Saturday, June 25, 2022
Homeराजनीतिधर्मशाला में गरजे पीएम; कहा कांग्रेस ने कर्जमाफी का झूठा वादा कर किसानों को...

धर्मशाला में गरजे पीएम; कहा कांग्रेस ने कर्जमाफी का झूठा वादा कर किसानों को धोखा दिया

उन्होंने हिमाचल प्रदेश की टोपी की तारीफ करते हुए कहा कि वह अपने बैग में हमेशा एक हिमाचल की टोपी रखते हैं।

पिछले साल के विधानसभा चुनावों में जीत के बाद पीएम मोदी पहली बार हिमाचल प्रदेश पहुंचे। बता दें कि हिमाचल प्रदेश में जयराम ठाकुर की सरकार ने एक साल पूरा कर लिया है। धर्मशाला में आयोजित ‘जन आभार रैली’ में प्रधानमंत्री ने केंद्र और राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित 36500 लाभार्थियों और पार्टी कार्यकर्ताओं सहित एक विशाल जनसभा को संबोधित किया। इस रैली को लेकत कई दिनों से पूरे जोर-शोर से तैयारियां चल रही थी और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर खुद समय-समय पर इसका जायजा ले रहे थे। कल केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा, हिमाचल भाजपा प्रभारी मंगल पांडे और प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती ने भी पहुँच कर रैली स्थल का मुआयना किया था और तैयारियों की समीक्षा की थी। उन्होंने हिमाचल प्रदेश की टोपी की तारीफ करते हुए कहा कि वह अपने बैग में हमेशा एक हिमाचल की टोपी रखते हैं।

‘भारत माता की जय’ से अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि वीर्य और शौर्य हिमाचल की रगों में है। उन्होंने साथ ही हिमाचल के व्यंजनों की भी तारीफ़ की। उन्होंने हिमाचल प्रदेश की टोपी की तारीफ करते हुए कहा कि वह अपने बैग में हमेशा एक हिमाचल की टोपी रखते हैं। उन्होंने बताया कि जब इजराइल में उन्होंने यह टोपी पहनी थी तब उन्हें कई फोन आये। उन्होंने कहा;

“हिमाचल आकर ऐसा लगता है कि घर आ गया हूं, यहां काफी साल तक संगठन का काम किया है। उस दौरान जो मेरे साथ काम करते थे, वो आज राज्य के बड़े नेता बन गए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि ये देवभूमि हैं, जहां मां ज्वाला देवी, कांगड़ा देवी के मंदिर हैं। हर गांव में देवी-देवताओं का स्थान है। यहां की संतान जब बॉर्डर पर बंदूक के साथ खड़े होते हैं तो दुश्मन कांप जाता है।”

इस दौरान हिमाचल प्रदेश और वहां हो रहे विकास कार्य को लेकर एक वीडियो भी दिखाया गया। पीएम ने कहा कि इस वीडियो को हिमाचल के हर एक नागरिक के फोने तक पहुंचाना चाहिए। उन्होंने इस अवसर पर अटल बिहारी वाजपेयी को भी याद किया। हिमाचल प्रदेश का गठन के समय वाजपेयी ही देश के प्रधानमंत्री थे। वन रैंक वन पेंशन को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा

“कांग्रेस ने 2014 में चुनाव से पहले वन रैंक वन पेंशन को लेकर झूठ बोला और सिर्फ 500 करोड़ रुपये का बजट बना दिया। लेकिन जब हमने आकर पूरी जानकारी ली तो पता लगा कि इन्होंने कुछ नहीं किया, हमने बजट चेक किया तो उसपर खर्च 12000 करोड़ रुपये तक गया। कांग्रेस ने 2014 में जवान को लेकर झूठ बोला था और आज किसान को लेकर झूठ बोल रही है।”

कांग्रेस द्वारा कर्जमाफी के वादों को खोखला बताते हुए पीएम ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने किसानों के साथ धोखा किया है। उन्होंने कहा

“2008 में भी इन्होंने ऐसा ही किया, 6 लाख करोड़ रुपये का किसान कर्ज कहकर सिर्फ 60 हजार करोड़ माफ किया और 52 हजार करोड़ रुपये दिया। इनमें से 35 लाख ऐसे किसानों के पास पैसा गया जिनका खेत ही नहीं था। पंजाब में किसानों को लेकर कर्जमाफी का वादा किया लेकिन अभी तक नहीं किया, कर्नाटक में सिर्फ 800 किसानों को टोकन पकड़ा दिया गया कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए जवान और किसानों की आंखों धूल झोंकने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को लूटने की आदत थी उनकों आज देश के चौकीदार से डर लगने लगा है और वो उसे गालियां देने में लगे हैं।”

हिमाचल प्रदेश में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा को प्रचंड जीत मिली थी। 68 में से 44 सीट जीत कर भाजपा ने विपक्षी पार्टियों को चारो खाने चित कर दिया था और प्रेम कुमार धूमल के चुनाव हार जाने के कारण जयराम ठाकुर को राज्य का मुख्यमंत्री नियुक्त किया गया था। हिमाचल में केंद्र और राज्य सरकार द्वारा किये जा रहे विकास कार्यों की जानकारी देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा;

“26 हजार के करोड़ के प्रोजेक्ट हिमाचल में चल रहे हैं। टूरिज्म बढ़ाने के लिए हवाई यात्रा का बहुत महत्व है। इसका विस्तार किया जा रहा है। कालका शिमला रेलवे का भी विस्तार किया जा रहा है। 9 हजार करोड़ की लागत से नेशनल हाईवे प्रोजेक्ट का काम चल रहा है। भारत दुनिया के टूरिज्म के आकर्षण का केंद्र है। 2013 में 70 लाख विदेशी टूरिस्ट आए और 2017 में यह संख्या 1 करोड़ हो गई।”

साथ ही पीएम मोदी ने ये भी बताया कि सरकार हिमाचल प्रदेश में निवेश बढ़ने के लिए हरसंभव कोशिश कर रही है और इसके परिणाम भी देखने को मिल रहे हैं। बता दें कि पीएम के दौरे से पहले यहाँचाक-चौबंद सुरक्षा की व्यवस्था कर दी गई थी और वरीय अधिकारी मौके पर डटे हुए थे। जनसभा को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी संबोधित किया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘…तो मुंबई जल जाती है’ – खत्म हो रही शिवसेना, रोते हुए धमकी दे रहे कॉन्ग्रेसी मंत्री: मुंबई पुलिस हाई अलर्ट

कॉन्ग्रेस नेता नितिन राउत ने आशंका जताई है कि अगर राज्य में शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने हिंसा की तो केंद्र को राष्ट्रपति शासन का बहाना मिलेगा।

‘द्रौपदी राष्ट्रपति तो पांडव और कौरव कौन हैं?’: राम गोपाल वर्मा के ओछे कमेंट पर हैदराबाद पुलिस ने दर्ज की शिकायत, बीजेपी नेता की...

पुलिस द्वारा एससी / एसटी अधिनियम लागू किया जाना चाहिए और निर्देशक को कड़ी सजा मिलनी चाहिए। पुलिस ने कहा कि कानूनी राय के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,159FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe