को गाली देना उनके लिए लक्ष्मण रेखा है। उदयनिधि स्टालिन को तमिलनाडु का पप्पू कहे जाने पर अन्नामलाई ने कहा कि उनके लिए भी तरह-तरह की भाषा का इस्तेमाल किया जाता है। उन्होंने कहा कि उनका काम है इस तरह से जवाब देना कि दोबारा वो पीएम मोदी को लेकर ऐसी टिप्पणी न करें।

अन्नामलाई ने कहा, “अगर आप मेरा अपमान करते हैं और मुझे गाली देते हैं तो ठीक है। लेकिन, यही आप पीएम मोदी के साथ करते हैं तो मैं चुप नहीं रहूँगा। मैं यहाँ पीएम मोदी का प्रतिनिधित्व करता हूँ। स्पष्ट है कि पीएम मोदी खुद जवाब नहीं देंगे, वो गालियों से और आगे ही बढ़ रहे हैं। मैं एक मीठा बोलने वाला व्यक्ति हूँ, लेकिन मेरी लक्ष्मण रेखा को नहीं छुआ जाना चाहिए। अगर आप बार-बार झूठ बोलेंगे और मीडिया उस प्रोपेगंडा को फैलाएगा तो मैं कड़ा जवाब दूँगा।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NEET-UG विवाद: क्या है NTA, क्यों किया गया इसका गठन, किस तरह से कराता है परीक्षाओं का आयोजन… जानिए सब कुछ

सरकार ने परीक्षाओं के पारदर्शी, सुचारू और निष्पक्ष संचालन को सुनिश्चित करने के लिए विशेषज्ञों की एक उच्च स्तरीय समिति की घोषणा की है

हिंदुओं का गला रेता, महिलाओं को नंगा कर रेप: जो ‘मालाबर स्टेट’ माँग रहे मुस्लिम संगठन वहीं हुआ मोपला नरसंहार, हमें ‘किसान विद्रोह’ पढ़ाकर...

जैसे मोपला में हिंदुओं के नरसंहार पर गाँधी चुप थे, वैसे ही आज 'मालाबार स्टेट' पर कॉन्ग्रेसी और वामपंथी खामोश हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -