Wednesday, July 24, 2024
Homeराजनीति15-18 की उम्र के बच्चों को 3 जनवरी से वैक्सीन, कोरोना वॉरियर्स और बीमार...

15-18 की उम्र के बच्चों को 3 जनवरी से वैक्सीन, कोरोना वॉरियर्स और बीमार बुजुर्गों को भी 10 जनवरी से प्रिकॉशन डोज: PM मोदी

"15 वर्ष से 18 वर्ष तक की आयु के बीच जो बच्चे हैं, उनका टीकाकरण अभियान सोमवार (3 जनवरी, 2022) से शुरू की जाएगी। इससे स्कूल-कॉलेजों में जा रहे बच्चों और उनके माता-पिता की चिंता दूर होगी।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार (25 दिसंबर, 2021) को रात 9:50 बजे राष्ट्र को सम्बोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि वैक्सीन निर्माण पर काफी पहले से ही काम शुरू कर दिया गया था और डिस्ट्रीब्यूशन और ट्रेनिंग से लेकर आईटी सपोर्ट सिस्टम तक पर काम किया गया। उन्होंने कहा कि इस तैयारी का ही नतीजा था कि 16 जनवरी, 2021 से भारत ने अपने नागरिकों को वैक्सीन देना शुरू कर दिया। उन्होंने बताया कि भारत अब 141 करोड़ वैक्सीन डोज के लक्ष्य को पार कर चुका है।

उन्होंने जानकारी दी कि भारत की व्यस्क जनसंख्या में से 61% को दोनों डोज लग चुकी है और 90% को दोनों डोज लगाई जा चुकी है। उन्होंने कहा कि हमने दुनिया का सबसे बड़ा और कठिन भौगोलिक स्थितियों के बीच इतना सुरक्षित टीकाकरण अभियान चलाया। उन्होंने पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण राज्यों (गोवा, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश) में शत प्रतिशत वैक्सीनेशन डोज के लिए उनकी पीठ ठोकी और कहा कि दूर-दराज के गाँवों से ऐसी ख़बरें आती हैं तो मन को संतुष्टि मिलती है।

उन्होंने कहा कि जल्द ही हमारे देश में नजल वैक्सीन और दुनिया की पहली डीएनए वैक्सीन भी शुरू होगी। उन्होंने कहा कि ये सब वैज्ञानिक पद्धति पर आधारित होंगी। प्रधानमंत्री ने बताया कि वैक्सीन की पहली डोज किसे दी जाए से लेकर सारी चीजें वैज्ञानिकों की सलाह पर काम की गई। उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन वेरिएंट को लेकर भी हमारे वैज्ञानिक अध्ययन में लगे हैं। उन्होंने कहा कि आज पसहहले 11 महीने के टीकाकरण के अनुभवों को लेकर निर्णय लिए गए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा, “15 वर्ष से 18 वर्ष तक की आयु के बीच जो बच्चे हैं, उनका टीकाकरण अभियान सोमवार (3 जनवरी, 2022) से शुरू की जाएगी। इससे स्कूल-कॉलेजों में जा रहे बच्चों और उनके माता-पिता की चिंता दूर होगी। जो कोरोना वॉरियर्स हैं (स्वास्थ्यकर्मी और फ्रंटलाइन वर्कर्स) हैं, उन्हें वैक्सीन की ‘प्रिकॉशन डोज’ दी जाएगी, जिसकी शुरुआत सोमवार (10 जनवरी, 2022) से होगी। जो गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं, उन्हें प्रिकॉशन लेना सलाह योग्य हैं। “

उन्होंने बताया कि 60 वर्ष से अधिक उम्र वाले बीमार लोगों को डॉक्टरों की सलाह पर वैक्सीन के प्रिकॉशन के डोज उपलब्ध होगा, जो 10 जनवरी, 2022 से ही शुरू होगा। उन्होंने लोगों को डर और भ्रम से बचने की सलाह देते हुए कहा कि आगे हमें इस वैक्सीनेशन अभियान को और गति देना है, क्योंकि हमारे प्रयास इस देश को मजबूत करेंगे। उन्होंने लोगों को सावधानी से जुड़े सलाह न भूलने की सलाह देते हुए कोरोना वायरस के म्यूटेशन की याद दिलाई।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -