Tuesday, June 25, 2024
Homeराजनीतिमणिपुर में जुलाई से गायब 2 मैतेई छात्रों की लाश की तस्वीरें वायरल, CBI...

मणिपुर में जुलाई से गायब 2 मैतेई छात्रों की लाश की तस्वीरें वायरल, CBI करेगी जाँच: बोले CM बीरेन सिंह- हत्यारों को बख्शा नहीं जाएगा

"लापता छात्रों के दुखद निधन के संबंध में कल सामने आई परेशान करने वाली खबर को लेकर मैं राज्य के लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूँ कि राज्य और केंद्र सरकार दोनों अपराधियों को पकड़ने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं।"

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बिरेन सिंह ने दो लापता छात्रों की हत्या के मामले में राज्य की जनता को विश्वास दिलाया है कि आरोपितों को बख्शा नहीं जाएगा। इस मामले में केंद्र और राज्य साथ मिलकर काम कर रहे हैं। वहीं यहाँ फिर से शुरू हुए विरोध प्रदर्शनों की वजह से एक बार फिर से इंटरनेट सेवाएँ बंद कर दी गई हैं। राज्य में इंटरनेट सेवाएँ 1 अक्टूबर, 2023 की शाम 7:45 बजे तक निलंबित रहेंगी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बुधवार 27 सितंबर से लेकर 29 सितंबर, 2023 तक स्कूल भी बंद कर दिए गए हैं।

हाल ही में शनिवार 23 सितंबर, 2023 को ही राज्य में लंबे समय के बाद इंटरनेट सेवाएँ बहाल की गई। लेकिन इसके तुरंत बाद ही सोशल मीडिया पर 6 जुलाई को लापता हुए दो मैतई छात्रों की लाशों की तस्वीरें वायरल होने के बाद इस पूर्वोत्तर राज्य में तनाव का माहौल है। लोग विरोध प्रदर्शन पर उतर आए हैं।

ऐसे में राजधानी इंफाल में इन छात्रों की हत्या पर विरोध प्रदर्शन कर रही भीड़ पर पुलिस को लाठियाँ भाजनी पड़ी। इसमें 30 छात्र घायल हो गए। आखिरकार फिर से राज्य में मंगलवार (26 सितंबर) से 5 दिनों के लिए इंटरनेट सेवाएँ बंद कर दी गई।

केंद्र और राज्य मिलकर कर रहे काम

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बिरेन सिंह ने दो छात्रों की हत्या पर दुख जताया है। उन्होंने एक्स हैंडल पर मंगलवार 26 सितंबर की रात पोस्ट किया, “लापता छात्रों के दुखद निधन के संबंध में कल सामने आई परेशान करने वाली खबर को लेकर मैं राज्य के लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूँ कि राज्य और केंद्र सरकार दोनों अपराधियों को पकड़ने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “इस महत्वपूर्ण जाँच में और तेजी लाने के लिए केंद्रीय जाँच ब्यूरो (सीबीआई) एक विशेष टीम के साथ 27 सिंतबर सुबह एक विशेष उड़ान से इंफाल पहुँच रहे हैं। उनकी मौजूदगी में इस मामले को तेजी से हल करने के लिए हमारे अधिकारियों की प्रतिबद्धता दिखती है। मैं लगातार माननीय केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के संपर्क में हूँ, ताकि अपराधियों का पता लगाएँ और उन्हें न्याय के कठघरे में लाएँ।”

सीबीआई की स्पेशल टीम करेगी जाँच

बता दें कि सीबीआई के स्पेशल डॉयरेक्टर अजय भटनागर दो छात्रों की हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए आज बुधवार (27 सितंबर) को स्पेशल फ्लाइट से मणिपुर पहुँच रहे हैं। इस टीम में उनके साथ ज्वाइंट डॉयरेक्टर घनश्याम उपाध्याय भी होंगे जो अभी इंफाल में है।

इस टीम में खास अपराधों, क्राइम सीन रिक्रिएशन, इंट्रोगेशन और टेक्निकल सर्विलाँस में माहिर आधिकारी शामिल होंगे। इसके साथ ही सीबीआई की सेंट्रल फॉरेंसिक साइंस लैबरोटरी के एक्सपर्ट भी होंगे।

राज्य में स्कूल भी हैं बंद

मणिपुर से जुलाई से लापता दो छात्रों की लाशों की फोटो सोशल मीडिया पर सोमवार (25 सितंबर) को वायरल हुई थी। दोनों छात्रों की पहचान 20 साल के फिजाम हेमजीत और 17 साल के हिजाम लिनथोइनगांबी के रूप में हुई। इन मृतक छात्रों में से एक छात्र नाबालिग बताया जा रहा है।

इसी मामले को लेकर मणिपुर में मैतई समुदाय के छात्र विरोध में उतर आए हैं। इस वजह से एक बार फिर पूरे राज्य में तनाव बढ़ गया है। सैकड़ों छात्र विरोध में इंफाल में सड़कों पर उतर आए हैं। इन विरोध प्रदर्शन पर काबू पाने के पुलिस ने मंगलवार 26 सिंतबर को पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इसमें 30 से अधिक छात्र घायल हो गए।

मंगलवार को ही प्रर्दशनकारियों ने सीएम के आवास की तरफ भी मार्च की कोशिश की थी। सुरक्षा बलों ने आँसू गैस और स्मोक बम छोड़ कर भीड़ को तितर बितर किया। इस मामले को सीबीआई ने अपने हाथ में ले लिया है।

गौरतलब है कि मणिपुर हाईकोर्ट के गैर आदिवासी या जनजाति मैतेई समुदाय को राज्य के अनुसूचित जनजाति में शामिल किए जाने के फैसले के बाद ही जातीय संघर्ष का शिकार है। इससे वहाँ कुकी और मैतेई समुदाय के लोग आपस में जातीय संघर्ष में उलझे हुए हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिंदुओं का गला रेता, महिलाओं को नंगा कर रेप: जो ‘मालाबर स्टेट’ माँग रहे मुस्लिम संगठन वहीं हुआ मोपला नरसंहार, हमें ‘किसान विद्रोह’ पढ़ाकर...

जैसे मोपला में हिंदुओं के नरसंहार पर गाँधी चुप थे, वैसे ही आज 'मालाबार स्टेट' पर कॉन्ग्रेसी और वामपंथी खामोश हैं।

जूलियन असांजे इज फ्री… विकिलीक्स के फाउंडर को 175 साल की होती जेल पर 5 साल में ही छूटे: जानिए कैसे अमेरिका को हिलाया,...

विकिलीक्स फाउंडर जूलियन असांजे ने अमेरिका के साथ एक डील कर ली है, इसके बाद उन्हें इंग्लैंड की एक जेल से छोड़ दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -