Thursday, June 20, 2024
Homeराजनीति'मैंने 233 कश्मीरी पंडितों को नौकरी दी': कश्मीरी शरणार्थियों के खिलाफ कोर्ट गई थी...

‘मैंने 233 कश्मीरी पंडितों को नौकरी दी’: कश्मीरी शरणार्थियों के खिलाफ कोर्ट गई थी केजरीवाल सरकार, शिक्षक संघ ने बयान को बताया झूठ

"केजरीवाल सरकार कश्मीरी पंडितों के खिलाफ तीन बार कोर्ट गई, तीनों बार हारी। ये वो सच है जो बिका हुआ मीडिया कभी नहीं दिखाएगा।"

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने दिल्ली विधानसभा में कश्मीरी पंडितों का मजाक उड़ाते हुए विवेक अग्निहोत्री की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को भाजपा समर्थित और ‘झूठी फिल्म’ कहा था। यही नहीं विधानसभा में फिल्म को दिल्ली में टैक्स फ्री करने के मुद्दे पर केजरीवाल ने इसे यूट्यूब पर डालने की सलाह दी थी, जिसके बाद वह और उनके पार्टी के नेता जोर-जोर से ठहाके लगाते हुए नजर आए थे।

इस बीच ‘प्रवासी शिक्षक संघ (Kashmiri Migrant Teachers Association)’ ने ट्विटर पर एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर केजरीवाल को बेनकाब कर दिया है। इससे साफ कहा गया है कि अरविंद केजरीवाल झूठ बोल रहे थे। इस मामले को कई समाचार पत्रों में प्रकाशित रिपोर्टों से भी सत्यापित किया जा सकता है।

फोटो साभार: ट्विटर

मालूम हो कि अरविंद केजरीवाल ने रविवार (27 मार्च, 2022) को एक इंटरव्यू में कहा था, “मैंने 233 कश्मीरी पंडितों को नौकरी दी है, भाजपा ने क्या किया है। कश्मीरी पंडितों का मुद्दा बहुत संवेदनशील है, हम केंद्र सरकार के साथ मिलकर काम करने को तैयार हैं, इस पर राजनीति बंद होनी चाहिए।”

केजरीवाल का झूठ सोशल मीडिया पर सामने आने के बाद द कश्मीर फाइल्स के निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने अपनी प्रति​क्रिया व्यक्त की है। उन्होंने ट्वीट किया, “हे भगवान। यह बहुत शर्म की बात है कि कश्मीरी हिंदू शिक्षकों को एक चुने हुए प्रतिनिधि के सफेद झूठ को उजागर करने के लिए इस तरह से सामने आना पड़ा। सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर झूठ बोलने पर कानून में क्या सजा है?”

बता दें कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ को प्रोपेगेंडा और झूठ बताने पर फिल्म के अभिनेता अनुपम खेर ने केजरीवाल पर हमला करते हुए बोला था, “यह शर्मनाक है। शर्मनाक है, क्योंकि उन्होंने यह फिल्म नहीं देखी है। ऐसा नहीं है कि उन्होंने पहले फिल्में टैक्स-फ्री नहीं की हैं। मुझे लगता है कि उन्होंने हाल में 83 टैक्स फ्री की हैं। यह फिल्म टैक्स-फ्री से आगे बढ़ चुकी है। यह एक आंदोलन बन गया है, मूवमेंट बन गई है।”

वहीं भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “केजरीवाल ने नविका के सामने खुलेआम झूठ बोला कश्मीरी पंडितों के बारे में। नविका ने सफेद झूठ देश को दिखाया। कोई सवाल नहीं पूछा। सच ये हैं कि केजरीवाल सरकार कश्मीरी पंडितों के खिलाफ तीन बार कोर्ट गई, तीनों बार हारी। ये वो सच है जो बिका हुआ मीडिया कभी नहीं दिखाएगा।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 फसलों पर MSP की बढ़ोतरी, पवन ऊर्जा परियोजना, वाराणसी एयरपोर्ट का विस्तार, पालघर का पोर्ट होगा दुनिया के टॉप 10 में: मोदी कैबिनेट...

पालघर के वधावन पोर्ट की क्षमता अब 298 मिलियन टन यूनिट की जाएगी। इससे भारत-मिडिल ईस्ट कॉरिडोर भी मजबूत होगा। 9 कंटेनर टर्मिनल होंगे।

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -