जिला पार्षद के बेटों व भाई ने 1 किमी तक खदेड़कर नाबालिग को मारी गोली, हुई मौत

इन लोगों ने विशाल को एक किमी तक खदेड़ा और फिर उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। इस मामले में पुलिस को 6 लोगों का फुटेज मिला है, जिसकी पहचान की जा रही है।

पटना के राजीव नगर थाने की चंद्रविहार कॉलोनी से शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहाँ रविवार (जुलाई 21, 2019) को जदयू की दानापुर उत्तरी की जिला पार्षद रेणु देवी के बेटों और भाई ने छोटे से विवाद पर एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी।

जानकारी के मुताबिक रेणु देवी के बेटों और भाई ने पहले गाड़ी से उस युवक को लगभग एक किलोमीटर तक खदेड़ा और फिर उसे गोली मार दी। जिस कारण उसकी मौक़े पर ही मौत हो गई।

प्रभात खबर के अनुसार मृत युवक की पहचान 17 वर्षीय विशाल राय के रूप में हुई है। विशाल का दोष सिर्फ़ इतना था कि 10 दिन पहले उसके बाइक की टक्कर जिला पार्षद रेणु देवी के पति माला राय की सफारी गाड़ी से हो गई थी। जिसपर माला राय और उनके बेटों ने उसे जान से मारने की धमकी दी थी। विशाल राजीवनगर थाने की देवबिहार कॉलोनी के निवासी सिरदा राय का बेटा था।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

मृतक के चाचा विनोद यादव ने इस मामले के मद्देनजर माला राय समेत 10 नामजद और 2 अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज करवाई है। जिसके बाद डीएसपी लॉ एंड ऑर्डर ने मौक़े पर पहुँच कर इस मामले में कार्रवाई की। इस घटना से इलाके में काफ़ी तनाव बना हुआ है।

घरवालों का कहना है कि घटना वाले दिन सुबह विशाल घर से निकलकर अपने दोस्त प्रिंस के साथ दीघा-आशियाना रोड की ओर जा रहा था कि तभी इस दौरान एक सफ़ेद सफारी आई, जिसमें माला राय और उनके परिवार के लड़के मौजूद थे। इन लोगों ने विशाल को एक किमी तक खदेड़ा और फिर उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। इस मामले में पुलिस को 6 लोगों का फुटेज मिला है, जिसकी पहचान की जा रही है।

बता दें प्रभात खबर की रिपोर्ट के मुताबिक इस घटना के बाद वहाँ आक्रोशित लोगों ने जिला पार्षद के घर को घेरकर खूब तोड़फोड़ की। गुस्साए लोगों ने इस दौरान उनके घर में खड़ी चार बाइकों में भी आग लगा दी।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

संदिग्ध हत्यारे
संदिग्ध हत्यारे कानपुर से सड़क के रास्ते लखनऊ पहुंचे थे। कानपुर रेलवे स्टेशन के सीसीटीवी से इसकी पुष्टि हुई है। हत्या को अंजाम देने के बाद दोनों ने बरेली में रात बिताई थी। हत्या के दौरान मोइनुद्दीन के दाहिने हाथ में चोट लगी थी और उसने बरेली में उपचार कराया था।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

104,900फैंसलाइक करें
19,227फॉलोवर्सफॉलो करें
109,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: