Tuesday, January 18, 2022
Homeराजनीतिमुलायम के बयान से आहत हुए आज़म ख़ान, कहा- ये बयान 'नेताजी' का नहीं...

मुलायम के बयान से आहत हुए आज़म ख़ान, कहा- ये बयान ‘नेताजी’ का नहीं हो सकता

आज़म ख़ान के अलावा मुलायम के पुराने साथी और राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने ख़ुलासा किया है कि आखिर मुलायम ने संसद में ऐसा बयान क्यों दिया। उन्होंने मुलायम की टिप्पणी पर कहा कि यह बयान भ्रम पैदा करने के लिए दिया गया है।

16वीं लोकसभा के आखिरी सत्र में मुलायम सिंह ने पीएम मोदी की तारीफ़ में जो बयान दिया, उससे विपक्ष के साथ राजनीति के हर गलियारे में हलचल मच गई। सोशल मीडिया पर आम जनता ने प्रतिक्रियाओं को लेकर झड़ी लगा दी है। ऐसे में मुलायम सिंह यादव के बेहद ख़ास रहे आजम खान ने भी इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। आज़म खान का कहना है कि यह बयान मुलायम जी का नहीं है, यह बयान उनसे दिलवाया गया है।

एक तरफ जहाँ अखिलेश बाबू गठजोड़ के ज़रिए पीएम मोदी को सत्ता से हटाने के लिए लगातार प्रयासरत है वहीं बुधवार को उनके पिता मुलायम सिंह यादव ने भरी संसद में नरेन्द्र मोदी के दोबारा पीएम बनने की कामना की है।

ऐसे में सपा के वरिष्ठ नेता और यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री रह चुके आज़म ख़ान ने इस बयान को सुनकर काफ़ी दुख जताया। आज़म ख़ान ने मुलायम सिंह यादव के इस बयान पर कहा, “बहुत दुख हुआ यह सुनकर। यह बयान उनके मुँह में डाला गया है। यह बयान नेताजी का नहीं है, इसे नेताजी से दिलवाया गया है।”

बता दें कल सत्र के आख़िरी दिन इस बात का पता चला कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव भी पीएम मोदी के फैन हैं। पूर्व सपा सुप्रीमो ने नरेंद्र मोदी के फिर से प्रधानमंत्री बनने की कामना की थी। बजट सत्र के आख़िरी दिन मुलायम ने पीएम मोदी की उपस्थिति में सदन में कहा, “मेरी कामना है कि यहाँ जितने भी सदस्य हैं, वे फिर से चुनकर आएँ। हम इतना बहुमत हासिल नहीं कर सकते हैं, इसलिए प्रधानमंत्री जी आप फिर प्रधानमंत्री बनकर आएँ।”

मुलायम सिंह के इस बयान का सदन ने ठहाकों और तालियों की गड़गड़ाहट से स्वागत किया। संसद में यूपीए अध्यक्षा सोनिया गाँधी के साथ बैठे मुलायम ने जैसे ही पीएम मोदी के बारे में ऐसा कहा, लोकसभा में ‘जय श्री राम’ के नारे गूँजने लगे। उनके बगल में बैठीं सोनिया गाँधी इस दौरान इधर-उधर देखने लगीं।

इसके अलावा मुलायम के पुराने साथी और राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने ख़ुलासा किया है कि आखिर मुलायम ने संसद में ऐसा बयान क्यों दिया। उन्होंने मुलायम की टिप्पणी पर कहा कि यह बयान भ्रम पैदा करने के लिए दिया गया है। अमर सिंह ने लोकसभा में मुलायम सिंह यादव की टिप्पणी पर कहा कि इस बयान को भ्रम पैदा करने के उद्देश्य से दिया गया है ताकि भ्रष्टाचार के मामलों पर मोदी शांत रहें।

बता दें मुलायम सिंह यादव की इस टिप्पणी पर राबड़ी यादव का भी बयान आया है, राबड़ी ने कहा, ‘उनकी उम्र हो गई है, उन्हें याद नहीं रहता है कब क्या बोल देंगे, उनकी बोली का कोई माएने नहीं रखता है।’

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

17 की उम्र में पहली हत्या, MLA तक के मर्डर में नाम: सपा का प्यारा अतीक अहमद कभी था आतंक का पर्याय, योगी राज...

मुलायम सिंह यादव ने 2003 में उत्तर प्रदेश में अपनी सरकार बनाई। यह देख अतीक अहमद एक बार फिर समाजवादी हो गया। फूलपुर से वो सपा सांसद बना।

‘अमानतुल्लाह खान यहाँ नमाज पढ़ सकते हैं तो हिंदू हनुमान चालीसा क्यों नहीं?’: इंद्रप्रस्थ किले पर गरमाया विवाद, अंदर मस्जिद बनाने के भी आरोप

अमानतुल्लाह खान की एक वीडियो के विरोध में आज फिरोज शाह कोटला किले के बाहर हिंदूवादी लोगों ने इकट्ठा होकर हनुमान चालीसा का पाठ किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,996FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe