Thursday, June 20, 2024
Homeराजनीति'₹30 करोड़ लो और CM विजयन का नाम मत लेना' : केरल के सोना...

‘₹30 करोड़ लो और CM विजयन का नाम मत लेना’ : केरल के सोना तस्करी केस में स्वप्ना सुरेश ने लगाए आरोप, कहा- मुझे जान से मारने की धमकी मिली

स्वप्ना के अनुसार उस शख्स ने उन्हें कहा कि केरल सीएम की ओर से उन्हें संपर्क करने वाले शख्स ने ये भी कहा कि अगर वे भारत छोड़ना चाहती हैं तो एक माह के भीतर फर्जी पासपोर्ट की व्यवस्था हो जाएगी।

केरल के सोना तस्करी केस की मुख्य आरोपित स्वप्ना सुरेश ने गुरुवार (9 मार्च 2023) को फेसबुक लाइव में नया खुलासा किया। उन्होंने इस लाइव में आरोप लगाया है कि हाल में उन्हें एक शख्स ने कॉल के जरिए 30 करोड़ रुपए का ऑफर देकर कहा कि सोना तस्करी मामले से सीएम विजयन को दूर रखा जाए। स्वप्ना के मुताबिक उन्हें सीपीएम सचिव गोविंदन मास्टर ने धमकी भी दी कि अगर वो इस पेशकश को ठुकराती हैं तो उन्हें मार दिया जाएगा।

स्वप्ना ने इस लाइव के दौरान बताया कि उन्हें 30 करोड़ रुपए का ऑफर देने वाला शख्स तीन दिन पहले ओटीटी प्लेटफॉर्म पर इंटरव्यू के बहाने उनसे संपर्क में आया था। अब उन्होंने इस संबंध में कर्नाटक गृह मंत्रालय में शिकायत दर्ज करवाई है।

वह बोलीं, “मुझे विजय पिल्लई नाम के एक व्यक्ति का गुमनाम फोन आया। वह समझौता के लिए था। उसने मुझे बेंगलुरु छोड़ने के लिए कहा। सीपीएम पार्टी के सचिव गोविंदन मास्टर ने उससे कहा था कि मुझे धमकाओ और प्रदेश छोड़ने को कहो। उसने मुझे पिनाराई विजयन, उनकी बेटी और व्यवसायी युसुफ अली के बारे में चुप होने के लिए कहा। उन्होंने मुझे 30 करोड़ रुपए ऑफर किए।”

स्वप्ना सुरेश ने दावा किया, “वे चाहते हैं कि मैं हरियाणा या जयपुर चली जाऊँ। उन्होंने कहा कि मुझे हर तरह की मदद दी जाएगी, फ्लैट भी दिया जाएगा। बदले में वे चाहते हैं कि मैं मुख्यमंत्री, उनकी पत्नी, उनके बेटे, उनकी बेटी और उनके अडिशनल प्राइवेट सेक्रटरी सीएम रविंद्रन को लेकर मेरे पास जो भी डीटेल हैं, उसे उन्हें सौंप दूँ। उन्होंने कहा कि अगर मैं ये ऑफर स्वीकार नहीं करती हूँ तो वे मुझे खत्म कर देंगे। ये जान से मारने की धमकी का केस है।”

स्वप्ना के अनुसार उस शख्स ने उन्हें कहा कि केरल सीएम की ओर से उन्हें संपर्क करने वाले शख्स ने ये भी कहा कि अगर वे भारत छोड़ना चाहती हैं तो एक माह के भीतर फर्जी पासपोर्ट की व्यवस्था हो जाएगी।

स्वप्ना सुरेश ने लगाया था यौन दुराचार का आरोप

उल्लेखनीय है कि इससे पहले गोल्ड स्मगलिंग मामले की मुख्य आरोपित स्वप्ना सुरेश ने राज्य के तीन वरिष्ठ माकपा नेताओं पर यौन दुराचार का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि माकपा के दो पूर्व मंत्रियों और एक पूर्व विधानसभा अध्यक्ष ने उनसे शारीरिक संबंध बनाने के लिए कहा था।

बता दें कि इससे पहले स्वप्ना ने कहा था कि सोना तस्करी में सीएम विजयन और उनका परिवार शामिल है। इसके साथ ही एक आरोपित का अपहरण करने का आरोप लगाया था। स्वप्ना ने यह भी कहा था कि केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने आतंकियों को भगाने में यूएई वाणिज्य दूतावास की मदद की थी। 4 जुलाई 2017 को यूएई के एक नागरिक को सीआईएसएफ ने कोच्चि हवाई अड्डे पर भारत में प्रतिबंधित थुरया सैटेलाइट फोन के साथ पकड़ा था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार का 65% आरक्षण खारिज लेकिन तमिलनाडु में 69% जारी: इस दक्षिणी राज्य में क्यों नहीं लागू होता सुप्रीम कोर्ट का 50% वाला फैसला

जहाँ बिहार के 65% आरक्षण को कोर्ट ने समाप्त कर दिया है, वहीं तमिलनाडु में पिछले तीन दशकों से लगातार 69% आरक्षण दिया जा रहा है।

हज के लिए सऊदी अरब गए 90+ भारतीयों की मौत, अब तक 1000+ लोगों की भीषण गर्मी ले चुकी है जान: मिस्र के सबसे...

मृतकों में ऐसे लोगों की संख्या अधिक है, जिन्होंने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया था। इस साल मृतकों की संख्या बढ़कर 1081 तक पहुँच चुकी है, जो अभी बढ़ सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -