Wednesday, December 8, 2021
HomeराजनीतिPM मोदी भूमि पूजन करेंगे, इससे स्वर्णिम अवसर कुछ नहीं हो सकता: शिवसेना

PM मोदी भूमि पूजन करेंगे, इससे स्वर्णिम अवसर कुछ नहीं हो सकता: शिवसेना

शिवसेना ने कहा है कि देश में COVID-19 संकट व्याप्त है, लेकिन यह भगवान शिव के आशीर्वाद से गायब हो जाएगा। हालाँकि, बुधवार (अगस्त 05, 2020) को उत्तर प्रदेश के अयोध्या में आयोजित होने वाले इस समारोह में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की कमी खलेगी क्योंकि वो कोरोना संक्रमण के कारण इसमें शामिल नहीं हो पाएँगे।

शिवसेना ने मंगलवार (अगस्त 04, 2020) को कहा कि अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन समारोह को लेकर पूरा देश उत्साहित है और इससे बड़ा स्वर्णिम अवसर कुछ नहीं हो सकता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमि पूजन करेंगे।

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में कहा है कि देश में COVID-19 संकट व्याप्त है, लेकिन यह भगवान शिव के आशीर्वाद से गायब हो जाएगा। हालाँकि, बुधवार (अगस्त 05, 2020) को उत्तर प्रदेश के अयोध्या में आयोजित होने वाले इस समारोह में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की कमी खलेगी क्योंकि वो कोरोना संक्रमण के कारण इसमें शामिल नहीं हो पाएँगे।

गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार (अगस्त 02, 2020) को कहा कि कोरोना के प्रारंभिक लक्षण दिखने के बाद उनका कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए। उन्होंने कहा कि उनका स्वास्थ्य ठीक है और वह डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं।

अपने मुखपत्र में शिवसेना ने कहा कि वह उनके शीघ्र स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना कर रहे हैं। इसके अलावा, शिवसेना ने इशारा करते हुए कहा है कि हालाँकि, शाह आइसोलेशन में हैं, फिर भी राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार पर संकट मंडरा रहा है।

मराठी दैनिक सामना ने कहा कि गहलोत के पास खुश होने का कोई कारण नहीं है कि शाह आइसोलेशन में हैं क्योंकि भाजपा नेता जहाँ कहीं भी हों, वो ‘राजनीतिक सर्जरी’ करना जानते हैं।

इसमें कहा गया है कि भाजपा के दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी और राम मंदिर निर्माण अभियान से जुड़े प्रमुख नेता मुरली मनोहर जोशी दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए श्रीराम मंदिर निर्माण की लड़ाई के इस इस मधुर अंत के गवाह बनेंगे।

दरअसल, आडवाणी और जोशी को सलाह दी गई है कि वे अपनी उम्र और अयोध्या में COVID-19 के प्रकोप को देखते हुए समारोह में न जाएँ। शिवसेना ने कहा कि अभियान से जुड़ी एक अन्य नेता उमा भारती, COVID ​​-19 के डर से इस समारोह में शामिल नहीं होंगी, और सरयू के तट से समारोह देखेंगी। शिवसेना ने इस लेख में कहा है कि लेकिन भगवान श्रीराम के आशीर्वाद से प्रधानमंत्री और गृह मंत्री को कुछ नहीं होगा।

गौरतलब है कि कल 05, अगस्त को होने जा रहे अयोध्या में श्रीराम मंदिर भूमि पूजन की भव्य तैयारियाँ चल रही हैं। राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में 5 अगस्त को हिस्सा लेने जा रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन घंटे तक अयोध्या में रहेंगे। सुबह 9 बजकर 35 मिनट पर पीएम मोदी दिल्ली से वह विशेष विमान के जरिए अयोध्या के लिए रवाना होंगे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कोरोना काल में ₹42 लाख का क्रिकेट मैच… खिलाड़ी झारखंड के ‘माननीय’ MLA लोग, मैन ऑफ द मैच खुद CM सोरेन

कोरोना महामारी के दौरान 42 लाख रुपए का क्रिकेट मैच खेल लिया झारखंड के विधायकों ने। मैन ऑफ द मैच खुद बने मुख्यमंत्री सोरेन।

‘वसीम रिजवी का सिर कलम करने वाले को 25 लाख रुपए का इनाम’: कॉन्ग्रेस नेता ने खुलेआम किया दोबारा ऐलान

कॉन्ग्रेस विधायक राशिद खान ने मंगलवार को कहा कि वह शिया वक्‍फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी का सिर काटने वाले को 25 लाख रुपए का इनाम देने की बात पर अभी भी कायम हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
142,284FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe