Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीतितन पर भगवा, हाथों में रुद्राक्ष, हजारों की भीड़ में खड़ा एक साधु... EVM...

तन पर भगवा, हाथों में रुद्राक्ष, हजारों की भीड़ में खड़ा एक साधु… EVM कैसे होता है हैक, PM मोदी ने बंगाल में फिर से खुलेआम दिखाया

प्रधानमंत्री ने साधु से कहा कि आप काफी देर से हाथ ऊपर कर खड़े हैं, ऐसे में आप थक जाएँगे। इस उम्र में आप इतना आशीर्वाद दे रहे हैं। मैं यहाँ से आपको प्रणाम करता हूँ।

लोकसभा चुनाव 2024 के रण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल के बर्धमान में जनसभा को संबोधित किया। बर्धमान-दुर्गापुर लोकसभा क्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी और टीएमसी पर जोरदार हमला बोला। इस दौरान प्रधानमंत्री की नजर रैली में आए एक साधु पर पड़ी, जो हाथ में रुद्राक्ष की माला पकड़े हुए थे। पीएम मोदी ने उन्हें न सिर्फ मंच से पुकारा, बल्कि उन्हें आराम करने के लिए भी कहा। पीएम मोदी ने पूछा कि ‘आप मेरे लिए प्रसाद लेकर आए हैं’, इसके जवाब में साधु ने हाथ उठाकर अभिवादन किया।

‘आपको प्रणाम करता हूँ’

पीएम मोदी ने साधु के सामने खड़े होकर कैमरामैन से कहा कि ‘महात्मा जी, वह प्रसाद लेकर मुझे दे दीजिए।’ पीएम मोदी ने आगे साधु से कहा, “आप परेशान मत होइए, आपका प्रसाद मुझे मिल जाएगा।” इसके आगे प्रधानमंत्री ने साधु से कहा कि आप काफी देर से हाथ ऊपर कर खड़े हैं, ऐसे में आप थक जाएँगे। इस उम्र में आप इतना आशीर्वाद दे रहे हैं। मैं यहाँ से आपको प्रणाम करता हूँ।

पीएम मोदी हाथ जोड़कर साधु का अभिवादन करते हैं, जिस पर वह भी हाथ जोड़कर उनको प्रणाम करते हैं। इस पूरे वाकए का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

हालाँकि ये पहला मौका नहीं है, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंच से इस तरह से लोगों को पुकारा हो। पीएम मोदी की 3 मार्च 2024 को पश्चिम बंगाल के आरामबाग में जनसभा को संबोधित करते हुए एक बच्ची पर नजर पड़ी थी। बच्ची के हाथ में भगवान जगन्नाथ की पेंटिग थी। ये पेंटिग हाथ से बनाई हुई थी और वह बच्ची बार-बार अपनी पेंटिग पीएम मोदी की ओर दिखाने की कोशिश कर रही थी।

जनसभा में खड़ी इस बच्ची के पेंटिग पर पीएम मोदी की नजर पड़ी तो उन्होंने प्रोटोकॉल से हटकर तुरंत सुरक्षा अधिकारी को वो पेंटिग लाने का निर्देश दिया। बता दें कि पीएम मोदी ने बच्ची की पेंटिग लेने के लिए थोड़ी देर के लिए अपनी जनसभा को बीच में ही रोक दिया। भगवान जगन्नाथ की पेंटिग जैसे ही पीएम मोदी के पास पहुंची उन्होंने उसे तुरंत उस बच्ची की ओर दिखाकर धन्यवाद किया।

बता दें कि पीएम मोदी अपनी रैलियों में आए लोगों का भी ध्यान रखते देखे गए हैं। एक ऐसा ही वाकया बेंगलुरु में हुआ था, जहाँ एक बच्ची के हाथ में पेंटिंग थी। पीएम मोदी ने पेंटिंग के पीछे बच्ची का पता भी लिखवाया था और उन्होंने बच्ची को चिट्ठी भी लिखी थी। यही नहीं, काँकेर में भी पीएम मोदी ने एक बच्ची को चिट्ठी लिखी थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -