Thursday, September 23, 2021
Homeदेश-समाजदिल्ली में 523 कोरोना संक्रमितों में 330 तबलीगी जमात वाले: CM केजरीवाल ने भी...

दिल्ली में 523 कोरोना संक्रमितों में 330 तबलीगी जमात वाले: CM केजरीवाल ने भी माना; ऑर्डर किए गए 1 लाख टेस्ट किट

दिल्ली के सीएम ने माना है कि मरकज़ में हुए इस्लामी कार्यक्रम से ही कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि हुई है। केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में कोविड-19 की टेस्टिंग प्रक्रिया में भी तेजी लाई जा रही है। रोज क़रीब 1000 सैम्पल्स टेस्ट किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि 1 लाख टेस्टिंग किट के लिए पहले ही ऑर्डर दिया जा चुका है।

दिल्ली में सोमवार (मार्च 6, 2020) को कोरोना वायरस के 20 नए मामले सामने आए। इनमें से 10 तबलीगी जमात से जुड़े मामले हैं। निजामुद्दीन स्थित मरकज़ मस्जिद में हजारों लोग जुटे थे, जिसके बाद वो कई राज्यों में निकल गए और भारत में इस महामारी का प्रकोप बढ़ गया। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बताया है कि अब तक दिल्ली में कोरोना वायरस के 523 मामले सामने आए हैं। इनमें से 330 मामले तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं। इनमें 61 विदेशी भी शामिल हैं।

पिछले 24 घंटों में दिल्ली में एक व्यक्ति की मौत हुई है। 25 ऐसे मरीज हैं, जिन्हें आईसीयू में रखा गया है। 8 को वेंटीलेटर की ज़रूरत पड़ी है। बाकियों की स्थिति अभी ठीक है। दिल्ली के सीएम ने माना है कि मरकज़ में हुए इस्लामी कार्यक्रम से ही कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि हुई है। केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में कोविड-19 की टेस्टिंग प्रक्रिया में भी तेजी लाई जा रही है। रोज क़रीब 1000 सैम्पल्स टेस्ट किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि 1 लाख टेस्टिंग किट के लिए पहले ही ऑर्डर दिया जा चुका है।

केजरीवाल ने कहा कि जितनी ज्यादा टेस्टिंग होगी, कोरोना से लड़ने में उतनी ज्यादा मदद मिलेगी। केंद्र सरकार ने भी दिल्ली को 27,000 ‘पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट्स’ किट दिए हैं। केजरीवाल ने घोषणा करते हुए कहा कि दिल्ली के 421 स्कूलों में लोगों को मंगलवार से राशन दिया जाएगा। सभी लोगों को 4 किलो गेहूँ और 1 किलो चावल दिया जाएगा। दिल्ली सरकार का लक्ष्य है कि 10 लाख लोगों को राशन दिया जाए। केजरीवाल ने बताया कि लोगों को ज़रूरत पड़ने पर केंद्र से भी अनाज लिया जाएगा। अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि राशन वितरण सेंटरों पर भीड़ न जुटे।

बता दें कि पूरे भारत में अब तक कोरोना के 4600 मामले आ चुके हैं, जिनमें से 4126 सक्रिय मामले हैं। 340 लोग इलाज के बाद ठीक होकर घर जा चुके हैं, वहीं 129 लोगों की मृत्यु हुई है। महाराष्ट्र 781 मामलों के साथ टॉप पर है जबकि तमिलनाडु में अब तक 621 मामले सामने आए हैं। सबसे ज्यादा 49 लोगों की मौत भी महाराष्ट्र में ही हुई है। मध्य प्रदेश में 14 लोगों को जान गँवानी पड़ी। तबलीगी जमात वाली घटना के बाद से अचानक से कोरोना के मामलों में भारी वृद्धि आई है।

उत्तर प्रदेश में कुल कोरोना पॉजिटिव 305 मामलों में 159 मामले तबलीगी जमात से जुड़े हैं। अभी जमातियों की स्क्रीनिंग हो रही है उनके संपर्क में आने वाले लोगों को चिन्हित करना है। इन संवेदनशील परिस्थितियों में 14 को लॉक डाउन खोलने के निर्णय पर या किस प्रकार खोलना होगा इस पर विचार किया जाना है यानी तबलीगी जमात से जुड़े केसों के आने के कारण लॉक डाउन आगे बढ़ सकता है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात के दुष्प्रचार में तल्लीन कॉन्ग्रेस क्या केरल पर पूछती है कोई सवाल, क्यों अंग विशेष में छिपा कर आता है सोना?

मुंद्रा पोर्ट पर ड्रग्स की बरामदगी को लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी ने जो दुष्प्रचार किया, वह लगभग ढाई दशक से गुजरात के विरुद्ध चल रहे दुष्प्रचार का सबसे नया संस्करण है।

‘मुंबई डायरीज 26/11’: Amazon Prime पर इस्लामिक आतंकवाद को क्लीन चिट देने, हिन्दुओं को बुरा दिखाने का एक और प्रयास

26/11 हमले को Amazon Prime की वेब सीरीज में मु​सलमानों का महिमामंडन किया गया है। इसमें बताया गया है कि इस्लाम बुरा नहीं है। यह शांति और सहिष्णुता का धर्म है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,821FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe