‘हम लोग बहुत डरे हुए हैं, हमारा साथ दोगे?’ – 370 पर घाटी के पूर्व CM ने माँगी थी ममता बनर्जी की मदद

ममता बनर्जी ने खुलासा किया है कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद-370 के कुछ प्रावधान समाप्त किए जाने से पहले वहाँ के एक पूर्व मुख्यमंत्री ने उनसे मदद माँगी थी।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 के प्रभाव को समाप्त करने के बाद विपक्षी दलों से बयानबाजी लगातार जारी है। इसी विरोध के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक खुलासा किया है।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) अध्यक्ष ममता बनर्जी ने खुलासा किया है कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद-370 के कुछ प्रावधान समाप्त किए जाने से पहले वहाँ के एक पूर्व मुख्यमंत्री ने उनसे मदद माँगी थी।

तृणमूल कॉन्ग्रेस प्रमुख ने कहा, “यह सब होने से एक दिन पहले, एक पूर्व मुख्यमंत्री ने मुझे फोन किया और कहा कि हम बहुत डरे हुए हैं, यदि हमारे सामने कोई दिक्कत आती है तो क्या आप हमारे साथ खड़ी होंगी? यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि मैं उनके साथ नहीं खड़ी हो सकी। भले ही शारीरिक रूप से नहीं लेकिन मानसिक रूप से हम उनके साथ हैं।”

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

बुधवार (14 अगस्त, 2019) को एक कार्यक्रम में ममता ने यह दावा किया। उन्होंने कहा- “मैं संविधान के अनुच्छेद 370 के बारे में अधिक बात नहीं करना चाहती हूँ, पर जिस तरह से उसे निरस्त किया गया, वह तरीका गलत था। क्या मुझे जम्मू और कश्मीर के तीन पूर्व सीएम के बारे में जानने का अधिकार भी नहीं है? वे लोगों द्वारा चुन कर सीएम बने थे।”

प्रोग्राम के दौरान ममता बनर्जी ने कहा, “8-10 दिनों से उनके (तीनों सीएम) के बारे में देश को कोई खबर नहीं है। अगर आज मैं यह सवाल पूछती हूँ, तब मुझे केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) या फिर प्रवर्तन निदेशालय (ED) गिरफ्तार कर लेगा? मैं अभी भी मानती हूँ कि इस मसले पर सभी पार्टियाँ शांतिपूर्ण ढंग से बातचीत कर हल निकाल सकती हैं।”

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

संदिग्ध हत्यारे
संदिग्ध हत्यारे कानपुर से सड़क के रास्ते लखनऊ पहुंचे थे। कानपुर रेलवे स्टेशन के सीसीटीवी से इसकी पुष्टि हुई है। हत्या को अंजाम देने के बाद दोनों ने बरेली में रात बिताई थी। हत्या के दौरान मोइनुद्दीन के दाहिने हाथ में चोट लगी थी और उसने बरेली में उपचार कराया था।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

104,900फैंसलाइक करें
19,227फॉलोवर्सफॉलो करें
109,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: