Wednesday, July 28, 2021
Homeराजनीतिजम्मू कश्मीर DDC चुनाव: 86 सीटों पर आगे निकला गुपकार गैंग, भाजपा को 47...

जम्मू कश्मीर DDC चुनाव: 86 सीटों पर आगे निकला गुपकार गैंग, भाजपा को 47 पर बढ़त – कॉन्ग्रेस तीसरे नंबर पर फिसली

21 सीटों पर आगे चल रही कॉन्ग्रेस इस चुनाव में भाजपा का खेल बिगाड़ सकती है, जिसके गुपकार गैंग से मिल जाने की संभावना है।

जम्मू कश्मीर में हुए स्थानीय निकाय (DDC) के चुनावों में गुपकार गैंग और भाजपा के बीच काँटे की टक्कर चल रही है, लेकिन शुरुआती बढ़त के बाद भाजपा पिछड़ रही है। खबर लिखे जाने तक जहाँ गुपकार गैंग 86 सीटों पर आगे चल रहा था, वहीं भाजपा 47 सीटों पर आगे है। हालाँकि, 21 सीटों पर आगे चल रही कॉन्ग्रेस इस चुनाव में भाजपा का खेल बिगाड़ सकती है, जिसके गुपकार गैंग से मिल जाने की संभावना है।

जम्मू कश्मीर में DDC की कुल 280 सीटों के लिए मतदान हुए थे, जिसके चुनाव परिणाम आज आने वाले हैं। काउंटिंग की प्रक्रिया को रिटर्निंग अधिकारियों के सुपरविजन में पूरा किया जा रहा है और पूरी प्रक्रिया की CCTV रिकॉर्डिंग भी की जा रही है। कोरोना के दौरान जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए काउंटिंग हो रही है। कई इलाकों में धारा-144 लागू है और कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए कुछ नेताओं को हिरासत में भी लिया गया।

जम्मू और कश्मीर डिवीजन में कुल सीटों का आधार, अर्थात दोनों ही डिवीजन में 140-140 सीटें हैं। जम्मू-कश्मीर में जिला विकास परिषद (DDC) चुनाव की मतगणना से एक दिन पहले सोमवार को अधिकारियों ने एहतियात के तौर पर कम से कम 20 राजनीतिक नेताओं को हिरासत में लिया था।

चुनाव प्रचार के दौरान केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा था कि गुपकार गैंग के पास जब सत्ता थी तो उन्होंने कभी रिफ्यूज़ियों को वोट का अधिकार नहीं दिया लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने ये समझा कि जिन परिवारों ने हिंदुस्तान को चुना, पाकिस्तान का तिरस्कार किया, उनको ये अधिकार मिलना चाहिए कि वो जाकर वोट करें। उन्होंने पूछा था कि जिन्होंने हिन्दुस्तान को तब गले लगाया, जब भारत का विभाजन हुआ और हिन्दुस्तान की धरती को चुना और रिफ्यूजी बनकर यहाँ आए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

उत्तर-पूर्वी राज्यों में संघर्ष पुराना, आंतरिक सीमा विवाद सुलझाने में यहाँ अड़ी हैं पेंच: हिंसा रोकने के हों ठोस उपाय  

असम के मुख्यमंत्री नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस के सबसे महत्वपूर्ण नेता हैं। उनके और साथ ही अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों के लिए यह अवसर है कि दशकों से चल रहे आंतरिक सीमा विवाद का हल निकालने की दिशा में तेज़ी से कदम उठाएँ।

बकरीद की ढील का दिखने लगा असर? केरल में 1 दिन में कोरोना संक्रमण के 22129 केस, 156 मौतें भी

पूरे देश भर में रिपोर्ट हुए कोविड केसों में 53 % मामले अकेले केरल से आए हैं। भारत में कुल मामले जहाँ 42, 917 रिपोर्ट हुए। वहीं राज्य में 1 दिन में 22129 केस आए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,660FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe