Thursday, January 27, 2022
Homeराजनीतिकंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली को तीसरी बार समन, मुंबई पुलिस ने कहा...

कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली को तीसरी बार समन, मुंबई पुलिस ने कहा – ’23 नवंबर से पहले बांद्रा थाने में पेश हो’

सोशल मीडिया पर दो समुदायों के बीच साम्प्रदायिक तनाव फैलाने के लिए किए गए आपत्तिजनक टिप्पणियों को कारण बता कर मुंबई पुलिस ने कंगना और उनकी बहन रंगोली चंदेल को बांद्रा पुलिस थाने में...

मुंबई पुलिस इन दिनों उन सभी लोगों पर अपनी कार्रवाई करने में जुटी है, जिन्होंने पिछले दिनों उद्धव सरकार की खुलेआम तीखी आलोचना की। रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्णब गोस्वामी के बाद अब बारी आई है बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत की। कंगना और उनकी बहन रंगोली चंदेल को मुंबई पुलिस ने समन भेजा है और उन्हें 23-24 से पहले बांद्रा पुलिस के सामने पेश होने को कहा गया है।

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, कंगना रनौत और रंगोली चंदेल को पुलिस द्वारा समन भेजा गया है। इसमें उन्हें 23-24 नवंबर से पहले बांद्रा पुलिस के सामने पेश होने की बात कही गई है। यह समन उन्हें सोशल मीडिया पर दो समुदायों के बीच साम्प्रदायिक तनाव फैलाने के लिए किए गए आपत्तिजनक टिप्पणियों पर भेजा गया है।

बता दें कि कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली को पहले भी दो बार समन भेजा गया था मगर तब उन्होंने घर में अपने भाई की शादी होने का हवाला देकर पेश होने में असमर्थता जताई थी। उनके ख़िलाफ़ बांद्रा पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज हुई थी।

पेशे से वकील और शिकायतकर्ता काशिफ अली खान ने पिछले महीने अंधेरी कोर्ट में रंगोली और कंगना के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। काशिफ ने धारा 121, 121A, 124A,153A ,153B, 295A, 298, और 505 के तहत अपनी शिकायत दर्ज करवाई थी।

काशिफ ने शिकायत में कहा था कि बॉलीवुड एक्ट्रेस भारत के विभिन्न समुदायों, कानूनों और अधिकृत सरकारी निकायों का कोई सम्मान नहीं करतीं और उन्होंने ज्यूडिसरी का मजाक भी उड़ाया। उनका आरोप था कि कंगना और उनकी बहन ने दो धर्मों के बीच सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की कोशिश की।

अर्णब गोस्वामी को भेजा गया कारण बताओ नोटिस

गौरतलब है कि कंगना से पहले मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक टीवी पर अपनी हालिया कार्रवाई में चैनल के एडिटर-इन-चीफ अर्णब गोस्वामी को कारण बताओ नोटिस भेजा था। यह नोटिस पालघर लिंचिंग केस और बांद्रा में प्रवासियों की भीड़ इकट्ठा होने पर की गई ‘सांप्रदायिक टिप्पणियों’ को लेकर था।

इस बार उन्हें रविवार को शाम 4 बजे वर्ली के असिस्टेंट पुलिस कमिशनर और स्पेशल एग्जिक्यूटिव मजिस्ट्रेट के सामने पेश होने को कहा गया है। इतना ही नहीं, इससे पहले रिपब्लिक टीवी के एडिटर अर्णब गोस्वामी से ‘अच्छे बर्ताव’ के लिए एक बॉन्ड साइन करने को भी कहा गया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

धर्मांतरण के दबाव से मर गई लावण्या, अब पर्दा डाल रही मीडिया: न्यूज मिनट ने पूछा- केवल एक वीडियो में ही कन्वर्जन की बात...

लावण्या की आत्महत्या पर द न्यूज मिनट कहता है कि वॉर्डन ने अधिक काम दे दिया था, जिससे लावण्या पढ़ाई में पिछड़ गई थी और उसने ऐसा किया।

आजम खान एंड फैमिली पर टोटल 165 क्रिमिनल केस: सपा ने शेयर की पूरी लिस्ट, सबको ‘झूठे आरोप’ बता क्लीनचिट भी दे दी

समाजवादी पार्टी ने आजम खान, उनकी पत्नी तज़ीन फातिमा और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम खान का आपराधिक रिकॉर्ड शेयर किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
153,853FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe