Saturday, May 25, 2024
Homeराजनीति'शिवकुमार के बढ़ते कद को देख, सिद्धरमैया ने करवाई गिरफ्तारी'

‘शिवकुमार के बढ़ते कद को देख, सिद्धरमैया ने करवाई गिरफ्तारी’

"मैं भगवान से प्रार्थना करता हूँ कि वे इन सब चीजों से जल्दी से जल्दी बाहर आएँ, मैंने अपनी जिंदगी में किसी से नफरत नहीं की है, न ही मैंने किसी के लिए बुरा चाहा है।...."

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में फँसे कॉन्ग्रेस के दिग्गज नेता डीके शिवकुमार को लेकर कर्नाटक के भाजपा अध्यक्ष नलिन कुमार ने बड़ा बयान दिया है। नलिन कुमार ने उनकी गिरफ्तारी पर संदेह जताते हुए कहा है, “मुझे शंका है कि डीके शिवकुमार मामले की वजह पूर्व सीएम सिद्धारमैया है।”

उनका कहना है कि 2017 में आईटी विभाग और ईडी ने शिवकुमार के घर पर रेड मारी थी तब सिद्धारमैया मुख्यमंत्री थे। वो चाहते तो वो ये सब रोक सकते थे, लेकिन उन्होंने ऐसा किया नहीं।

भाजपा अध्यक्ष की मानें तो उन्हें लगता है सिद्धारमैया ने ऐसा इसलिए किया, क्योंकि कॉन्ग्रेस में डीके शिवकुमार का कद तेजी से बढ़ रहा था। उनके मुताबिक यही कारण है कि डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी के पीछे सिद्धारमैया हो सकते हैं।

इससे पहले कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा भी शिवकुमार की गिरफ्तारी पर कह चुके हैं, “मैं भगवान से प्रार्थना करता हूँ कि वे इन सब चीजों से जल्दी से जल्दी बाहर आएँ, मैंने अपनी जिंदगी में किसी से नफरत नहीं की है, न ही मैंने किसी के लिए बुरा चाहा है। कानून अपना काम करेगा, यदि वे निर्दोष साबित होकर बाहर आते हैं तो सबसे ज्यादा खुशी मुझे होगी।”

लेकिन उल्लेखनीय है कि डीके शिवकुमार ने अपनी गिरफ्तारी को राजनीतिक साजिश करार दी थी और भाजपा पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था, “मैं अपने बीजेपी के मित्रों को बधाई देता हूँ कि उन्होंने मुझे गिरफ्तार करने के मिशन को सफलतापूर्वक पूरा किया। मेरे खिलाफ आईटी और ईडी केस राजनीतिक रूप से प्रेरित है। मैं बीजेपी की बदले की कार्रवाई का शिकार हूँ।”

जानकारी के लिए बता दें कि मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शिवकुमार 13 सितंबर तक प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में हैं। वह इस मामले में पूछताछ के लिए तीसरी बार इस हफ्ते सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश हुए थे। लेकिन ईडी ने उनपर काफी पहले से ही शिकंजा कसा हुआ था। उनसे पूछताछ पिछले चार दिन से चल रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

OBC आरक्षण में मुस्लिम घुसपैठ पर कलकत्ता हाई कोर्ट का फैसला देश की आँख खोलने वाला: PM मोदी ने कहा – मेहनती विपक्षी संसद...

पीएम मोदी ने कहा कि मेरे लिए मेरे देश की 140 करोड़ जनता साकार ईश्वर का रूप है। सरकार और राजनीति दलों को जनता प्रति उत्तरदायी होना चाहिए।

SFI के गुंडों के बीच अवैध संबंध, ड्रग्स बिजनेस… जिस महिला प्रिंसिपल ने उठाई आवाज, केरल सरकार ने उनका पैसा-पोस्ट सब छीना, हाई कोर्ट...

कागरगोड कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ रेमा एम ने कहा था कि उन्होंने छात्र-छात्राओं को शारीरिक संबंध बनाते देखा है और वो कैंपस में ड्रग्स भी इस्तेमाल करते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -