Tuesday, July 27, 2021
Homeराजनीतिशिवसेना MLA दिलीप लांडे की गुंडागर्दी: नाले के पास बिठा ठेकेदार को कचरे से...

शिवसेना MLA दिलीप लांडे की गुंडागर्दी: नाले के पास बिठा ठेकेदार को कचरे से नहलाया, जो किया उसे सही भी ठहरा रहे

"कचरे को साफ कराने का काम ठेकेदार का था, जो उसने नहीं किया। इससे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। मैंने जो किया, वो इसलिए किया क्योंकि ठेकेदार ने अपना काम नहीं किया।”

मॉनसून मुंबई में दस्तक दे चुका है। पहली बारिश ने ही ठाकरे सरकार की व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी है। जगह-जगह जल जमाव की समस्या देखने को मिल रही है। इस बीच मुंबई के चांदीवली से शिवसेना विधायक दिलीप लांडे द्वारा एक ठेकेदार को सजा देने का वीडियो सामने आया है।

वायरल हो चुके इस वीडियो में देखा जा सकता है कि विधायक दिलीप लांडे ने कुर्ला में नाले के पास एक ठेकेदार को कचरे के ढेर में बैठा दिया और उसके ऊपर कचरा डलवा दिया। वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि शिवसेना विधायक लांडे और उनके समर्थक एक ठेकेदार को पानी से भरी सड़क पर बैठने के लिए मजबूर करते हैं। फिर श्रमिकों को उस पर कचरा डालने के लिए कहते हैं।

इस तरह की कार्रवाई किए जाने का कारण पूछे जाने पर विधायक ने कहा, “कचरे को साफ कराने का काम ठेकेदार का था, जो उसने नहीं किया। इससे भारी जल जमाव के कारण स्थानीय लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। मैंने जो किया, वो इसलिए किया क्योंकि ठेकेदार ने अपना काम नहीं किया।”

शिवसेना विधायक दिलीप लांडे ने आगे कहा कि वो पिछले 15 दिनों से ठेकेदार को फोन कर सड़क साफ करवाने का अनुरोध कर रहे थे। लेकिन ठेकेदार ने ऐसा कभी नहीं किया। विधायक के अनुसार जब शिवसेना के लोग खुद साफ-सफाई करने लगे, तब इसका पता चलते ही ठेकेदार वहाँ दौड़ पड़ा।

किसी नागरिक को जबरन सड़क पर बिठा कर उसके ऊपर कचरा डलवाने जैसा गैर-कानूनी काम के लिए विधायक दिलीप लांडे अपनी सफाई में जो भी कहें लेकिन उनकी इस हरकत की लोग जमकर आलोचना कर रहे हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, मुंबई में पिछले तीन दिनों से मूसलाधार बारिश हो रही है, जिससे शहर के कई इलाकों में जलजमाव हो गया है। मॉनसून के पहले 11 दिनों में 565.2 मिमी बारिश हुई है, जो 505 मिमी की मासिक औसत बारिश से काफी ज्यादा है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने मंगलवार तक बारिश जारी रहने की उम्मीद जताई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe